Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सरदार पटेल जयंती पर पूरी हुई केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटैल की 250 किमी की पदयात्रा.. बांसा से दमोह तक पदयात्रा में शामिल होने व स्वागत करने जवरजस्त उत्साह.. दोनों बेटियों तथा बेटे ने भी सहभागिता दर्ज कराई..

रानी अवंतीबाई प्रतिमा स्थल पदयात्रा का समापन-
दमोह। राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी की 150 वी जंयती वर्ष पर लोगों को स्वच्छता के साथ पर्यावरण संरक्षण एवं पोलीथिन मुक्त होने का संदेशा देने स्थानीय सांसद एवं केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के नेतृत्व में प्रारंभ हुई पदयात्रा विभिन्न चरणों में करीब दो सौ किमी का रास्ता तय करके लोह पुरूष सरदार वल्लभ भाई पटेल की जयंती पर रानी अवंती बाई प्रतिमा स्थली पहंचकर संपंन हुई। पद यात्रा में मंत्री श्री पटैल की बेटियां फलित एवं प्रतिज्ञा तथा पुत्र प्रवल पटैल भी अपने पिता के कदम से कदम मिलाकर सहभागिता दर्ज कराते हुए नजर आए।
सरदार पटेल जयंती पर दमोह विधानसभा के बांसा तारखेड़ा गांव से प्रारंभ हुई केन्द्रीय संस्कृति एवं पर्यटन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार प्रहलाद पटेल की पदयात्रा में पूर्व वित्त मंत्री जयंत मलैया सहित भाजपा के अनेक नेता, कार्यकर्ता एवं ग्रामीणजन शामिल हुए। इस मौैके पर श्री पटेल ने सरदार पटेल के जीवन दर्शन पर प्रकाश डालते हुये कहा उनकी हर एक बात भारत की एकता और अखण्डता को सुनिश्चित करता हैं, उनका एक-एक वाक्य प्रशासनिक अधिकारियो को अपने कर्तव्यों के निर्वहन की प्रेरणा देता है, आने वाली पीढ़ी के भविष्य को सुनिश्चित करने की गांरटी देता है, इस नाते मै आपसे कहूँगा कि सरदार पटेल को जरूर पढ़िये, ये कोर्स बुक नही है, लेकिन जीवन की पुस्तक जरूर है, पुस्तक पूरा संसार होती है, पुस्तकें ही होती है जिनमे आप सब कुछ सीख सकते है।
पदयात्रा के कोरांसा स्थित ओजस्विनी कॉलेज पहुचने पर ओजस्विी समदर्शी न्यास की चैयरपर्सन एवं पूर्व मंत्री जयंत मलैया की धर्मपत्नि डा. सुधा मलैया ने ओजस्विनी परिवार के साथ भावभीनी आगवानी की। यहां आयोजित कार्यक्रम उपरांत छात्र-छात्राओं ने केन्द्रीय मंत्री श्री पटैल से सेल्फी लेने का अनुरोध किया। इस पर उन्होंने खुशी से छात्र-छात्राओं के साथ सेल्फी दी, यही नहीं उन्होंने भी एक सेल्फी ओजस्विनी संस्थान की चेयर पर्सन डॉ सुधा मलैया के साथ क्लिक की।
दमोह शहर के प्रवेश द्वार सागर नाका, कषि उपज मंडी गेट, हिरदेपुर से प्रारंभ हुआ स्वागत एवं सहभागिता का सिलसिला तीनगुल्ली, स्टेशन चैक, राय चैराहा, घण्टाघर, अंबेडकर चैक, कीर्ति स्तंभ, जेल तिराहा से लेकर बीरांगना रानी अबंती बाई प्रतिमा स्थल तक जारी रहा। इस दौरान श्री पटेल ने घंटाघर पर गांधी प्रतिमा तथा अंबेडकर चैक पर बाबा साहब, अवंतीबाई की प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित की। रास्तें में तहसील ग्राउंड पर बिखरे दीपावली के पटाख बाजार के कूड़े करकट की सफाई करने हेतु मंत्री श्री पटेल के साथ पदयात्रा में शामिल लोगों ने श्रमदान किया।

