Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

न्यूज़ अपडेट.. नाबालिग से दुष्कर्म के आरोपी ने पुलिस अभिरक्षा में मौत को गले लगाया.. ! बड़ा मलहरा अस्पताल के बाथरूम में तौलिया से फंदा बनाकर फांसी लगाने की घटना से सनसनी.. SP ने दो पुलिस कर्मियों को किया सस्पेंड..

नाबालिग से बलात्कार के आरोपी ने फाँसी लगाई- 
बड़ामलहरा, छतरपुर।  करीब 3 माह पूर्व एक नाबालिग लड़की को अगवा कर कर ले जाने वाले दुष्कर्म के आरोपी के पुलिस अभिरक्षा में मेडिकल जांच के दौरान स्वास्थ्य केंद्र के बाथरूम में फांसी लगा लेने का सन सनीखेज घटनाक्रम सामने आया है। घटना की जानकारी लगते ही पुलिस प्रशासन के उच्च अधिकारी मौके पर पहुंचकर जांच में जुटे हुए हैं। वही पहली नजर में पुलिस की लापरवाही भी झलकती नजर आ रही है। वही SP तिलक सिंह ने दो पुलिस कर्मियों को सस्पेंड कर दिया है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार भगवा पुलिस थाना में दर्ज बलात्कार के मामले में पुलिस ने हाल ही में आरोपी वीरू उर्फ वीरेंद्र लोधी 22 वर्ष निवासी बसायन खेरा थाना बुढेरा जिला टीकमगढ़ को हिरासत में लिया था। पुलिस उसे मेडिकल के लिए मलहरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र लेकर गई थी। जहां स्पर्म मेडिकल जांच हेतु सेंपल निकालने आरोपी वीरू को बाथरूम में था। इसी दौरान उसने तौलिया का फंदा बनाकर और बाल्टी को उल्टा करके उस पर खड़े होकर फांसी लगा ली। 
देर तक वीरू के बाथरूम से नहीं निकलने पर जब बाथरूम का दरवाजा खोला गया तो उसे फांसी के फंदे पर लटका देख कर पुलिसकर्मियों के होश उड़ गए।
 तत्काल वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दी गई इधर डॉक्टर ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया। 
जानकारी लगने पर SDM एनआर गोंड़ तथा SDOP आरआर साहू भी अस्पताल पहुचे। जहां जानकारी लेकर घटनास्थल को सील करा दिया गया है। वहीं पूरे मामले को लेकर पुलिस प्रशासनिक अधिकारी कुछ भी कहने से बचते नजर आ रहे हैं।
ताजा अपडेट- घटना को गंभीरता से लेते हुए में SP तिलक सिंह ने दो आरक्षक दीपक यादव और संजीव साहू को  निलंबित कर दिया है। साथ ही जांचकर्ता एसआई सुनीता बिंदुआ की भी जांच के आदेश दे दिए है। घटना के बाद सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र का बाथरूम शील कर दिया गया था। जिसकी जांच जुडिशल इंक्वायरी के लिए शनिवार को जांच अधिकारी नयाधीश भी बोके पर पहुंचे।

Post a comment

0 Comments