Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

श्री तारण तरण दिगंबर जैन अतिशय क्षेत्र निसाई जी में बाल संस्कार शिविर संपन्न.. संस्कारित बच्चों को किया गया सम्मान विदा.. जिनवाणी जी के साथ पालकी शोभायात्रा निकली..

 परीक्षा हाल में जाने से पहले गुलाब दे प्रोत्साहित किया-
दमोह। जिला मुख्यालय से करीब 45 किमी दूर पथरिया तहसील में स्थित श्री तारण तरण दिगम्बर जैन अतिशय तीर्थ क्षेत्र निसई जी सूखा में  7 दिवसीय बाल संस्कार शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें बड़ी संख्या में बच्चों ने सम्मिलित होकर संस्कारित शिक्षा ग्रहण की। शिविर समापन मंदिर विधि पारितोसिक वितरण के साथ सम्पन्न हुआ। इस मौके पर निकाली गई पालकी यात्रा में  सभी शिविरार्थयो ने शामिल होकर तीन परिक्रमा की।
 ग्रीष्मकालीन 7 दिवसीय आवासीय बाल संस्कार शिविर में प्रथम दिन जिनवाणी अस्थाप और प्रातः बच्चो द्वारा प्रभात फेरी निकाली गई।  6 दिन तक संस्कार कक्षाओं का संचालन हुआ। जिसमें बच्चो के धार्मिक सामाजिक गुणों को विकसित करने हेतु प्रयास किया गया। कार्यक्रम के अंतिम दिन शिविर के समापन के पूर्व एक परीक्षा आयोजित की गई।
 सभी परीक्षार्थियों को परीक्षा हॉल जाते समय गुलाब के फूल से प्रोत्साहित किया गया गया। उसके बाद सभी को सम्मानित किया गया। शिविर में मयंक जैन बटियागढ़ को सर्वश्रेष्ट विद्यार्थी के रूप में चयनित किया गया।  यह शिविर निःशुल्क आवासीय था। शिविर समापन की पूर्व संध्या पर स्वर्ण चांदी जड़ित पालकी जी मे जिनवाणी विराजमान कर चैत्यालय की 3 परिक्रमा की गई।
 शिविर के दौरान रात्रि में सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किये गए।  शिविर में बाल ब्रह आत्मानंद जी महाराज वैराग्य भैया, चिदानंद जी, मुक्तानंद जी, अमित भैया, रजत भैया, संस्कार जी, अभिनंदन जी सहित अंजना दीदी, बबली दीदी, शिल्पी दीदी आदि विद्वानों ने बच्चो को शिक्षा के साथ धार्मिक और नैतिक सामाजिक संस्कार प्रदान किये।
सात दिवसीय शिविर को पूर्णता प्रदान करने के साथ कार्यक्रम को सफल बनाने में तारण तरण युवा परिषद,  तीर्थ कमेटी, तारण तरण महिला मंडल, बालिका मंडल सहित सभी समाज जनों का सहयोग रहा। शिविर स्थल से संयोजक भूपेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments