Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह कटनी के बीच मालगाड़ी का डिब्बा बेपटरी हुआ.. बीना-कटनी के बीच अनेक गाड़िया प्रभावित, छोटे स्टेशनों पर यात्री हुए परेशान.. क्षिप्रा सहित अनेक ट्रेने हुई घंटो लेट..

बीना-कटनी के बीच अनेक गाड़िया 3 घँटे से अधिक लेट
दमोह। कटनी रेल मार्ग पर सागोनी और रतन गांव  स्टेशन के बीच मालगाड़ी का एक डिब्बा पटरी से उतर जाने की वजह से बीना कटनी रूट पर कई घंटे तक  रेल यातायात प्रभावित रहा। करीब 3 घंटे की मशक्कत के बाद रेल ट्रेक को गाड़ियों के आवागमन हेतु दुरस्त किया जा सका।इसके बाद शाम 7:00 बजे से रेल सेवाएं बहाल होने की जानकारी सामने आई है।
 प्राप्त जानकारी के अनुसार मंगलवार दोपहर कटनी तरफ से आ रही आयरन मालगाड़ी का एक डिब्बा रतनगांव सगौनी स्टेशन के बीच मझगवां फाटक के पास अचानक पटरी से उतर गया। जिससे मालगाड़ी को झटका लगते ही पायलट ने इमरजेंसी ब्रेक लगाकर अन्य डिब्बों को बैपटरी होने से बचा लिया। कुछ ही देर में कटनी से रेलवे की टीम मौके पर पहुंची तथा बेपटरी हुए डिब्बे से मालगाड़ी के अन्य डिब्बों को अलग करके सुधार कार्य शुरू किया गया। 

हादसे में रेल ट्रेक प्रभावित होने की वजह से 3 घंटे से अधिक तक सुधार कार्य चलता रहा। हादसे की वजह पहियों का हाट बॉक्स होना बताया जा रहा है। मंगलवार दोपहर 3:00 बजे हुई इस दुर्घटना के बाद 7 बीना कटनी ट्रैक पर दमोह कटनी के बीच अनेक गाड़ियों के पहिए थमे रहे। भोपाल बिलासपुर तथा कटनी पैसेंजर करीब तीन घँटे तक रुकी रही। वही  एक्सप्रेस सहित अन्य ट्रेन अभी प्रभावित हुई। दमोह स्टेशन मास्टर एससी अग्रवाल ने बताया कि शाम 7:30 बजे के करीब गाड़ियों का शुरू हो गया है।
इस हादसे में मालगाड़ी का एक डिब्बा ही पटरी से उतरने के बावजूद घटना को सनसनीखेज बनाने इंजन सहित तीन डिब्बे पटरी से उतरने की खबर बायरल किए जाने के साथ अनेक न्यूज चैनलों की ब्रेकिंग बनती नजर आई। हादसे की बजह से बीच के छोटे स्टेशनों पर रूकी रही गाड़ियों में सवार यात्रियों को सबसे अधिक परेशानी का सामना करना पड़ा। भीषण गर्मी तेज धूप के साथ पीने के पानी तक का इंतजाम नहीं होने से बच्चों, महिलाओं सहित परेशान होते रहे। वही अक्षय तृतिया पर्व पर बड़ी संख्या में विवाह आयोजन होने से बारातों में आने जाने वालों का भी जमकर परेशानी उठानी पड़ी। दुर्घटना स्थल से समीर हसन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments