Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

PHE का रिटायर्ड अफसर निकला करोड़ों का आसामी.. EOW ने जबलपुर में सुरेश उपाध्याय के 4 ठिकानों पर एक साथ की छापामार कार्रवाई.. आय से अधिक संपत्ति की जांच में जुटी 50 सदस्यी टीम..

PHE का रिटायर्ड अफसर निकला करोड़ों का आसामी.. 
जबलपुर। लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के रिटायर्ड अफसर सुरेश उपाध्याय एवं परिजनों के चार ठिकानों पर जारी ईओडब्ल्यू की छापामार कार्रवाई से हड़कंप के हालात बने हुए है। प्रारंभिक जांच में करोड़ों की संपत्ति का खुलासा हुआ है वही और भी बड़े खुलासे की उम्मीद की जा रही है।
ईओडब्ल्यू के डीएसपी राजवर्धन माहेश्वरी के नेतृत्व में 50 सदस्यों की टीम मंगलवार की सुबह पीएचई के रिटायर अफसर सुरेश उपाध्याय के चार अलग-अलग ठिकानों पर सर्च वारंट लेकर जांच कार्रवाई करने के लिए पहुंची। इस दौरान बिलहरी स्थित आनन्द तारा बांग्ला नंबर 52, पैतृक निवास, भीरा करजवारा, सदर कार्यालय आदि ठिकानों पर संपत्ति की जांच की कार्रवाई की गई। आरंभिक जांच में सुरेश उपाध्याय उनकी पत्नी अनुराधा और पुत्र सचिन के नाम पर अनेक आलीशान मकान फार्म हाउस कृषि भूमि आधा दर्जन से अधिक लग्जरी वाहन बैंक अकाउंट बीमा पालिसी आदि का खुलासा हुआ है।
मामले में ईओडब्ल्यू के एसपी देवेंद्र राजपूत ने बताया कि लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के रिटायर अधिकारी सुरेश उपाध्याय के पास आय से अधिक संपत्ति मामले की शिकायत पर लगातार जांच चल रही थी इस मामले में 20 जून को सुरेश उनकी पत्नी तथा पुत्र के खिलाफ एफ आई आर दर्ज किए जाने के बाद सर्चिंग वारंट के साथ आज यह कार्यवाही शुरू की गई है जिसमें करोड़ों की संपत्ति का खुलासा होने की उम्मीद है। 
उपरोक्त कार्रवाई की भनक लगते ही आय से अधिक संपत्ति वाले भ्रष्ट अधिकारियों के बीच में हड़कंप के हालात बने हुए हैं। उल्लेखनीय है कि सुरेश उपाध्याय तत्कालीन विधानसभा अध्यक्ष ईश्वरदास रोहाणी के  करीबी लोगों में रहे है। उनके ठिकानों पर छापामार कार्रवाई के बाद एक बार फिर उनके पुराने राजनैतिक पहुंच को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म रहा। जबलपुर से आलोक जैन सहारा की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments