Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

टीकमगढ़ के एक कद्दावर कांग्रेस नेता को भाजपा में लाने के बाद.. CM शिवराज हेलीकॉप्टर से दमोह आएंगे.. कांग्रेस विधायक राहुलसिंह की भाजपा में एंट्री के बाद.. पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया के निवास पर शोक संवेदना जताने पहुचेगे शिवराज..

 मुख्यमंत्री शिवराज सिंह हेलीकॉप्टर से दमोह आएंगे.. 

भोपाल/ दमोह/ टीकमगढ़। मध्यप्रदेश में विधानसभा के उपचुनाव का प्रचार थमने के बाद भाजपा तथा कांग्रेस के प्रमुख नेताओ के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं का पूरा ध्यान 3 नवंबर को होने वाले उप चुनाव के मतदान पर टिका हुआ है वही बीच के एक दिन के खाली समय का उपयोग करने के लिए अनेक नेता गण पेंडिंग कार्यों को निपटाने में लगे हुए। इसी कड़ी में प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह सोमवार 2 नवंबर को टीकमगढ़ तथा दमोह जिले के अल्प प्रवास पर पहुंच रहे हैं।

 प्राप्त जानकारी के अनुसार भोपाल से स्टेट हैंगर के  हेली कॉप्टर से मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान दोपहर 12 बजे टीकमगढ़ जिले मैं पहुंचेंगे जहां सिमराखुर्द मैं स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होंगे। सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार इस दौरान खरगापुर पलेरा जतारा क्षेत्र के एक कद्दावर कांग्रेस नेता मुख्यमंत्री श्री चौहान के समक्ष भाजपा में शामिल हो सकते हैं जिसकी तैयारियां भी लगभग पूरी बताई जा रही है। टीकमगढ़ से दोपहर 2 बजे के बाद मुख्यमंत्री चौहान का हेलीकॉप्टर दमोह जिले के लिए रवाना होगा। जहा 2.45 बजे होमगार्ड हेलीपैड पर उनकी अगवानी दमोह के प्रशासनिक अधिकारी व भाजपा नेतागण करेंगे। 

हेलीपैड से मुख्यमंत्री श्री चौहान पूर्व वित्त मंत्री श्री जयंत मलैया के निवास पर पहुंचेंगे जहां वह बाबू जी स्वर्गीय विजय कुमार जी मलैया के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करेंगे। इस दौरान वह पार्टी नेताओं से विधायक राहुल सिंह के कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा में शामिल होने के बाद के हालात को लेकर फीडबैक भी लेने के साथ आने वाले 6 महीनों में उपचुनाव को लेकर भी चर्चा कर सकते हैं। उल्लेखनीय की भाजपा में शामिल होने के करीब 1 सप्ताह बाद भी जहां पूर्व विधायक राहुल सिंह ने अपने निर्वाचन क्षेत्र दमोह की तरफ रुख नहीं किया है वहीं  उनका उपयोग मलहरा तथा सुरखी उपचुनाव करने की हिम्मत भी भाजपा नेता नहीं जुटा पाए ऐसे में अब माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री श्री चौहान स्वयं दमोह में श्री मलैया के आवास पर शोध संवेदना जताने के साथ स्थानीय वरिष्ठ नेताओं से चर्चा करके आगामी उप चुनाव की रणनीति को लेकर दिशा निर्देश देंगे। 

 गौरतलब हो कि पूर्व मैं भी मुख्यमंत्री श्री चैहान को श्री मलैया के निवास पर शोक संवेदना व्यक्त करने का कार्यक्रम तय हो गया था लेकिन ऐन मौके पर कार्यक्रम निरस्त हो जाने से वह दमोह नहीं पहुंच पाए थे। बाद में उप चुनाव प्रचार मैं वह व्यस्त हो गए थे जिस से फ्री होने के बाद अब जाकर उनका दमोह आगमन कार्यक्रम बना है।

 15 दिन में दूसरी बार मुख्यमंत्री का आगमन निरस्त.. 

  देर रात मुख्यमंत्री का दमोह आगमन का कार्यक्रम निरस्त कर दिए जाने की जानकारी भी सामने आई है। जिससे प्रशासनिक अधिकारी राहत की सांस लेते नजर आए हैं । पन्द्रह दिन में दूसरा मौका है जब मुख्यमंत्री दमोह आते-आते रह गए अधिकारियों को विभिन्न हालातों को लेकर  मुख्यमंत्री तक पहुंचने वाली  शिकायतों के मामले में  फिलहाल जवाब तलब होने से राहत मिलती नजर आ रही है।

Post a comment

0 Comments