पदयात्रा में हटा विधायक हटा पीएल तंतुवाय, जबेरा विधायक धर्मेन्द्र सिंह लोधी, पूर्व विधायक लखन पटैल एवं सोनाबाई,  जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटैल, जिला भाजपाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव, नगर पालिका अध्यक्ष मालती असाटी, सांसद प्रतिनिधि आलोक गोस्वामी, सिद्धार्थ मलैया, रमन खत्री, सतीष तिवारी, डॉ रघुनंदन चिले, नरेन्द्र दुबे, नरेन्द्र बजाज, रूपेश सेन, अवधेश प्रताप सिंह, राजकुमार जैन, गुड्डू पटैल, कपिल सोनी, विवेक अग्रवाल, सुनील डबुल्या, प्रतिभा सिंह, पुष्पा चिले, रामकली तंतुवाय, कविता राय, वर्षा रैकवार, रितु पाण्डेय, गिरजा साहू, भरत यादव, बद्री विश्वकर्मा सहित बड़ी संख्या में सभी वर्ग समाज के लोगों की सहभागिता रही। 
 विभिन्न तीनचरणों में पूरी हुई 250 किमी की पदयात्रा-
 ‘‘राष्ट्र्पिता महात्मा गांधी की 150 जयंती‘‘ के उपलक्ष्य में संसदीय क्षेत्रांर्गत प्रथम चरण दिनांक 16 अगस्त से 19 अगस्त तक देवरी विधानसभा के ग्राम अनंतपुरा से दमोह तक की चार दिवसीय पदयात्रा में लगभग 90 कि.मी. की दूरी । द्वितीय चरण में  5 अक्टूबर को जबेरा विधानसभा अंतर्गत ग्राम कुसमी, मानगढ़, गुबरा, धनेटा तिराहा, होते हुए ग्राम सिंग्रामपुर में वीरांगना रानी दुर्गावती प्रतिमा स्थल की पदयात्रा की
दमोह जिले की हटा विधानसभा क्षेत्र में 22 अक्टूबर को सागोनी, पटेरिया, मझगुवां, धनगुवां, कालाकोट, देवरीरतन, मोहास होते हुए ग्राम कुम्हारी तक लगभग 13.5 कि.मी.। 23 अक्टूबर को बंडा विधानसभा क्षेत्रांर्गत ग्राम बरेठी, ककरट तिगड्डा, गेर तिगड्डा, गूगरा, चण्डीमाता जालमपुर, सेमरा रामचन्द्र, जगथर, बिजरी होते हुए बण्डा नगर तक लगभग 19 कि.मी.,  24 अक्टूबर को देवरी विधानसभा क्षेत्रांर्गत ग्राम झिरिया खेड़ा प्रांरभ कर सुना, डोभी, सिमरिया, महाराजपुर, पनारी 64 योगिनी माता मंदिर तक लगभग 13 कि.मी. की पदयात्रा की
  29 अक्टूबर को  दमोह जिले की पथरिया विधानसभा के जनपद पंचायत बटियागढ़ क्षेत्रांर्गत ग्राम पंचायत बेलखेड़ी, ग्राम घूघस, कनौरा रामनगर होते हुए ग्राम मगरोन के कलेही माता मंदिर। 30 अक्टूबर को दमोह विकासखंड अंतर्गत ग्राम राजा पटना, अर्थखेड़ा, टौरी, सलैया बजरंगढ़, कांकर, इमलिया, खर्राघाट कुल 12 कि.मी. और 31 अक्टूबर को बांसा से दमोह तक दस किमी से अधिक की पदयात्रा करते हुए उक्त तीन चरणो में 250 कि.मी.से अधिक की पदयात्रा पूर्ण की है। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments