Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

लोक निर्माण विभाग के रिश्वतखोर बाबू पर जबलपुर लोकायुक्त का शिकंजा.. जीपीएफ के एक लाख रुपए निकालने इलेक्ट्रिकल हेल्पर से ले रहा था रिश्वत..भ्रष्टाचार अधिनियम की धाराओं के तहत मामला दर्ज..

रिश्वतखोर बाबू पर जबलपुर लोकायुक्त का शिकंजा
जबलपुर। लोकायुक्त टीम ने लोक निर्माण विभाग के एक रिश्वतखोर बाबू को छोटे कर्मचारी से जीपीएफ फंड का रुपया निकालने के बदले में रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने में सफलता हासिल की है। आरोपी के खिलाफ भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर कार्यवाही की गई है।
जबलपुर लोकायुक्त के डीएसपी जेपी वर्मा ने बताया कि आवेदक राजकुमार भूमिया, इलेक्ट्रिकल हेल्पर लोक निर्माण विभाग e&m उप संभाग कटनी ने शिकायत की थी कि अनिल पाठक पिता इष्ट देव शास्त्री उम्र 55 साल, सहायक ग्रेड 3 कार्यालय कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग e&m जबलपुर के द्वारा उनका एक लाख रुपए जीपीएफ राशि निकलवाने के एवज में रिश्वत की मांग की जा रही है। 

जिसके बाद लोकायुक्त टीम ने अपना जाल बिछाते कार्यपालन यंत्री ई एंड एम संभाग जबलपुर के कार्यालय पहुंचकर रिश्वतखोर बाबू अनिल पाठक को 3000 रुपए की रिश्वत लेते हुए रँगे हाथो दबोचने में देरी नहीं की। कार्यवाही करने वाली टीम में उप पुलिस अधीक्षक जेपी वर्मा,  निरीक्षक महिला मंजू किरण तिर्की, आरक्षक दिनेश दुबे, अमित गावड़े, शरद पांडे, आरक्षक चालक जीत सिंह आदि शामिल रहे। जबलपुर से आलोक जैन सहारा की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments