Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

ठंड से बचाव हेतु दूसरे के खेत से बिना पूछे पियार उठाना महंगा पड़ा.. तेजगढ़ क्षेत्र में दबंग किसान ने खेत मे ही ले ली दूसरे किसान की जान.. इधर तेंदूखेड़ा क्षेत्र में टीवी से परेशान युवा किसान ने.. फांसी लगाकर जीवन लीला समाप्त कर ली..

 मामूली बात पर एक किसान ने ले ली दूसरे की जान..

दमोह। केंद्र द्वारा पारित 3 नए कृषि कानूनों के विरोध में एक तरफ जहां पंजाब हरियाणा सहित देश भर के किसान कड़ाके की ठंड में दिल्ली बॉर्डर पर डेरा डाले आंदोलन रत हैं वही बुंदेलखंड के किसान मामूली बात पर जान देने लेने पर आमादा नजर आ रहे हैं। पिछले दिनों तेंदूखेड़ा के बेलवाड़ा क्षेत्र में दो किसानों द्वारा फांसी लगाकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर लेने का मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि तेंदूखेड़ा क्षेत्र में एक युवा किसान के बीमारी से तंग आकर फांसी लगा लेने तथा तेजगढ़ क्षेत्र में मामूली बात पर से एक किसान द्वारा मिट्टी के ढेले से हमला करके दूसरे की जान ले लेने का घटनाक्रम सामने आया। सोमवार को पोस्टमार्टम करा कर पुलिस दोनों मामलों की जांच में जुट गई है।

दमोह जिले के तेजगढ़ थाना क्षेत्र के सुनवाही उमरिया में मामूली बात पर से एक किसान की दूसरे किसान द्वारा अपने साथी के साथ मिलकर मिट्टी का ढेला मार के हत्या कर दिए जाने का दुखद घटनाक्रम सामने आया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सोमवार शाम सुनवाही उमरिया निवासी किसान साहब झारिया 55 वर्ष अपने घर से चने की भाजी लेने खेत गया था। जहा से लौटते समय वह हीरा सिंह लोधी के खेत में पड़ी धान की पियार का गट्ठर बांधकर बिना पूंछे घर ले जाने लगा। इसी दौरान वहां पहुंचे हीरा सिंह लोधी पतलोनी तथा बल्ली आदिवासी ने गुस्से में साहब झरिया के साथ गाली गलौज करते हुए उसके ऊपर खेत में पड़े मिट्टी के टुकड़ों से हमला कर दिया। जिससे वह खेत में ही अचेत होकर गिर पड़ा। 

बाद में शाम 7 बजे तक साहब के घर नहीं पहुंचने पर परिजन उसकी तलाश में खेत पर पहुंचे। जहां एक अन्य युवक ने साहब झारिया के साथ हुई घटना की जानकारी उसके बेटे बेड़ी आदिवासी को दी। परिजनों द्वारा तलाश करने पर हीरा सिंह के खेत में अचेत मिले साहब झारिया को डॉक्टरी जांच कराने पर मृत घोषित कर दिया गया। तेजगढ़ थाना पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है। वही तेंदूखेड़ा में पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया है। इधर दोनों आरोपियों के पकड़े जाने की खबर है लेकिन पुलिस ने अधिकृत तौर पर पुष्टि नहीं की है।
टीवी की बीमारी से परेशान युवा किसान ने फांसी लगाई

तेन्दूखेड़ा थाना क्षेत्र के जामुनखेड़ा गांव में सोमवार सुबह युवा किसान चतुर लोधी 38 वर्ष का शव उसके ही घर में फांसी के फंदे पर झूलता मिला। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और पंचनामा कार्रवाई करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। जा रहा है कि चतुर सिंह लंबे समय से टीवी की बीमारी से परेशान था तथा प्रथम दृष्टया यही माना जा रहा है उसने बीमारी से तंग आकर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली। मामले में पुलिस जांच जारी है.. विशाल रजक की रिपोर्ट

Post a Comment

0 Comments