Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कुंडलपुर में चातुर्मास हेतु दमोह से सैकड़ो लोग दयोदय जबलपुर पहुंचे.. आचार्य श्री विद्यासागर महाराज को श्रीफल भेंट कर निवेदन किया.. श्रुत पंचमी महा महोत्सव 7 जून को..

आचार्य श्री से कुंडलपुर में चातुर्मास करने निवेदन किया-
 दमोह।  सर्व श्रेष्ठ साधक आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के शिष्य मुनि श्री विमल सागर, मुनिश्री अनंत सागर, मुनि श्री धर्म सागर, मुनि श्री अचल सागर एवं मुनि श्री भाव सागर जी महाराज दिगंबर जैन नन्हे मंदिर दमोह में विराजमान है। मुनि संघ के सानिध्य में विविध धार्मिक आयोजन चल रहे है। कुंडलपुर में निर्माणाधीन बड़े बाबा के मंदिर का कार्य जल्द पूरा हो ऐसी भावना से इस वर्ष का आचार्य श्री का वर्षा योग कुंडलपुर में होने की आकांछा सभी जैन श्रावक रखे हुए है।
 मंगलवार 4 जून को दमोह नगर से 7 बस एवं 50 से अधिक फोर व्हीलर वाहन से सैकडों लोग मुनि संघ से आशीर्वाद लेकर जबलपुर पहुचे। जहा दयोदय में विराज मान आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के दर्शन करके कुंडलपुर में चातुर्मास हेतु निवेदन किया गया। ज्ञात हो कि कुंडलपुर तीर्थक्षेत्र में पाषाण के मंदिर का कार्य तीव्र गति से चल रहा है। बड़े बाबा के मंदिर के दोनों ओर दो मंदिरो के शिखर की चाबी लगना है उम्मीद है कि जून के महीने में चाबी  लग सकती है। 
आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज से कमेटी ने कई बार निवेदन किया है। सम्भावना है कि गुरुदेव का आगमन हो सकता है। चातुर्मास की उम्मीद भी कुंडलपुर तीर्थ कमेटी लगाये हुए है। पूर्व में 5 बार चातुर्मास एवं अनेक प्रवास हो चुके है। श्रुतपंचमी के बाद चातुर्मास कौन साधु कहा करेंगे प्रारम्भ हो जाता है। इस वर्ष पूरे भारत में 15 जुलाई 2019 को चातुर्मास की स्थापना होगी। 
जबलपुर जाकर निवेदन करने वालों में  कुंडलपुर कमेटी, दिगंबर जैन पंचायत,  शाकाहार उपासना परिसंघ, जैन सेवादल, गौशाला समिति,  महावीर जन्म उत्सव समिति सहित विभिन्न मंदिरों से जुड़े पदाधिकारी  एवं सकल जैन समाज मौजूदगी रही।
मुनि संघ के सानिध्य में श्रुत पंचमी महा महोत्सव 7 जून को 
दमोह की जैन धर्म शाला में मुनि श्री विमलसागर महाराज के ससंघ सानिध्य में 7 जून को प्रातः काल श्रुत पंचमी महा महोत्सव मनाया जाएगा। शाकाहार उपासना परिसंघ कमेटी ने बताया कि प्रातः 6 बजे देव ,शास्त्र, गुरु की शोभायात्रा निकलेगी। फिर श्रुतस्कन्ध का अभिषेक होगा। दमोह नगर के इतिहास में प्रथम बार होगा 1008 शास्त्र महिलाएं सिर पर रखकर शोभायात्रा मे चलेगी। नंन्हे जैन मंदिर में षटखंडागम आदि ग्रंथो की महापूजन होगी। शास्त्र लकी ड्रा योजना का ड्रा निकाला जाएगा। जिसमे प्रथम, द्वितीय,  तृतीय एवं सांत्वना पुरस्कार का चयन होगा। तथा मुनिश्री के प्रवचन होगे।

Post a comment

0 Comments