Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

यूपी से बैगन लेकर जबलपुर मंडी जा रही पिकअप के ट्रक की टक्कर से परखच्चे उड़े.. एक की मौत दूसरा गंभीर.. देहात थाना पुलिस ने साइवर सेल की मदद से 13 साल से फरार हत्या के आरोपी स्थाई वारंटी को पकड़ा..

जबेरा के कलेहरा तिराहा पर भीषण सड़क हादसा 
दमोह। यूपी से बैगन लेकर जबलपुर की सब्जी मंडी जा रही पिकअप गाड़ी के अज्ञात ट्रक की टक्कर से परखच्चे उड़ जाने के साथ एक व्यक्ति की मौत हो जाने तथा दूसरे की हालत गंभीर होने का घटनाक्रम सामने आया है। दमोह जबलपुर स्टेट हाईवे पर जबेरा थाना अंतर्गत कलेहरा तिराहे पर इस भीषण हादसे के बाद मौके पर क्षतिग्रस्त पिकअप वाहन को देखकर लोग दुर्घटना की भीषणता का अंदाजा लगाते नजर आए। 
प्राप्त जानकारी के अनुसार उप्र के झांसी के ग्राम घुघवा निवासी देवेंद्र रैकवार अपने एक साथी के साथ बैगन सब्जी बेचने जबलपुर मंडी जा रहा था। तभी अचानक विपरीत दिशा से आ रहे आज्ञत ट्रक कलेहरा तिराहे के पास पिकअप को टक्कर मारकर दमोह की तरफ भाग गया। हादसे के बाद मौके पर पहंची 100 डायल आरक्षक दिनेश कुमार ने पिकअप में फसे दो लोगों को निकालकर जबेरा के स्वास्थ्य केंद्र पहंचाया। 
जहां देवेंद्र रैकवार पिता कृपाराम रैकवार 25 वर्ष मृत घोषित कर दिया। वही अरविंद रैकवार का गंभीर हालत में इलाज जारी है। मौके पर पहंचे एसआई पप्पू खान ने हालात का जायजा लिया तथा  अस्पताल पहुचकर पंचनामा कार्यवाही करके घटनाक्रम की जांच शुरू कर दी है। जबेरा से मयंक जैन की रिपोर्ट
13 वर्ष से फरार स्थाई वारंटी आरोपी पुलिस ने दबोचा’ 
दमोह के देहात थाना क्षेत्र के कुलुवा मारूताल से 13 साल से फरार स्थाई वारंटी सोनू उर्फ गजेंद्र राजपूत को पुलिस ने साईवर सेल की मदद से दबोचने में पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। आरोपी को शनिवार को कोर्ट में पेश किए जाने के बाद जेल भेज दिया गया है। एसपी विवेक सिंह एवं एएसपी विवेक लाल के निर्देश पर जिले में जारी फरार आरोपियों की धरपकड़ मुहिम तहत जिले भर में कार्रवाई की जा रही है।
 इसी कड़ी में सीएसपी मुकेश अबिद्रा एवं टीआई देहात संधीर चैधरी के नेतृत्व में देहात थाना पुलिस ने 2006 से हत्या के मामले में फरार न्यायालय द्वारा स्थाई वारंटी आरोपी सोनू राजपूत को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।  कार्रवाई में विशेष योगदान साइबर सेल प्रभारी राकेश अठया,सौरभ टंडन, अजीत दुबे, सब इंस्पेक्टर राजवीर यादव, प्रधान आरक्षक बी.डी. दाहिया, आरक्षक नवीन,आरक्षक वीरेंद्र मिश्रा, आरक्षक नरेंद्र पटेरिया, आरक्षक शिव शंकर रोहिताश का विशेष योगदान रहा। 

Post a comment

0 Comments