Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जनपद के सब इंजीनियर के साथ मोहन्द्रा घाटी में लूट करने वाले हत्यारोपी भी निकले.. इधर महिला के गले से सोने की चैन खींचने वाला.. नगर पालिका का अस्थाई सफाई कर्मचारी निकला.. पन्ना एसपी ने किया लूट के दो बड़े मामलों का खुलासा.

सबइंजीनियर के साथ मोहन्द्रा घाटी में लूट का खुलासा 
पन्ना। पन्ना पुलिस ने एक सब इंजीनियर के साथ महोन्द्रा घाटी में हुई लूट तथा एक महिला के गले से सोने की चेन खींचे जाने की घटनाओं का पर्दाफाश करते हुए आरोपियों को गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की है। पन्ना एसपी मयंक अवस्थी ने बुधवार को आयोजित  पत्रकार वार्ता में  दोनों घटनाक्रमों की जानकारी देते हुए पुलिस की कामयाबी से अवगत कराया।
  राजेश रावत निवासी अमानगंज हाल सब इंजीनियर जनपद पंचायत शाहनगर द्वारा चौकी मोहंद्रा में रिपोर्ट की गई कि 20 जून की शाम 06.30 बजे मैं मोटरसाइकिल से शाहनगर से बोरी मलघन होते हुए अमानगंज जाते समय मोहंद्रा घाटी पर दो बिना नंबर की मोटरसाइकिलो पर दो - दो युवको ने पीछा करते हुए बैहर की सतहाऊ तलैया के पास ओवरटेक करके डंडा मारकर पकडकर रोड से करीब 10 कदम जंगल में ले गए थे। और 20000 रूपये नगद तथा ओप्पो कंपनी का मोबाइल छीन कर ले गये थे। थाना सिमरिया में अप. क्र 285/2020 धारा 394 भादवि का कायम किया गया था। विवेचना में 06 अज्ञात अभियुक्त गणो द्वारा अपराध घटित करना पाये जाने पर धारा 394 के स्थान पर 395, 397 भादवि बदली गई । 
घटना की गंभीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक पन्ना  मयंक अवस्थी के निर्देशन ,अति.पुलिस अधीक्षक  पन्ना श बी.के.एस.परिहार एवं अनुबिभागीय अधिकारी (पुलिस) पवई आर.पी. यादव  के मार्गदर्शन मे थाना प्रभारी सिमरिया उनि सुरेन्द्र द्विवेदी के नेतृत्व मे एक पुलिस टीम गठित की गई। उक्त मामले में पुलिस उपमहानिरीक्षक छतरपुर रेंज छतरपुर द्वारा आरोपियो की गिरफ्तारी हेतु 20000 रूपये का ईनाम घोषित किया गया। पुलिस टीम द्वारा वरिष्ठ अधिकारियो के निर्देशो का तत्परता से पालन किया गया एवं घटना के संबंध में आस-पास के लोगो से पूँछताछ की गई एवं संदिग्ध व्यक्तियो की गतिविधियो पर कडी नजर रखी गई साथ ही घटना स्थल के आसपास के सी.सी.टी.व्ही.फुटेज खँगाले गये । 
घटना में लूटे गये मोबाइल के आखिरी बार बंद होने के लोकेशन के आधार पर पतारसी शुरू की गई। मुखबिर के बताये अनुसार रेहुँटा पवई पहुँचकर उपेन्द्र सिंह को पुलिस अभिरक्षा में लेकर सख्ती से पूँछताछ की गई तो उसने 5 साथियों के सहयोग से घटना करना स्वीकार किया। घटना में शामिल  04 आरोपियो उपेन्द्र सिंह, बिज्जू उर्फ बृजपाल सिंह, पवन सिंह , सचिन दुबे को 24 जून को गिरफ्तार किया जाकर पूँछताछ की गई। तो आरोपियो द्वारा पवई थाना के अप.क्र.  302/202 धारा 379 भादवि एवं अप .क्र. 112/2020 धारा 379 में बैटरी चोरी करने की वारदात को कारित करना स्वीकार किया गया। आरोपियो के कब्जे से लूटा गया ओप्पो कंपनी का मोबाइल एवं एक सैमसंग कंपनी का मोबाइल जिसमे फरियादी की सिम डली पायी गई ,02 सिम ,11800 रूपये एवं घटना में शामिल 01 मोटर साइकिल जप्त की जाकर आरोपियो को गिरफ्तार किया गया । 
