Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

हटा रजपुरा मार्ग पर गिट्टी क्रेशर के साथ चौरसिया बंधुओं की पत्थर खदानों पर खनिज विभाग की जांच कार्यवाही से हड़कंप.. क्रेसर और खदान को किया गया सीज.. निजी भूमि पर क्रेसर संचालन का मामला सामने आया..

 चौरसिया बंधुओं की खदानों पर खनिज विभाग की जांच
दमोह। जिले के विभिन्न क्षेत्रों में खनिज विभाग से लीज पर ली गई जमीन से अधिक हिस्से में अवैध खनन तथा कब्जे की हालात किसी से छिपी नहीं है वही ऐसे ही कुछ आरोपों के बीच खनिज विभाग की टीम ने हटा राजपुरा मार्ग पर चौरसिया बंधुओं द्वारा संचालित क्रेशर तथा खनिज खदानों पर पहुंचकर जांच कार्यवाही की खबर लगते ही आसपास संचालित अन्य क्रेशर खदान संचालकों के बीच हड़कंप के हालात बनते नजर आए।
प्राप्त जानकारी के अनुसार दमोह से खनिज अधिकारी रवि पटेल के नेतृत्व में पहुंची खनिज विभाग की टीम ने बटियागढ़ तहसील के फतेहपुर स्थित चौरसिया बन्धुओ की सिमारिया देव कन्स्ट्रक्शन कम्पनी द्वारा संचालित क्रेसर व खदानों की जांच की। इस दौरान उत्खनन स्थलों का नाप करके पंचनामा तैयार कर प्रतिवेदन तैयार किया गया। मामले में खनिज अधिकारी रवि पटेल का कहना था कि लीज भूमि के अतिरिक्त कितने क्षेत्र में खनन उत्खनन कितनी मात्रा में किया गया यह रिपोर्ट आने के बाद ही प्रतिवेदन के आधार पर खनिज अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही की जाएगी। 
इस जांच कार्रवाई के दौरान सामने आए बरी निवासी अशोक बंशल ने चौरसिया कम्पनी पर जमीन हड़पने और निजी जमीन पर क्रेशर लगाने के आरोप लगाए हैं। इसका कहना है कि कई बार शिकायतों के बाबजूद कोई कार्यवाही नही हो रही है। 
देखना होगा इस बहुचर्चित जांच कार्यवाही मामले में क्या निकल कर सामने आता है हालांकि जिस तरह से खनिज विभाग के अधिकारी यहां पर जांच कार्यवाही करते नजर आए उसे देखकर अंदाजा लगाया जा रहा है कि कहीं ना कहीं किसी राजनीतिक प्रेशर में यह जांच की जा रही है और कार्रवाई के नाम पर खोदा पहाड़ और निकली चुहिया वाली कहावत भी साबित हो सकती है।

Post a comment

0 Comments