Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

भाजपा नेता को कांग्रेस विधायक की प्रशंसा करना महंगा पड़ा.. विधायक राहुल सिंह को युवाओं का प्रेरणास्रोत बताने वाले.. भाजपा आईटी सेल के संयोजक अमन राय को पार्टी जिलाध्यक्ष ने पद से हटाया..

 भाजपा आईटी सेल संयोजक अमन राय पद से हटाए गए
दमोह। नगर  पालिका चुनाव के पूर्व पार्टी पदाधिकारियों द्वारा सोशल मीडिया पर पार्टी लीक से हटकर की जाने वाली प्रतिक्रियाओ को इन दिनों दोनों प्रमुख राजनैतिक दल गंभीरता से लेते नजर आ रहे है।  ताजा मामला सोशल मीडिया पर कांग्रेस विधायक राहुल सिंह की तारीफ करने वाले भाजपा आईटी सेल के संयोजक अमन राय को पद से हटा देने का सामने आया है। 
 दरअसल पिछले दिनों भाजपा आईटी सेल के संयोजक अमन राय ने कांग्रेस विधायक राहुल सिंह के वैशाली नगर स्थित आवास पर पहुंचकर ना केवल मुलाकात की थी बरन देर तक चर्चा करते हुए उनकी कार्यशैली की सराहना भी की थी। इतना ही नहीं बाद में सोशल मीडिया पर राहुल सिंह से मुलाकात के फोटो शेयर करते हुए उन्हें युवाओं का प्रेरणास्रोत भी बताया था। हालांकि बाद में फेसबुक से इन फोटो और पोस्ट को हटा लिया गया था और अपनी सफाई में यह भी कहा था की क्षेत्र की समस्याओं को लेकर वह विधायक राहुल सिंह से मिलने गए थे।

 लेकिन मामले के तूल पकड़ने पर  भाजपा जिलाध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव ने उनकी आईटी सेल के संयोजक पद से छुट्टी कर दी है। तद संदर्भ में  जिला भाजपा अध्यक्ष के लेटर पैड और साइन से जारी पत्र में स्पष्ट किया गया है कि पार्टी के आईटी सेल के प्रदेश प्रमुख की सहमति से अमन राय को पद से हटाए जाने का यह आदेश जारी किया गया है। उन पर पार्टी विरोधी गतिविधियों में लिप्त रहने तथा अनुशासनहीनता करने के साथ ही फोन पर समझाएं दिए जाने जैसी बातों का उल्लेख भी इस पत्र में किया गया है।
इस मुलाकात का का जो वीडियों वायरल हुआ था सोशल मीडिया पर का हुआ था उसमें भाजपा आईटी सेल संयोजक अमन राय वैशाली नगर स्थति विधायक राहुल सिंह के आफिस में उनके साथ में बैठे नजर आ रहे है। वहीं राहुल सिंह के अलावा कांग्रेस आईटी सेल प्रमुख एवं प्रवक्ता सहित अन्य युवाओं से भी उनकी बातचीत हो रही है। जिसमें कांग्रेस नेता विधायक राहुल सिंह के व्यक्तित्व की तारीख् करते नजर आ रहे है। वहीं विधायक राहुल सिंह के द्वारा भी चुनाव के दौरान अमन राय की सक्रियता की प्रशंसा करते हुए पीठ थपथपाई जा रही है। माना जा रहा है कि राहुल सिंह की यहीं तारीफ करना तथा पीठ थपथपाना और गुलदस्ता भेंट करना अमन के लिए भारी पड़ गया तथा उनकों पद से हाथ धोना पड़ा। 
 भाजपा आईटी सेल के संयोजक पद से हटाए जाने के बाद अभी तक अमन राय कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है और ना ही वह मीडिया से रूबरू हुए हैं लेकिन उन को हटाए जाने की चर्चाएं सोशल मीडिया पर चटकारे लेकर वायरल हो रहे हैं। सोशल मीडिया पर कमेंट के चलते पार्टी नेताओं के कोप का शिकार बनने का यह पहला मामला नहीं है पिछले सप्ताह इसी तरह सोशल मीडिया पर दमोह विधायक और जिला कांग्रेस अध्यक्ष को लेकर कमेंट करने वाले कांग्रेस के ग्रामीण मंडल अध्यक्ष नितिन मिश्रा की भी 6 साल के लिए पार्टी से छुट्टी की जा चुकी है। 

इन दोनों उदाहरणों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि आगामी नगर पालिका चुनाव के पहले सोशल मीडिया पर भाजपा तथा कांग्रेस के नेता किस तरह अपनी नजरें गड़ाए हुए हैं तथा नाराजगी के चलते किसी भी पदाधिकारी द्वारा की जाने वाली कोई टिप्पणी कब उसकी पार्टी से छुट्टी करा दे यह अंदाजा लगाना मुश्किल है। ऐसे में वो लोग सावधान हो जाएं जो जो आगामी नगरपालिका चुनाव में पार्टी टिकिट की चाह रखते हुए जनता के बीच में अपनी कार्यशैली के कारण लोकप्रियता हासिल किए हुए है। तथा पार्टी के प्रति अपनी नाराजगी जताने के लिए सोशल मीडिया को प्लेटफार्म बना रहे हैं। अटलराजेंद्र जैन

Post a comment

0 Comments