Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

भाजपा प्रत्याशी के विरोध की आग खजुराहो से सागर पहुंची.. वंशवाद के विरोध में प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह, पूर्व गृह मंत्री भूपेंद्र सिंह के पुतले फूंके..

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के खिलाफ नारेबाजी; प्रदर्शन-
सागर। सागर संभाग की चारों लोकसभा सीटों पर भाजपा टिकट वितरण को लेकर असंतोष की हालात छिपे नहीं है। खजुराहो से बाहरी प्रत्याशी बीडी शर्मा को टिकट दिए जाने के बाद खुलकर शुरू हुई पुतला दहन और विरोध की राजनीति अब सागर तक पहुंच चुकी है। सागर से राज बहादुर सिंह भाजपा प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद वंशवाद की राजनीति के विरोध में पार्टी कार्यकर्ता खुलकर सामने आ गए हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह और पूर्व गृहमंत्री भूपेंद्र सिंह के विरोध में नारेबाजी के साथ विरोध प्रदर्शन के बाद पुतला दहन के हालात ने भाजपा की गुटी राजनीति को उजागर कर दिया है। 
सागर में बुधवार रात भाजपा के कद्दावर नेता पूर्व गृह मंत्री खुरई विधायक भूपेंद्र सिंह के साथ भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह के विरोध में पार्टी कार्यकर्ता बगावती तेवर दिखाते नारेबाजी के साथ पुतला दहन करके अपने इरादे साफ करते नजर आए। भाजपा से राज बहादुर सिंह को सागर लोकसभा से प्रत्याशी घोषित किए जाने के बाद यह विरोध प्रदर्शन किया गया था। इस विरोध प्रदर्शन को वंशवाद का विरोध का बताते हुये नाराजगी जताई जा रही है। पुतले जलाने वाले कार्यकर्ताओं का आरोप है कि भाजपा विधायक भूपेंद्र सिंह और प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह वंशवाद की राजनीति कर रहे हैं। 
यही वजह है कि उन्होंने सागर लोकसभा से मजबूत दावेदारों को किनारे कराते हुए अपने रिश्तेदार राज बहादुर सिंह को भाजपा की टिकट दिला दी। इस पुतला दहन के बाद गुरुवार को और भी मुखर विरोध प्रदर्शन की तैयारी में सांसद समर्थक तथा भाजपा टिकिट से वंचित दूसरे दावेदारों के समर्थक जुटे बताये जा रहे है। खजुराहो की बात सागर में भी पार्टी प्रत्याशी चयन को लेकर खुलकर विरोध सामने आने से सागर संभाग के चारों संसदीय क्षेत्रों में भाजपा को खामियाजा उठाना पड़ सकता है। समय रहते हालात का गंभीरता से आकलन करके सुधार नहीं किए जाने पर सारे पूर्वानुमान और फील गुड यदि हवा हवाई हो गए तो विधानसभा चुनाव की तरह नजदीकी मुकाबले के साथ हाथ मलने के अलावा और कोई चारा नहीं बचेगा ।  अटल राजेन्द्र जैन की रिपोर्ट 

Post a comment

0 Comments