Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

पथरिया में 'चौकीदार चोर है' के नारों से राहुल के भाषण की शुरुआत.. कांग्रेस प्रत्याशी प्रताप सिंह की फोटो तथा राव ब्रजेंद्र सिंह मंच से गायब, भाजपा के पूर्व प्रदेश मंत्री ऋषि लोधी ने थामा हाथ..

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पथरिया में जमकर गरजे-
दमोह। नागरिकता विवाद के बीच मंगलवार को बुंदेलखंड के तीन संसदीय क्षेत्रों में चुनावी जनसभा को संबोधित करने पहुंचे कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक बार फिर चौकीदार चोर है के नारे से सभा की शुरुआत की। दमोह जिले के पथरिया में 45 डिग्री टेंपरेचर के बीच मुख्यमंत्री कमलनाथ के साथ  हेलीकॉप्टर से पहुंचे राहुल गांधी का गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया। परंतु मंच के बाहर  लगे बैनर से प्रत्यासी प्रताप सिंह की फोटो नदारद रहना चर्चा का विषय बना रहा।
पथरिया में राहुल के निशाने पर बुंदेलखंड विकास के नाम पर पूर्वर्ती यूपीए सरकार के कार्यकाल में भेजी गई अरबों रुपए की राशि के बंदरबांट भ्रष्टाचार का मुद्दा रहा। मजे की बात यह रही जब श्री गांधी यह संबोधन दे रहे थे उस दौरान मंच पर बुंदेलखंड विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष और भाजपा से कांग्रेस में शामिल हुए रामकृष्ण कुसमरिया बाबाजी भी मौजूद थे। राहुल ने कहा, 'बीजेपी वालों ने इलेक्शन कमिशन को शिकायत की है चौकीदार शब्द का प्रयोग नहीं करना चाहिए। लेकिन मैं क्या करूं जब भी कही जाता हूँ  और कहूं कि चौकीदार.... और जनता बोले...' (चोर है)। इससे साफ नजर आता है कि जनता भी समझती है कि चोर कौन है।
राहुल गांधी ने मंच से जिले के लिए मेडिकल कॉलेज का एलान किया है लेकिन जहाँ रैली हुई वहां के लिए कुछ नही कहा। सरकारी नौकरियों में 22 लाख पद खाली हैं। मेरा आपसे वादा है कि हमारी सरकार आते ही हम 22 लाख पदों की भर्तियां करेंगे। 22 लाख युवाओं को नौकरी देंगे। साथ ही 10 लाख युवाओं को पंचायतों में नौकरी देंगे।' राहुल ने कहा, 'न्याय योजना के साथ किसानों के लिए हम अलग से बजट लाएंगे जिसमें कर्ज न चुकाने पर किसानों को जेल नहीं होगी। मैं कहता हूं कि उनका कर्ज माफ होगा, तो आपका भी होगा। उनके अकाउंट में पैसा आएगा तो आपके अकाउंट में भी आएगा।'
 मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले पांच सालों में चौकीदार ने जमकर गरीबों से पैसा खींचा। इस पैसे को अंबानी, माल्या और नीरव मोदी जैसे 15 चोरों को दे दिया । ''अंबानी, नीरव-माल्या किसी को नहीं छोड़ेंगे उन्होंने कहा, ''नोटबंदी के बाद विजय माल्या, नीरव मोदी और अंबानी जैसे अमीर लोग लाइन में नहीं लगे, बल्कि बुंदेलखण्ड के गरीब लोग अपने पैसे के लिए कतार में लगे रहे। मैं अंबानी, नीरव मोदी, माल्या किसी को भी नहीं छोडूंगा। हम न्याय योजना के जरिए देश की अर्थव्यवस्था को चालू करने का काम करेंगे।कांग्रेस की सरकार बनते ही युवाओं के लिए रोजगार के अवसर खुल जाएंगे और लोग अपने तरीके से जिंदगी जी सकेंगे।'हम बुंदेलखंड के लोगों के खाते में 72 हजार रुपए डालेंगे। हम 25 करोड़ गरीबों को हर साल 72 हजार रुपए देंगे। ये पैसा घर की महिला के अकाउंट में आएगा।
वादा निभाने वाली सरकार है कांग्रेस: कमलनाथ- 
मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी सभा को  संबोधित कर कहा कि कांग्रेस द्वारा की गई घोषणाओं को पूरा करने के लक्ष्य से चले हैं हम। कमलनाथ ने कहा हमने किसानो के कर्ज़ माफ करने कहा था तो कर्ज माफ़ किया। बिजली बिल 100 यूनिट पर 100 रुपये बिल कहा उसे किया। शिव राज पर गरजते हुए कमलनाथ ने कहा 15 साल बाद  म.प्र.में  कॉंग्रेस की सरकार  बनी। भारतीय जनता पार्टी ने 15 साल बाद प्रदेश ऐसा सौंपा जहां किसानों की आत्महत्या में, बेरोजगारी में, बलात्कार में, भ्रस्टाचार में मध्य प्रदेश नंबर वन था। हमारी सरकार ने 75 दिन में सुधार कर राहुल गांधी के आदेश पर 50 लाख किसानों का 21 लाख का कर्जा माफ किया। 
प्रत्याशी प्रताप सिंह ने क्षेत्र विकास का खाका रखा-
इस अवसर पर कांग्रेस प्रत्याशी प्रताप सिंह ने दमोह लोकसभा क्षेत्र के विकास के मुद्दे को लेकर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के समाज मंच से क्षेत्र विकास का खाखा पेश करते हुए बताया कि बाय सेम सीमेंट फैक्ट्री के अलावा और कोई उद्योग धंधा नहीं है वहीं माध्यम के जरिए भी स्थानीय लोगों की रोजगार के मामले में उपेक्षा की जाती रही है। सभा मंच पर मंत्री हर्ष यादव, जिला अध्यक्ष अजय टंडन, विधायक राहुल सिंह, प्रद्युम्न सिंह, तरवर सिंह, पूर्व मंत्री  रामकृष्ण कुसमरिया, पथरिया नपा अध्यक्ष कृष्णा लक्ष्मण सिंह, प्रत्याशी गौरव पटेल आदि अपने समर्थकों के साथ मौजूद रहे।
 कुल मिलाकर भीषण गर्मी और तपती दोपहरी में राहुल गांधी की सभा में जुटी भीड़ कांग्रेस और प्रत्यााशी के लिए अपेक्षा से अधिक मानी जा सकती है। वही राहुल के सभा मंच पर विधानसभा चुनाव में जबरदस्त प्रदर्शन करने वाले राव बृजेंद्र सिंह की अनुपस्थिति चर्चा का विषय रही। इधर भाजपा के पूर्व प्रदेश मंत्री ऋषि लोधी के कांग्रेस प्रवेश की घोषणा के बावजूद उनका मंच पर नजर नहीं आना भी चर्चा का कारण बना रहा।
सबसे खास बात सभा मंच के बाहर लगाए गए बैनर में प्रत्याशी प्रताप सिंह की फोटो नदारद रहना मीडिया के संज्ञान में आने के बाद सुर्खियां बन गया। प्रबल सोनी के साथ अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments