Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

गांजा तस्करों को गिरफ्त में लेने पन्ना जिले की बॉर्डर पर पहुंची कोतवाली पुलिस की टीम पर.. आरोपी के परिजनों व महिलाओं ने पत्थरबाजी कर हमला किया.. उड़ीसा के तीन तस्करों से तीन किलो गांजा, 65 हजार नगद तथा कार जप्त.. मुख्य आरोपी फरार

 उड़ीसा के 3 तस्करों से गांजा, 65 हजार नगद, कार जप्त.. 

दमोह। गांजा तस्करों का पीछा करके हटा के पास पकड़ने के बाद पन्ना जिले की बॉर्डर पर खेरी गांव पहुंच गई कोतवाली पुलिस की टीम को आरोपियों के परिवार के सदस्यों व महिलाओं की बदसलूकी पत्थर बाजी हमले का सामना करना पड़ा। यहां तक की दो पुलिसकर्मियों को बंधक बनाने की भी कोशिश की गई। बाद में अन्य थानो से पहुचे अतिरिक्त बल ने हालात पर काबू पाया परंतु अंधेरे का फायदा उठाकर मुख्य आरोपी भागने में सफल हो गया। फिलहाल पुलिस को उड़ीसा के तीन तस्करों को गिरफ्त में लेने के साथ 3 किलो गांजा 65 हजार नगद तथा कार जप्त करने में सफलता हासिल हुई है। जबकि मुख्य आरोपी की पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार कोतवाली पुलिस की चर्चित टीम को सूचना मिली थी कि गैसावाद क्षेत्र में गांजे की खरीद फरोख्त करने वाले को गांजा सप्लाई करने के लिए उड़ीसा की गांजा तस्करों की एक टीम दमोह होकर निकल रही है। जिस पर बीती रात पलन्दी चौराहा क्षेत्र पर डटे चार पुलिसकर्मियों ने वहां से निकली आरोपियों की कार का पीछा करते हुए उनको पकड़ लिया। बाद में उनकी निशानदेही पर पुलिस टीम गांजे की खरीद-फरोख्त करने वाले श्याम पटेल को पकड़ने के लिए गैसाबाद थानांतर्गत ग्राम खैरा खेरी पहुंची।

 

  जहा पुलिस टीम को देखकर आरोपियों तथा उनके परिवार की महिलाओं सहित दर्जन भर से अधिक लोगों पुलिसकर्मियों पर पत्थरों से हमला कर दिया तथा दो पुलिसकर्मियों को बंधक बनाने की कोशिश की। बाद में वहां से भागे दो पुलिस कर्मियों ने एसपी हेमंत चैहान को घटना की सूचना दी। जिस पर एसपी ने देर रात दमोह, हटा, मड़ियादो, गैसाबाद से पुलिस बल को खैरा ग्राम रवाना किया। लेकिन तब मुख्य आरोपी श्याम पटेल व उसके भाई अंधेरा का फायदा उठाकर भागने में सफल हो गए। 

मामले में गैसावाद थाना प्रभारी संदीप दीक्षित ने बताया कि उपरोक्त घटनाक्रम को लेकर गैसावाद थाने में दो एफआईआर दर्ज की गई है। संबलपुर उड़ीसा निवासी गांजा तस्कर सोमनाथ पटनायक, लीटू साहू तथा गोपरंजन पटनायक के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट तहत व अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया गया है। जबकि कोतवाली दमोह के प्रधान आरक्षक राजेन्द्र मिश्रा की शिकायत पर खैरा गांव निवासी शासकीय कार्य में बाधा व पुलिस पर हमले के आरोपी गांजा बिक्रेता श्याम लाल पटेल उसके 6 भाईयों व परिवार की महिलाओं के खिलाफ आईपीसी की धारा 353, 294, 506, एससीएसटी एवं एनडीपीएस एक्ट के तहत प्रकरण दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है। शनिवार को दिन भर पुलिस बल खैरा और आसपास के क्षेत्रों में श्यामू पटेल की तलाश में लगा हुआ था। लेकिन वह पुलिस के हाथ नहीं लग सका।


Post a comment

0 Comments