Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

सूर्य के उत्तरायण होते ही राहुल के सितारे चमके.. कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिलने के बाद 17 को दमोह आगमन की तैयारी.. इसके पूर्व मेडिकल कॉलेज हेतु जमीन तलाशने भोपाल से आए आदेश.. इधर एक अखबार की खबर से मलैया समर्थक हो रहे गदगद..

सूर्य के उत्तरायण होते ही राहुल के सितारे चमके..

भोपाल/दमोह। सूर्य के उत्तरायण होने के साथ दमोह विधायक रहे राहुल सिंह के राजयोग ने एक बार फिर उनके चचेरे भाई के समकक्ष ला दिया है। ढाई महीने पूर्व विधायकी तथा कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने का फल अब जाकर  मिलना शरू हुआ है। राहुल को मप्र वेयर हाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन का अध्यक्ष बना दिया गया है।

राहुल सिंह को कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिए जाने के साथ आज उन्होंने अपना कार्यभार भी ग्रहण कर लिया है। इस अवसर पर कॉरपोरेशन के एमडी तरुण पिथोड़े ने कार्य भार ग्रहण करवा कर गुलदस्ता भेंट कर के स्वागत करते  हुए बधाईया दी। इधर कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होने की बाद से दमोह नहीं लौटे राहुल सिंह के वेयर हाउस कारपोरेशन के अध्यक्ष बन जाने तथा कैबिनेट मंत्री का दर्जा मिल जाने के बाद अब 17 जनवरी को उनके दमोह के आगमन की तैयारी तेज हो गई हैं। 

मेडिकल कॉलेज हेतु जमीन तलाशने के लिए आदेश जारी..
राहुल के दमोह आगमन के पूर्व दमोह में मेडिकल कॉलेज के लिए जगह तलाशने का आदेश भी कलेक्टर तक पहुंच गया है।  इसके बाद 15 जनवरी को ही दमोह कलेक्टर तरुण राठी ने तहसीलदार को पत्र लिखकर दमोह नगर के 10 किलोमीटर एरिया में मेडिकल कॉलेज हेतु 25 एकड़ जमीन तलाश कर उसके फोटोग्राफ्स खसरा नक्शा आदि शीघ्र प्रेषित करने को कहा है। आनन-फानन में जारी किए गए इस पत्र में जल्दबाजी में 15 जनवरी 2021 की जगह 2020 जहां टाइप नजर आ रहा है वही इस पत्र के सोशल मीडिया पर वायरल होना भी आश्चर्य जनक बना हुआ है।
उल्लेखनीय है कि कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल होते हैं राहुल सिंह ने दमोह में कमलनाथ सरकार के दौरान मेडिकल कॉलेज के नहीं खोले जाने का दुखड़ा सबसे पहले सुनाया था और इसी को लेकर कांग्रेश छोड़ने और भाजपा में शामिल होने की बात कही थी हवाई मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी राहुल की भाजपा में आते ही दमोह में मेडिकल कॉलेज खोले जाने का खुला आश्वासन दिया था। अब जबकि राहुल की  निगम अध्यक्ष पद पर ताजपोशी हो चुकी है, मंत्री का दर्जा भी मिल चुका है और निकट भविष्य में उप चुनाव की घोषणा होना है ऐसे में दमोह में मेडिकल कालेज के भूमि पूजन के लिए जमीन की तलाश शुरू करने के निर्देश दिए जा चुके हैं।
एक अखबार में छपी खबर से मलैया समर्थक भी गदगद..
राहुल सिंह को मध्यप्रदेश वेयरहाउसिंग एंड लॉजिस्टिक्स कॉरपोरेशन का अध्यक्ष बनाए जाने के साथ दमोह उपचुनाव में भाजपा प्रत्याशी कौन होगा इसको लेकर अपनी ढपली अपना राग जैसे हालात लोगों के बीच बनते नजर आने लगे है। हालांकि सूत्रों का कहना है कि भाजपा में शामिल होने के समय हुए एग्रीमेंट के मुताबिक राहुल को ही भाजपा टिकट दी जाएगी लेकिन उनको कैबिनेट मंत्री का दर्जा दिए जाने के साथ पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया को भाजपा टिकट की चर्चाएं भी सामने आने लगी है। भोपाल के एक अखबार में इसी आशय की एक खबर प्रकाशित होने के बाद मलैया समर्थक आज बेहद गदगद नजर आए यहां तक की सोशल मीडिया पर उनके द्वारा खबर की कतरन को जमकर शेयर किया गया जबकि कुछ लोग इसे पैड न्यूज करार देने से भी नहीं चूक रहे है। 
कल तक विरोध करने वाले भी स्वागत की तैयारी में जुटे..कल तक जो लोग विरोध में नारे लगाते थे, प्रदर्शन करते थे चिल्लाते और खुलकर आरोप लगाते थे वही अब 17 तारीख को पलक पावडे बिछा कर जयकारे लगाते स्वागत को आतुर नजर आएंगे। शायद इसी को राजनीति का उलटफेर कहते हैं.. कुछ पुरानी स्मृतियों के वीडियो और खबर की अपडेट के साथ जल्द मिलते हैं.. पिक्चर अभी बाकी है अटल राजेंद्र जैन.. 

Post a Comment

0 Comments