Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

युवा नेता अभिषेक भार्गव का दमोह में जगह जगह आत्मीय स्वागत.. सिद्धार्थ मलैया के साथ मंच साझा करके किया कोरोना यौद्धाओ का सम्मान.. समारोह में युवा जोश के साथ अन्य नेताओं की मौजूदगी आगामी उप चुनाव के नए राजनैतिक समीकरणों का संकेत दे गईं..

 युवा नेता अभिषेक भार्गव का उत्साह के साथ आत्मीय स्वागत

दमोह। विधानसभा उपचुनाव की घोषणा के पूर्व नित्य नए राजनैतिक समीकरण बनते उभरते नजर आ रहे हैं। पिछले दिनों मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बीडी शर्मा द्वारा राहुल सिंह को भाजपा टिकट दिए जाने का एलान कर दिए जाने के बाद पूर्व विधायक और पूर्व मंत्री जयंत मलैया के पास खोने को कुछ भी नहीं बचा वही उनके पुत्र सिद्धार्थ मलैया ने अपनी टीम के साथ सामाजिक सरोकार से जुड़े कार्यों में सक्रियता बढ़ाकर यह संकेत दे दिए हैं कि फिलहाल वह घर बैठने वाले नहीं हैं।

सिद्धार्थ मलैया की आशीर्वाद यात्रा और मीडिया भोज के बाद मंगलवार को शहर के मानस भवन में हनुमत सेवा समिति द्वारा आयोजित सम्मान समारोह अनेक कारणों से यादगार बनता नजर आया। कार्यक्रम में शामिल होने गढ़ाकोटा से दमोह पहुंचे युवा भाजपा नेता अभिषेक दीपू भार्गव का जगह जगह जोरदार स्वागत किया गया । वही मानस भवन में आयोजित सम्मान समारोह में अभिषेक भार्गव के साथ पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के बेटे सिद्धार्थ मलैया,  दमोह नगर पालिका के पूर्व अध्यक्ष  कांग्रेसी नेता मनु मिश्रा, अधिवक्ता संघ के पूर्व अध्यक्ष कमलेश भारद्वाज, जिला पंचायत सदस्य राघवेंद्र सिंह ऋषि लोधी सहित प्रमुख समाज सेवी जनों की मौजूदगी रही। 
इस दौरान भाषण बाजी के साथ स्वास्थ्य विभाग पुलिस विभाग के अधिकारी कर्मचारियों के अलावा सामाजिक संस्थाओं के कोरोना यौद्धाओ का सम्मान किया गया। 3 घंटे से अधिक चली आयोजन में सहायक लोगों की उपस्थिति रही। बाद में सर्किट हाउस में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में युवा नेता दीपू भार्गव ने आयोजन को सामाजिक कार्यक्रम बताते हुए जहां राजनीतिक चश्मे से नहीं देखने की अपील की वही लोगों से कोरोना से बचाव हेतु अभी भी सावधानी बरतने तथा कोरोना के टीके को लेकर होने वाले दुष्प्रचार को गलत बताते हुए सावधान रहने की अपील की।

कुल मिलाकर दीपू भार्गव के दमोह आगमन पर उनका आत्मीय अभिनंदन स्वागत करने में युवाओं की टीम ने जैसा उत्साह दिखाया वह चौंकाने वाला था क्योंकि अभिषेक पहले भी दमोह आते रहे हैं। लेकिन जैसा स्वागत और सत्कार इस बार हुआ वह किसी मंत्री के स्वागत सत्कार से कम नहीं था। इस दौरान टीम सिद्धार्थ के अलावा भाजपा व अन्य दलों के युवाओ विभिन्न सामाजिक समाजसेवी संगठनों तथा व्यापारी वर्ग द्वारा भी स्वागत करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी गई। 

जिससे इस बात के साफ संकेत मिलते नजर आए कि भले ही राहुल सिंह के लिए भाजपा टिकट का ऐलान हो चुका हो लेकिन सामाजिक सरोकार के कार्यो के मामले में दीपू-छौना की टीम को जिस तरह से युवाओं का समर्थन हासिल है उसे देख कर इन को नजरअंदाज करना किसी के भी लिए आसान नहीं होगा..

Post a Comment

0 Comments