Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

चोरी के शक में नौकर से मारपीट करना महंगा पड़ा.. बेरहमी से पिटाई के बाद राजीनामा कर अस्पताल में भर्ती कराया.. इलाज के दौरान मौत के बाद कोतवाली में प्लाई हार्डवेयर बिक्रेता पर हत्या का मामला दर्ज.. दो गिरफ्तार एक फरार..

   इलाज के दौरान मौत के बाद हत्या का मामला दर्ज..

दमोह। दुकान में चोरी के शक में नौकर (मिस्त्री) के साथ मारपीट करना एक व्यापारी के लिए महंगा पड़ गया है। मारपीट के बाद गंभीर रूप से घायल हुए नौकर की इलाज के दौरान जिला अस्पताल में मौत हो गई। जिसके बाद पुलिस ने दुकान मालिक उसके बेटे और भतीजे पर हत्या का मामला दर्ज करके दो लोगों को गिरफ्तार भी कर लिया है। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार मूल रूप से लुहारी गांव का निवासी तथा वर्तमान में जटाशंकर कॉलोनी में निवासरत संतोष विश्वकर्मा सिंधी कैंप निवासी पप्पू सिंधी की सरस्वती स्कूल के सामने स्थित प्लाई हार्डवेयर की दुकान में मिस्त्री कारीगिरी कार्य करता था। करीब 15 दिन पूर्व दुकान में रखे साढ़े चार लाख रुपए आश्चर्यजनक ढंग से गायब हो गए थे। वहीं उसके बाद से संतोष ने दुकान पर जाना बंद कर दिया था। जिसके बाद दुकान में लगे सीसीटीवी फुटेज को खंगाले जाने पर संतोष विश्वकर्मा पर चोरी का शक होने पर पप्पू सिंधी ने उसे मोबाइल करके दुकान पर बुलाया। तथा पप्पू सिंधी उसके बेटे और भतीजे ने उसको बंधक बनाकर बेरहमी के साथ मारपीट करते हुए चोरी के बारे में पूछताछ की। लेकिन संतोष ने जब चोरी करना कबूल नहीं किया तथा उसकी हालत बिगड़़ने लगी तो कल शाम पप्पू सिंधी व उसका भतीजा संतोष को लेकर कोतवाली पहुच गए। जहां उनके बीच राजीनामा हो जाने पर संतोष को जिला अस्पताल में भर्ती करा दिया गया। जहां इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई।

इस पूरे घटनाक्रम में खास बात यह है कि  कोतवाली  पुलिस तथा परिजनों को चोरी के आरोप तथा मारपीट के इस घटनाक्रम की कल ही जानकारी लग गई थी लेकिन कोतवाली पुलिस ने मामले को संज्ञान में लेकर कार्रवााई करना जरूरी नहीं समझा। वहीं  कोतवाली पुलिस के सामने राजीनामा हो जाने पर न दुकानदार ने चोरी की शिकायत दर्ज कराई और ना नौकर के परिजनों ने मारपीट की शिकायत की। यहां तक की संतोष की पत्नी ने उसे अस्पताल में भर्ती कराने के दौरान चोटों की वजह एक्सीडेंट बताई थी। लेकिन आज उसकी मौत की बात दर्ज कराई गई है।

 कोतवाली में संतोष की पत्नि व भाई की शिकायत पर पप्पू सिंधी, उसके पुत्र गौरव व भतीजे बसु सिंघी के खिलाफ हत्या के अपराध में धारा 302 एवं 34 का मामला दर्ज कर लिया है। टीआई  एचआर पांडे का कहना है कि कल दोनों पक्षों में राजीनामा हो गया था। जिस वजह से किसी ने कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई थी। वही आज हत्या का मामला दर्ज करके दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

Post a comment

1 Comments