Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

शाहगढ़ में पत्रकार को जिंदा जलाने के खिलाफ समूचे बुंदेलखंड में जबरदस्त आक्रोष.. सागर, दमोह, गढ़ाकोटा, बंडा, राहतगढ़ में पत्रकारो ने सौंपे ज्ञापन.. पन्ना में पत्रकारों की भूख हड़ताल शुरू, शाहगढ़ टीआई लाइन अटैच..

 दमोह के पत्रकारों ने कलेक्टर एसपी को ज्ञापन सौंपा-
 सागर जिले के शाहगढ़ में पत्रकार चक्रेश जैन को पहले एससी एसटी एक्ट में फसाने तथा बाद में कंप्रोमाइज के नाम पर बुलाकर पेट्रोल डालकर जिंदा जला दिए जाने के घटनाक्रम ने सभी को झकझोर कर रख दिया है। घटना के विरोध में समूचे प्रदेश के पत्रकारों में नाराजगी के साथ आक्रोश बना हुआ है। इधर इस घटनाक्रम में शाहगढ़ पुलिस की गंभीर लापरवाही सामने आने के बाद सागर एसपी अमित सांघी ने शाहगढ़ थाना प्रभारी जाहिद खान को लाइन अटैच कर दिया है। दमोह जिले के पत्रकारों ने आज मुख्यमंत्री के नाम संबोधित ज्ञापन सौंपते हुए त्वरित कार्यवाही की मांग की है कार्यवाही नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी गई है। 
दमोह में जिला पत्रकार संघ के आव्हान पर पत्रकारों ने कलेक्ट्रेट तथा एसपी ऑफिस पहुंचकर 3 सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपा। कलेक्टर तरुण राठी को दिए गए ज्ञापन के पूर्व वरिष्ठ पत्रकार सुनील गौतम ने समस्त पत्रकारों की तरफ से ज्ञापन का वाचन करते हुए शाहगढ़ में  पत्रकार  चक्रेश जैन के साथ हुई घटना की जानकारी दी।
 ज्ञापन में मुख्य मंत्री से मांग की गई है कि घटना के आरोपी जनपद के सहायक ग्रामीण विस्तार अधिकारी अमन चौधरी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज किया जाए। चक्रेश जैन के परिजनों को 25 लाख की आर्थिक सहायता मुहैया कराई जाए तथा परिवार के एक सदस्य को नौकरी दी जाए। कार्रवाई नहीं होने पर आंदोलन की चेतावनी भी दी है। 
कलेक्ट्रेट कार्यालय से ज्ञापन के बाद सभी पत्रकार साथी एसपी ऑफिस पहुंचे जहां एडिशनल एसपी विवेक लाल को 3 सूत्री मांगों का ज्ञापन सौंपते हुए वस्तु स्थिति से अवगत कराया गया तथा प्रदेश में पत्रकार सुरक्षा मामले को लेकर गंभीरता से ध्यान दिए जाने की मांग की गई। इस मौके पर बड़ी संख्या में जागरूक पत्रकार जनों की मौजूदगी रही। 
 पन्ना जिले में एक पत्रकार के खिलाफ ठेकेदार के इशारे पर फर्जी प्रकरण दर्ज किए जाने के मामले से पहले से आंदोलित पत्रकारों ने आज से भूख हड़ताल शुरू कर दी है। पत्रकारों को कहना है जब तक फर्जी प्रकरण वापस नहीं लिया जाता और दोषी ठेकेदार पर कार्यवाही नहीं होती तब तक आंदोलन जारी रहेगा। यहां के पत्रकारों ने शाहगढ़ में पत्रकार चक्रेश जैन को जिंदा जलाने की घटना की निंदा करते हुए दोषियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। 
गढ़ाकोटा, बंडा, राहतगढ़, गौरझामर में भी सौंपे ज्ञापन-
पत्रकार को जिंदा जलाने की घटना से संभाग के ग्रामीण अंचलों की पत्रकारों में भी आक्रोश का माहौल बना हुआ है तथा विभिन्न मांगों को लेकर विभिन्न पत्रकार संगठनों द्वारा अपने-अपने क्षेत्र में अलग-अलग ज्ञापन सौंपकर कार्यवाही की मांग की है इसी कड़ी में गढ़ाकोटा बंडा गौरझामर राहतगढ़ आदि में भी ज्ञापन सौंपे गए है।
गढ़ाकोटा के पत्रकारों मुख्यमंत्री के नाम तहशीलदार को सौंपे ज्ञापन में मृतक के परिजनों को मध्य प्रदेश शासन से एक करोड़ की आर्थिक सहायता एवं नौकरी के साथ दोषी पर 302 का मामला दर्ज कर शाहगढ़ थाना प्रभारी के निलंबन की मांग की है। ज्ञापन देने वालो में पत्रकार रवि सोनी, शंभू चौरसिया, देवी सिंह, बिक्की जैन, राजेन्द्र चौबे, गोबिंद विश्वकर्मा,नितिन साहू, कुलदीप चौरसिया, मुन्ना साहू, परसोत्तम पटेल, संतोष रजक, नीलेश चौरसिया सहित अनेक पत्रकार मौजूद रहे।
शाहगढ़ में बुधवार को पत्रकार चक्रेश जैन और जनपद के डीपीओ अमन चौधरी के बीच विवाद के बाद जो घटनाक्रम की जानकारी सामने आई थी तथा मृतक की मृत्यु पूर्व अपने भाई से चर्चा का जो वीडियो वायरल हुआ था। उसके बाद मृतक के भाई ने जो आरोप लगाए तथा सागर एसपी ने जो कुछ कहा था वह सब इस वीडियो से समझा जा सकता हैं।

Post a comment

0 Comments