Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कोटा राजस्थान से एमपी के शहडोल अनूपपुर के स्टूडेंट्स को लेकर जा रहे.. टूरिस्ट वाहन को दमोह पुलिस ने रोका.. जिला अस्पताल में स्क्रीनिंग जांच के बाद स्टूडेंट को लेकर रवाना हुई बस..

कोटा से शहडोल जा रहे स्टूडेंट्स की स्क्रीनिंग कराई-
दमोह। कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए देश भर में लॉक डाउन के चलते एजुकेशन हब के नाम से विख्यात कोटा के विभिन्न कोचिंग संस्थानों में भी ताला बंदी जैसे हालात निर्मित हो गए हैं तथा यहां अध्ययनरत विद्यार्थियों को उनके गृह क्षेत्र रवाना किया जा रहा है।
 इसी कड़ी में कोटा राजस्थान से एमपी के शहडोल अनूपपुर क्षेत्र के 11 स्टूडेंट को लेकर जा रहे टूरिस्ट वाहन के दमोह शहर से होकर गुजरने पर पुलिस द्वारा वाहन को रोककर जिला हॉस्पिटल ले जाया गया।
जिला अस्पताल में विशेष जांच कक्ष में सभी 11 छात्र छात्राओं की कोरोना जांच हेतु स्क्रीनिंग की प्रक्रिया पूरी की गई सभी के सैंपल लेने के बाद उन्हें कोरेना से बचाव हेतु उचित गाइडेंस देने के बाद शहडोल के लिए रवाना कर दिया गया। 

 इस मौके पर जिला अस्पताल की कमान संभालने वाले डॉ दिवाकर पटेल ने कहा कि कोरेना महामारी के हालात से निपटने के लिए जो जहां पर है उसे वहीं रोक देना चाहिए तथा बाहरी क्षेत्रों के लोगों के लिए सब इंतजाम स्थानी कलेक्टर को करनी चाहिए क्योंकि एक क्षेत्र का संक्रमित व्यक्ति दूसरे क्षेत्र में पहुंचकर वहां के लोगों को भी संक्रमित बनाता है। इसीलिये संक्रमण को रोकने का सबसे अच्छा उपाय जो जहां है उसे वही रोकना बताया गया है। अजित सिंह राजपूत की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments