Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

फर्जी चैक देकर 6.42 लाख का लोहा ले जाने वाले.. अंतर्राज्यी ठग जोड़ी यश और फैजान को पुलिस ने झांसी से पकड़ा.. राम रमा पेट्रोल पंप के सामने गले मे चाकू मारकर लूटने वाला इनामी बदमाश गिफ्तार..

फर्जी चैक दे लोहा ले जाने वाले ठग झांसी से गिरफ्तार
दमोह। नकली चेक से लाखों की खरीदारी करके मप्र उप्र के अनेक व्यापारी दुकानदारों को चूना लगाने वाली ठग जोड़ी यश सलूजा और फैजान खान को कोतवाली पुलिस ने झांसी से पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। 15 दिन पूर्व दमोह के एक लोहा व्यापारी को 6.42 लाख का नकली चैक देकर 15 टन लोहा लेकर यह ठग फरार हो गए थे। बाद में पुलिस ने है लोहा रहली से बरामद कर लिया था लेकिन चार सौ बीसी करने वाले अब पुलिस के हाथ लगे है।
सोमवार दोपहर पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी विवेक सिंह ने फ्राड गिरी के इस चर्चित घटनाक्रम का खुलासा करते हुए बताया कि दमोह के गोपाल राय की अंकुर सेल्स एजेंसी से दो युवको ने 14 जुलाई को 15 टन लोहे की सरिया लेकर एक्ससिस बैंक का 6.42 लाख का चैक दिया था। दो दिन बाद यह चैक बाउंस हो जाने तथा लोहे की सरिया सहित दोनो युवको का भी पता नही लगने पर कोतवाली टीआई आरके गौतम को ठगी की वारदात से अवगत कराया गया। कोतवाली पुलिस ने आरोपियों की संभावित स्थलों से पतासाजी फोटोग्राफ्स आदि जुटाए तो उनके नाम यश सलूजा और फैजान पता लगे।
 इधर आरोपियों द्वारा उक्त लोहे की सरिया रहली ले जाकर बेचने की कोशिश की जा रही थी इस बीच इनको अपनी पोल खुल जाने का पता लगा तो वह कार से रहली से भाग गए। इधर कोतवाली पुलिस ने रहली पहुंच कर एक खेत में उतारे गए लोहे की सरिया को बरामद करके आरोपियों की पतासाजी शुरू की। मुखबिर तथा साइबर सेल की मदद से कोतवाली पुलिस की स्पेशल टीम ने आखिरकार दोनों ठगों को झांसी से पकड़ने में सफलता हासिल कर ली। पकड़े गए आरोपियों में से एक फैजल खान के भोपाल तथा इंदौर के दो अलग अलग नाम के आधार कार्ड होने तथा फर्जी आधार कार्ड से एक्सिस बैंक में बैंक अकाउंट खुलवा कर चेक बुक हासिल करके इनके द्वारा अन्य लोगों को भी चूना लगाने की जानकारी सामने आई है। 
गले मे चाकू मारकर लूटने वाला इनामी बदमाश गिफ्तार

पिछले दिनों पथरिया फाटक ओवरब्रिज हटा मार्ग पर राम रमा पेट्रोल पंप के सामने एक बाइक सवार युवक को रोककर उसके गले में धारदार हथियार से हमला करके मोबाइल तथा नगदी लूटने वाले इनामी बदमाश परवेज कसाई को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। एस पी विवेक सिंह के द्वारा इसकी गिरफ्तारी पर 5000 रु का इनाम घोषित किया गया था। वही उसके दो सहयोगियों को कोतवाली पुलिस पूर्व में ही गिरफ्तार कर चुकी है।
 मामले के खुलासे से लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी में टी आई आरके गौतम सब इंस्पेक्टर पंकज और मनोज यादव, आरक्षक मनीष गंधर्व, प्रदीप तिवारी, राजेश ठाकुर तथा साईवर सेन से राकेश अठ्या सौरभ टंडन और अजीत दुबे की सराहनीय भूमिका रही।

Post a comment

0 Comments