Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

केविनेट मंत्री गोपाल भार्गव के क्षेत्र में.. कर्ज में डूबे सोयाबीन की फसल खराब होने से परेशान.. बीमार किसान ने पेड़ पर फांसी लगाकर जीवन लीला समाप्त की.. गढ़ाकोटा थाना पुलिस घटना की जांच में जुटी..

 कर्ज में डूबे बीमार किसान ने फांसी लगाकर जान दी

सागर। मध्य प्रदेश के लोक निर्माण मंत्री श्री गोपाल भार्गव के क्षेत्र में एक किसान का शव पेड़ पर फांसी के फंदे से झूलते हुए मिलने का घटनाक्रम सामने आया है। किसान पर दो लाख रुपए का कर्ज होने, सोयाबीन की फसल खराब हो जाने तथा श्वास की बीमारी से पीड़ित होने जैसी जानकारी सामने आई है।और यही सब उसकी खुदकुशी की वजह बताई जा रही है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए जांच शुरू कर दी है।

सागर जिला मुख्यालय से करीब 45 किलोमीटर दूर गढ़ाकोटा थाना अंतर्गत बाबूपुरा गांव के निवासी बुजुर्ग किसान गोले लीधी पिता मानसिंह लोधी 61 का शव  सोमवार की सुबह धवई वाले खेत में फांसी पर झूलते मिलने से हड़कंप के हालात बन गए। घटना की सूचना लगने पर पुलिस ने मौके पर पहुच पंचनामा करते हुए शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया। साथ ही मर्ग कायम कर मामला जांच में लिया।  

मृतक किसान के दोनों बेटों के अनुसार कुछ समय पहले छोटे बेटे प्रेम सिंह के विवाह के लिए दो लाख रुपए  का कर्ज अपनी दो एकड़ जमीन के बदले में उठाया था। तब सोचा था कि सोयाबीन की फसल से फायदा होगा तो रकम जमा करके जमीन छुड़ा लेंगे। लेकिन इस बार सोयाबीन की फसल पर मौसम की मार पड़ी और इसी मार में किसान के कर्ज चुकाने की उम्मीद भी टूट गई। पिता के लिए कुछ वर्षों से सांस लेने की समस्या थी और उनका इलाज भी चल रहा था। मृतक के परिजनों के मुताबिक आत्महत्या के लिए किसान द्वारा लिया गया कर्ज ही वजह बताया जा रहा है। 

इस दुखद घटनाक्रम की जानकारी लगने पर मंत्री पुत्र युवा भाजपा नेता अभिषेक भार्गव ने दुखी परिजनों से मुलाकात करके संवेदना व्यक्त की और अंतिम संस्कार में शामिल हुए। उन्होंने घटना को बेहद दुखद बताते हुए गरीब किसान के लिए व्यक्तिगत और शासन स्तर पर यथा संभव मदद मुहैया कराने का भरोसा दिलाया है।

Post a comment

0 Comments