Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

जबलपुर सेंट्रल जेल में अटैच एन एस राणा का अटैचमेंट निरस्त, वापिस दमोह जेल जाने के आदेश.. मप्र की विभिन्न जेलों में अटैच 33 अधीक्षको को मूल पदस्थापना वाली जेल भेजा गया.. इधर चार अधिक्षक दूसरे जेल में किए गए अटैच..

 दमोह से जबलपुर अटैच एनएस राणा का अटैचमेंट निरस्त..

भोपाल। जेल मुख्यालय भोपाल द्वारा जारी दो अलग-अलग आदेशों में 33 जेल अधिकारियों के अटैचमेंट खत्म किए जाने तथा चार अधिकारियों को दूसरी जेलों में अटैच किया गया है।  जिससे अब तीन जिला जेल अधीक्षक, 9 उप जेल अधीक्षक तथा 21 सहायक जेल अधीक्षक को तत्काल प्रभाव से अपने मूल पदस्थापना वाली जेल में वापस जाकर सेवाएं देना होगी। इधर एक जेल अधीक्षक तथा तीन सहायक जेल अधीक्षक को दूसरी जेलों में अटैच किए जाने के आदेश भी जारी किए गए हैं

महानिदेशक जेल एवं सुधारात्मक सेवाएं मध्यप्रदेश भोपाल द्वारा 3 मार्च 20 21 को जारी आदेश मैं 33 जेल अधिकारियों के अटैचमेंट खत्म कर देने के आदेश दिए गए है। जिससे इन अधिकारियों को वापस अपनी मूल स्थापना वाली जेल में सेवा देने के लिए लौटना पड़ेगा। जिन तीन जेल अधीक्षक का अटैच मेंट खत्म किया गया है उनमें दिनेश इमले को भोपाल से पन्ना, कुलवंत सिंह रीवा से सीधी तथा प्रशांत चतुर्वेदी को सिंगरौली से खण्डवा जेल वापिस जाने के आदेश जारी किए गए है। 

इसी तरह उप जेल अधीक्षक कृष्ण कुमार तिवारी को भोपाल से रायसेन, जवाहर मंडलोई को रायसेन से राजगढ़, योगेंद्र पवार को राजगढ़ से बैतूल, लवसिंह को डिंडोरी से खरगोन, संतोष गणेशे को भोपाल से डिंडोरी, सुजीत खरे को पन्ना से कटनी, इंद्रदेव खरे को रीवा से बैढ़न, प्रभात कुमार को सागर से ग्वालियर और एन एस राणा को जबलपुर से अटैचमेंट खत्म करते हुए वापस दमोह जेल भेजने के आदेश दिए गए हैं।

 इसी तरह 21 सहायक जेल अधीक्षकों को उनके मूल जेल में सेवाएं देने के लिए अटैचमेंट खत्म करने के आदेश जारी किए गए है। जिनमे जिला जेल अधीक्षक आरती बामनिया नीमच से झाबुआ सहायक जेल अधीक्षक मनोज चौरसिया को धार से महू दूसरी अनुभव चौधरी को सागर से बेगमगंज तथा दिनेश कुमार दादी को इंदौर से सुसनेर सब जेल में अटैच किया गया है।

Post a comment

0 Comments