Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

मोदी मैजिक में मुशिकल हुआ UPA का शतक.. तीन राज्यो में 6 माह पूर्व सत्ता गंवा भाजपा ने फतह हासिल की.. प्रह्लाद पटेल की बढ़त 3 लाख पार, बुंदेलखंड में सभी सीटों पर मिली लाखों की बढ़त..

मोदी मैजिक में UPA का शतक(100) हुआ मुशिकल
देश की जनता ने एक बार फिर नरेंद्र मोदी पर भरोसा जताया है और उन्हें अगले पांंच साल के लिए देश की बागडोर सौंप दी है। भारतीय जनता पार्टी की ऐतिहासिक जीत के बाद जहां विपक्षी दलों को अपनी हैसियत का अहसास हो गया है वही कांग्रेस नीत गठबंधन UPA अब शतक(100) तक पहुचने के लिए संघर्ष कर रहा है। 
मोदी मेजिक के चलते भाजपा प्रत्याशियों की बढ़त का आंकड़ा लगभग सभी जगह लाख को पार कर चुका है। देश भर में बीजेपी समर्थकों में खुशी की लहर है। खासकर मप्र, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में जहा 6 महीने पहले हुए चुनाव में भाजपा को सत्ता गंवाना पड़ी थी। परंतु 6 महीने पहले मिले हार के झटके के बाद सम्हली भाजपा ने लोकसभा चुनाव को पूरी गंभीरता से लड़कर इन तीनो राज्यो में कांग्रेस को चारों खाने चित्त कर दिया है। मप्र में छिंदवाड़ा छोड़कर सभी 28 सीटों पर भाजपा बढ़त बनाये हुए है। राजस्थान में भी यही हाल है।  छत्तीसगढ़ में भी बीजेपी ने जबरदस्त वापसी की है। जिसका श्रेय मोदी शाह की कड़ी मेहनत और कुशल रणनीति को दिया जा रहा है। 
 लोकसभा चुनाव में भाजपा और सहयोगी दलों को मिल रही बढ़त को लेकर पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा- 'सबका साथ+सबका विकास+सबका विश्वास= विजयी भारत'। वहीं बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने अपने ट्वीट में मोदी सरकार बनाने के लिए देश वासियों को बधाई दी है। इधर भाजपा की ऐतिहासिक जीत को कुछ नेता पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई की तरह दार्शनिक अंदाज में लेकर यह कहने से भी नहीं चूक रहे हैं कि सरकारें आएगी जाएगी मगर यह देश रहना चाहिए।
कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को बधाई देते हुये कहा कि अब समय आ गया है कि कांग्रेस को भी एक अमित शाह चाहिए। कांग्रेस नेता अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट कर कहा, 'जीत में पराक्रम, हार में सम्मान। मोदी जी, अमित शाह और बीजेपी को हार्दिक बधाई। उनका राष्ट्रवाद का ब्रांड (हमारे अनुसार नकली) ने शोषण और विद्वता के रूप में काम किया। कहीं न कहीं, हमारा असल मुद्दा नौकरी, कृषि, अर्थव्यवस्था और राफेल फेल रहे।' 
चुनाव नतीजे आने के पहले ही  कांग्रेसी नेता  अपना बोरिया बिस्तर समेटते नजर आ रहे हैं।इधर कांग्रेस की हार के साथ सोशल मीडिया पर तरह तरह के कार्टूनों के जरिये कताक्ष का दौर शुरु हो गया है।कुल मिलाकर मोदी मैजिक में उत्तर दक्षिण और पूर्व के कुछ राज्यों को छोड़ दिया जाए तो भाजपा विरोधी दलों को अपने अस्तित्व बचाए रखने के लिए कड़ा संघर्ष करना पड़ा है।
बुंदेलखंड की सभी सीटों पर लाखों की बढ़त, प्रह्लाद पटेल की बढ़त 3 लाख पार-मध्य प्रदेश के बुंदेलखंड की चारो सीटों पर भाजपा की तय हो जाने के साथ जीत का अंतर लाखो में होना भी तय हो गया है। दमोह से पूर्व केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल की बढ़त 3 लाख तक पहुच गई है। यह आंकड़ा और भी बढ़ता जा रहा है।
खजुराहो से बीडी शर्मा, सागर से राज बहादुर तथा टीकमगढ़ से वीरेंद्र खटीक भी 2 लाख से अधिक की बढ़त बना चुके है। मप्र की 29 में से छिंदवाड़ा को छोड़कर सभी जगह भाजपा की बढ़त बनी हुई है। छिंदवाड़ा से CM कमलनाथ के बेटे नुकूल नाथ की बढ़त भी इतनी नही है कि उसे कवर नही किया जा सके। कुल मिलाकर मोदी लहर में उनकी भी नैया पार हो गई है जिनको अपनी कश्ती के किनारे तक पहुंचने का भरोसा नहीं था। बहुत-बहुत बधाई देश की जनता जनार्दन के साथ मोदी और शाह के करिश्माई नेतृत्व को। 
जेठ वैशाख माह की तपती दोपहरी में कमल खिलाने के लिए दिन-रात एक करने वाले कार्यकर्ताओं को भी बहुत बहुत बधाई। क्योंकि मतदाताओ को घरों से निकालकर मतदान केंद्रों तक ले जाने में आम कार्यकर्ताओ की सबसे अहम भूमिका रही है। अटल राजेंद्र जैन

Post a comment

0 Comments