Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

मध्यप्रदेश में "वन नेशन-वन राशन कार्ड" योजना का शुभारंभ.. अब 21 राज्यों में कहीं भी मिल सकेगा पात्र हितग्राहियों को उचित मूल्य का राशन.. मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए अन्य राज्यों के प्रवासी मजदूरों से चर्चा की..

अब 21 राज्यों में कहीं भी मिल सकेगा उचित मूल्य राशन
भोपाल। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रालय से वीसी के माध्यम से मध्य प्रदेश में वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना प्रारम्भ की। योजना के अंतर्गत अब राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम, 2013 के अंतर्गत सम्मिलित सभी पात्र परिवारों को उनके निवास के नजदीक की दुकान से ही बॉयोमेट्रिकस के आधार पर 21 राज्यों में कहीं भी उचित मूल्य का राशन मिल सकेगा।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अन्य राज्यों के मजदूर जो मध्य प्रदेश में जहां हैं वहीं उचित मूल्य राशन प्रदाय के बाद, वीसी के माध्यम से बातचीत करते हुए कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा प्रारंभ की गई वन नेशन-वन राशन कार्ड योजना प्रवासी मजदूरों के लिए अत्यंत लाभदायी साबित होगी। इससे मप्र के पात्र प्रवासी मजदूर अन्य राज्यों में तथा अन्य राज्यों के पात्र प्रवासी मजदूर मध्यप्रदेश में ही राशन प्राप्त कर सकेंगे। 
इस अवसर पर गृह, लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, किसान कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल तथा खाद्य, नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण सहकारिता मंत्री श्री गोविंद राजपूत उपस्थित थे।
केम छो समेश भाई- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से गुजरात राज्य के झाबुआ में रूके प्रवासी मजदूर श्री समेश भाई हवसिंघ से बातचीत के दौरान उनसे गुजराती भाषा में पूछा 'केम छो समेश भाई'। इस पर प्रसन्न होकर समेश भाई ने मुख्यमंत्री का हृदय से धन्यवाद ज्ञापित किया तथा कहा कि उन्हें झाबुआ में ही उचित मूल्य राशन प्राप्त हो गया है। मुख्यमंत्री ने उत्तरप्रदेश के श्री वकील उद्दीन से भिण्ड जिले से, गुजरात के श्री मल्लिक रंजीतभाई निरापडो, श्री सेवाभाई मानसिंघ और श्री फतेहसिंह से अलीराजपुर से, गुजरात के श्री रामसिंघ भाई हवसिंघ से झाबुआ से बातचीत की। सभी ने मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया तथा बताया कि उन्हें उचित मूल्य राशन प्राप्त हो गया है।
प्रदेश की सभी उचित मूल्य दुकानों का ऑटोमेशन पूर्ण
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि योजनांतर्गत प्रदेश की समस्त 24 हजार 980 उचित मूल्य दुकानों पर पीओएस मशीनें लगाई जाकर उनका ऑटोमेशन कार्य पूर्ण कर लिया गया है। प्रदेश में पोर्टेबिलिटी के माध्यम से राशन का वितरण भी हितग्राहियों को प्रारंभ कर दिया गया है।
अन्य 20 राज्यों में मिल सकेगा राशन-मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश के पात्र परिवारों को, अन्य 20 राज्यों आंध्रप्रदेश, बिहार, दादर एण्ड नगर हवेली, दमन एण्ड दीव, गोवा, गुजरात, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखण्ड, केरल, कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान, पंजाब, तेलंगाना, त्रिपुरा, उत्तरप्रदेश, मिजोरम, उड़ीसा एवं सिक्किम में राशन मिल सकेगा। साथ ही, इन राज्यों के हितग्राहियों को मध्यप्रदेश की दुकानों से राशन प्राप्त करने की भी पात्रता होगी।
2 रूपये किलो गेहूँ तथा 3 रूपये किलो चावल मिलेगा-मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि मध्यप्रदेश के पात्र हितग्राहियों को अन्य राज्यों में एवं अन्य राज्यों के पात्र हितग्राहियों को मध्यप्रदेश में गेहूँ 2 रूपये, चावल 3 रूपये तथा मोटा अनाज 1 रूपये प्रति किलोग्राम की दर से प्राप्त होगा।

Post a comment

0 Comments