Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

टीकमगढ़ जिले में खंबे से विद्युत तार चोरी करने वाले गिरोह के चार सदस्यों की करेंट से मौत.. विजली तारों से लिपटे मिले शव.. अचानक लाईट आने से चली गई चारों की जान.. पुलिस जांच में जुटी

बिजली तारों से लिपटे मिले चार युवको के शव
टीकमगढ़। जिला मुख्यालय से 43 किलोमीटर दूर जतारा क्षेत्र अंतर्गत कंचनपुरा के बनारसी गांव में बिजली तार से लिपटी हुई चार लाशें मिलने से क्षेत्र में सनसनी का माहौल बनते देर नहीं लगी। जानकारी लगने पर मौके पर पहुंची पुलिस ने पंचनामा कार्यवाही करते हुए शवों को पोस्टमार्टम हेतु भेजकर घटना की जांच शुरू कर दी है।
घटनास्थल की  जो तस्वीर सामने आई है उनमे विद्युत पोल से काटे गए बिजली तारों का बंडल पास में ही पड़े होने तथा तार काटने की कटर भी मौके पर मिलने से पहली नजर में यह साफ हो गया कि यह चारों युवक विद्युत तार काट रहे होंगे। इसी दौरान बिजली चालू हो जाने से करंट लगने से 4 की जान चली गई।
 टीकमगढ़ के अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक मुन्ना लाल चौरसिया ने बताया कि चार मृतकों में से एक मृतक  गोकुल कुशवाहा इसी गांव का रहने वाला है। जबकि तीन अन्य युवक प्रीतम, संजय बरार और राजू कुशवाहा पड़ोसी निवाड़ी जिले के निवासी बताए गए हैं। घटना स्थल पर मिले साक्ष्यों के आधार पर चारों बिजली तारों की चोरी करने के उद्देश्य से तार काट रहे थे। तभी उसमें करंट प्रवाह हो गया और चारों की मौके मौत हो गई।
घटना की जानकारी लगने पर मौके पर पहुंचे टी आई मुकेश सिंघई ने बताया कि यह लोग लंबे समय से बिजली विभाग की तार चोरी करके बेचते देखें गये है। पूर्व में भी इन लोगों के खिलाफ बिजली तार चोरी की शिकायतें सामने आती रही है वही बीती रात डीपी से लगे विद्युत धारा को जब यह काट रहे होंगे तभी अचानक विद्युत सप्लाई चालू हो जाने दे या हादसे के शिकार हो गए होंगे।
मौके पर विद्युत विभाग काटे गए बिजली के तारों का लिपटा हुआ बरामद हुआ है। घटना की जानकारी मृतकों के परिजनों तक पहुंचने के बाद वह भी मौके पर पहुंचे तथा शवों को देखकर किसी साजिश की आशंका भी जताते हुए नजर आए  फिलहाल पुलिस ने  पोस्टमार्टम कराकर  चारों शवों को  उनके परिजनों के सुपुर्द कर दिया है  तथा घटना की जांच की जा रही है। इस दुखद घटना क्रम से गांव में गमगीन माहौल बना हुआ है।

Post a comment

0 Comments