Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

पूर्व केद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया की नजर में राहुल ने कुर्सी को ठुकराकर सच्चाई और न्याय का साथ दिया.. केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहां दलबदल कर फिर से जनादेश लेना अपराध नहीं गर्व की बात.. लक्ष्मणकुटी तथा अभाना में सभा को संबोधित कर दिल्ली वापिस लौटे सिंधिया..

लक्ष्मणकुटी-अभाना में भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में सभा 

दमोह। विधानसभा उपचुनाव प्रचार की समापन बेला में राज्यसभा सदस्य और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया और केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने लक्ष्मणकुटी तथा अभाना में भाजपा प्रत्याशी राहुल सिंह के समर्थन में जनसभा को संबोधित किया। इसके बाद श्री सिंधिया जबलपुर के रास्ते विमान से दिल्ली उड़े गए।

राहुल ने कुर्सी को ठुकराकर सत्य का साथ दिया-सिंधिया

लक्ष्मण कुटी में आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए राज्यसभा सदस्य और पूर्व केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कांग्रेस से स्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने वाले वाले विधायकों तथा मंत्रियों के कदम को सही ठहराया। उन्होंने राहुलसिंह को भी सत्य और न्याय के मार्ग पर चलने वाला बताते हुए कहां कि मेडिकल कालेज के लिए राहुल ने कुर्सी को ठुकराकर सच्चाई और न्याय का साथ दिया है। अतः जनता उनकों फिर से भारी मतों से जिताकर विधायक बनाए। 


इस मौके पर श्री सिंधिया ने कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री द्वय कमलनाथ व दिग्विजय सिंह की जोड़ी का मजाक उड़ाते हुए कहां कि कांग्रेस के नेता इस उपचुनाव में सौदेबाजी की बात करके जनता को भ्रमित कर रहे है। जबकि कांग्रेस की कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की इस जोड़ी ने मध्यप्रदेश को लूट प्रदेश बना दिया था। प्रदेश में अगर सबसे बड़ा कोई सौदेबाज है तो वह कमलनाथ और दिग्विजय सिंह की जोड़ी है। 15 महीने जब प्रदेश में कांग्रेस की सत्ता रही तो इन्होनें मध्यप्रदेश के तबाह और बर्बाद कर लूटने का काम किया था। और आज वही जोड़ी दमोह की जनता के बीच झूठ बोलने का काम कर रही है। 

दलबदल कर फिर से जनादेश लेना अपराध नहीं गर्व-पटेल

इसके पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल ने कहां कि आज के समय में कोई सरपंची नहीं छोड़ता ऐसे में राहुल ने मेडिकल कालेज के लिए विधायक पद से स्तीफा देकर साहस का कार्य किया है। उन्होंने कहा कि दलबदल करके फिर से जनादेश प्राप्त करना उनकी नजर में अपराध नहीं बल्कि गर्व की बात है।

 उन्होंनें कहा कि इस उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी विकास और विचार के साथ मैदान में है। लेकिन कांग्रेस इस चुनाव में विकास और विचार की चर्चा नहीं करेगी। वह सिर्फ छल-कपट और प्रपंच करेगी। जातियों में जहर घोलने का काम होगा, लेकिन हमें इस चुनाव को विकास की कसौटी पर कसने की जरूरत है। भाजपा की सरकार ने जो विकास किया है और उसका लाभ उसे मिलना चाहिए। उन्होनें कहा कि यह चुनाव राहुल सिंह लोधी नहीं लड़ रहे है, बल्कि यह चुनाव तो भारतीय जनता पार्टी लड़ रही है। उन्होंने कहा कि श्री ज्योतिरादित्य सिंधिया अगर फैसला नहीं करते तो आज मध्यप्रदेश में कांग्रेस की सरकार होती और जनता की वही हालत होती तो 15 महीने के शासन में हुई थी।

कांग्रेस ने हमेशा वादा खिलाफी की- भूपेंद्रसिंह

सभा को संबोधित करते हुए विधानसभा उपचुनाव प्रभारी मंत्री भूपेन्द्र सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने ज्योतिरादित्य सिंधिया के नाम पर विधानसभा चुनाव लड़ा, लेकिन जब मुख्यमंत्री बनाने की बात आई तो कांग्रेस विधायकों और कार्यकर्ताओं की मांग को दरकिनार करते हुए कमलनाथ को मुख्यमंत्री बनाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया जी के साथ धोखा किया। 

उन्होनें कहा कि सिंधिया जी ने कांग्रेस के इस निर्णय को भी स्वीकार किया। लेकिन जब उन्होनें कमलनाथ जी से जनता से किये वादे पूरे करने की बात कही तो कांग्रेस द्वारा लगातार सिंधिया जी का अपमान किया गया। उन्होनें कहा कि सिंधिया जी ने कर्ज माफी को लेकर सड़क पर उतरने की बात की तो, कमलनाथ जी ने उसे गंभीरता से नहीं लिया और परिणाम स्वरूप कमलनाथ सरकार सड़क पर आ गई। सभा को मंत्री रामखेलावन पटेल, पार्टी प्रत्याशी श्री राहुल सिंह लोधी एवं जिला अध्यक्ष श्री प्रीतम सिंह लोधी ने भी संबोधित किया।


इस अवसर पर मंत्री डॉ. प्रभुराम चैधरी, प्रधुमन सिंह तोमर, पूर्व मंत्री  रामकृष्ण कुसमरिया, किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री दर्शन सिंह चैधरी, पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री भगत सिंह कुशवाह, युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष  वैभव पंवार, विधायक प्रदीप पटेल, शैलेंद्र जैन, पीएल तंतुवाय, पूर्व विधायक लखन पटेल, श्रीमती सोनाबाई अहिरवार, श्री शिवचरण पटेल, श्री सुखनंदन पटेल एवं श्री घासीराम पटेल मंचासीन रहे। 

Post a Comment

0 Comments