अन्य अपराधो के खुलासा हेतु सभी आरोपियो को पुलिस रिमाण्ड पर लिये जाने की कार्यवाही की जा रही है । 
उक्त प्रकरण के खुलासे में थाना प्रभारी सिमरिया उनि सुरेन्द्र द्विवेदी , ईश्वर सिंह , मनोरमा मौर्य, चौकी प्रभारी सिविल लाइन उनि अभिषेक पाण्डेय, चौकी प्रभारी मोहन्द्रा सउनि रामऔतार पटेल,सउनि शिशिर मण्डल , सउनि प्यार खाँ, सउनि आर.पी. प्रजापति थाना पवई से उनि भानुप्रताप सिंह चौहान, सउनि एच.आर.उपाध्याय, आर0 बलवंत , अतुल , राहुल पटेल, अनिल गर्ग , राकेश पटेल , अखिल , श्यामसिंह , अजय, मुकेश , सैनिक चन्द्रकिशोर बागरी सायबर सेल टीम से  नीरज रैकवार, आशीष अवस्थी , धर्मेन्द्र सिंह राजावत की महत्वपूर्ण भूमिका रही उक्त टीम को श्रीमान पुलिस अधीक्षक महोदय के द्वारा उदघोषित राशि से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई 
पा का अस्थाई सफाई कर्मी निकला चेन स्नेचिंग आरोपी
पन्ना। कटरा मोहल्ला निवासी एक महिला के गले से सुबह मॉर्निंग वॉक के दौरान ₹30000 कीमत का सोने का हार छीन कर भाग जाने वाले आरोपी का पता लगा कर गिरफ्तार करने में कोतवाली पुलिस ने 48 घन्टे में सफलता हासिल की है। पकड़ा गया आरोपी नगरपालिका का अस्थाई सफाई कामगार है जो पिछले अनेक दिनों से सुबह घूमने जाने वाली महिला के गले में पढ़े सोने के हार को पार करने की फिराक में था। कोतवाली में अप0क्र0 516/2020 धारा 392 भादवि का कायम करके पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज के आधार पर सभी संदिग्धो से पूछताछ के दौरान एक व्यक्ति कुछ ज्यादा ही संदिग्ध अवस्था में दिखा। जो विकास उर्फ कालू बाल्मीकि पिता भगवानदास बाल्मीकि उम्र 30 वर्ष  जो कि नगर पालिका में अस्थाई तौर पर सफाई कर्मचारी होना बताया गया। उसके घर में 
  छिपाये गये मंगलसूत्र को जप्त किया जाकर कालू को पुलिस हिरासत में लिया गया । 
उक्त प्रकरण के खुलासे में थाना प्रभारी कोतवाली निरीक्षक हरी सिंह ठाकुर , सिविल लाइन चौकी प्रभारी उनि अभिषेक पाण्डेय , प्र0आर0 अशोक शर्मा, आर0 राकेश पटेल, आर0 बेटालाल, आर0 रोहित ,सी.सी.टी. व्ही. से प्रभारी स उ नि अनिल वर्मा आर0 राहुल सिंह बघेल, संतलाल प्रजापति, विपिन पाण्डेय, निरंजन त्रिफला, आशुतोष तिवारी, कुलदीप शुक्ला, जगभान सिंह चौहान, रिषी चतुर्वेदी,  पवन ब्राम्हाणे, सलीम अली  सी.सी.टी.व्ही.इंजीनियर नीरज पाण्डेय , म0प्र0आर0 मीरा सिंह एवं सायबर सेल टीम के नीरज रैकवार, आशीष अवस्थी , धर्मेन्द्र सिंह राजावत की महत्वपूर्ण भूमिका रही। उक्त टीम को पुलिस अधीक्षक द्वारा 10000 रूपये की ईनामी राशि से पुरस्कृत करने की घोषणा की गई ।

Post a comment

0 Comments