Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सावधान.. बाइक सवार लुटेरों का नाबालिग भी दे रहे है साथ.. ओवर ब्रिज-हटा नाका मार्ग पर गले मे कटर मारकर लूटने वाले तीन में से दो आरोपी गिरफ्तार.. एक नाबालिग भी शामिल..

गले मे कटर मारकर लूटने वाले दो आरोपी गिरफ्तार
दमोह। शहर में पिछले कुछ दिनों में लूट की वारदातों में इजाफा होने के साथ पकड़े गए आरोपियों के वर्ग विशेष का होने तथा इनके साथ वारदात में नाबालिगों का भी शामिल होना चिंता का विषय कहा जा सकता है। कोतवाली पुलिस ने 3 दिन में लूट की जिन दो वारदातों का खुलासा किया है उनमे बाइक सवार लुटेरों के साथ नाबालिग भी शामिल रहे है।
पिछले दिनों हटा के बिजोरी पाठक गांव निवासी टेकसिंह लोधी को ओवर ब्रिज पथरिया पाठक मार्ग पर दिन दहाड़े गले में कटर से हमला करके लूटने की वारदात को अंजाम दिया गया था। 11 जुलाई को हुई इस वारदात के बाद कोतवाली में धारा 394 के तहत तीन अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मामला पंजीबद्ध किया गया था।
घटना के दूसरे दिन पुलिस ने जिस एक आरोपी को पकड़ा वह नाबालिक था। वही आज दूसरे आरोपी राजा उर्फ सन्नाटा पिता नजीर मुसलमान उम्र 26 साल निवासी नूरी नगर दमोह को गिरफ्तार कर घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल भी जप्त की गई है। जबकि वारदात के मुख्य आरोपी परवेज खान अभी पुलिस गिरफ्त से बाहर है।
 कोतवाली टीआई आरके गौतम ने लूट की वारदात खुलासा करते हुए बताया कि पकड़े गए दोनों आरोपियों को न्यायालय में पेश किए जाने के बाद जेल भेज दिया गया है। आरोपी की गिरफ्तारी में प्रमुख भूमिका उप निरीक्षक मनोज गोयल, पंकज यादव, आरक्षक मनीष और अन्य पुलिसकर्मियों की बताई गई है। दोनों आरोपियों की गिरफ्तारी पर एसपी विवेक सिंह ने थाना कोतवाली की टीम को पुरस्कृत करने तथा शेष रहे आरोपी परवेज गिरफ्तारी पर इनाम भी घोषित किया गया है।
 उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों कंकाली माता मंदिर मार्ग पर महिला के गले से मंगलसूत्र को लूटने की वारदात में शामिल जिन दो बाइक सवार बदमाशों को पकड़ा गया था उनमें नफू उर्फ नफीस एवं एक  नाबालिक शामिल था। इस वारदात में भी वर्ग विशेष के आरोपी शामिल पाए गए थे। जिन्हें पूर्व में न्यायालय में पेश करने के बाद जेल भेजा जा चुका है।
 शहर के कम भीड़भाड़ वाले क्षेत्रों में बाइक सवार बदमाशों द्वारा लूट की बारदातों को अंजाम दिए जाने के बाद आरोपियों की पतासाजी तथा गिरफ्तारी में कोतवाली पुलिस की तत्परता की सराहना की जा रही है। वहीं  वारदातों में नाबालिक तथा वर्ग विशेष के युवकों के शामिल होना चिंता का विषय कहा जा सकता है। जिसे गंभीरता के साथ सावधानी से लेने की आवश्यकता महसूस की जा रही है।

Post a comment

0 Comments