Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

हिंदू संगठनों की घेराबंदी के बाद गोवंश से भरे ट्रक को छोड़कर भागे मवेशी तस्कर.. घंटाघर पहुचते ही भीड़ ने की तोड़फोड़.. जबरदस्त विरोध प्रदर्शन के बीच कोतवाली पहुचाया गया ट्रक..

हिंदू संगठनों ने इमलाई में गौवंश से भरा ट्रक पकड़ा-
दमोह। मप्र में सत्ता परिवर्तन के साथ गौवंश की तस्करी तेजी से पैर पसार चुकी है। वहीं हिंदू संगठनों ने भी अपने खुफिया तंत्र का जाल मजबूत करते हुए सक्रियता बढ़ा दी है। ऐसे ही कुछ हालात में मंगलवार रात छतरपुर तरफ से दमोह आ रहे गोवंश से भरे एक ट्रक के पकड़े जाने के बाद आक्रोशित भीड़ ने ट्रक में तोड़फोड़ के साथ विरोध प्रदर्शन किया। जिससे घण्टे भर से अधिक तक अफरा-तफरी के हालात बने रहे।
प्राप्त जानकारी के अनुसार श्रीराम परिषद और बजरंग दल के सदस्यों को मंगलवार रात सूचना मिली थी कि यूपी पासिंग का एक ट्रक जिस में गोवंश भरे हुए हैं वह दमोह तरफ आ रहा है। जिसके बाद बटियागढ़ से ही संगठन के सदस्य सक्रिय हो गए थे। कुछ युवकों द्वारा वाहनों से पीछा किए जाने पर नरसिंहगढ़ के पास कोपरा पुल पर ट्रक को रोककर मवेशी तस्करों ने यूपी पासिंग की नंबर प्लेट के ऊपर एमपी पासिंग की नंबर प्लेट चस्पा कर दी।
इसके बाद भी उपरोक्त ट्रक हिंदू संगठनों की नजर में आ गया। इस बीच हंड्रेड डायल को सूचना के साथ बड़ी संख्या में श्रीराम परिषद और बजरंग दल के युवा इमलाई पहुंच गए। जहां उनके द्वारा मवेशी से भरे ट्रक को रोके जाने पर ट्रक चालक ने हंड्रेड डायल तथा राहगीरों को कट मारकर कुचलने का प्रयास किया। बाद में तेजी से ट्रक को ले जाकर माईसेम सीमेंट फैक्ट्री की दीर्घा में खड़े ट्रकों के बीच में फंसा कर खड़ा कर दिया। 
इस दौरान युवाओं की भीड़ को आते देख ट्रक में सवार करीब आधा दर्जन लोग मौके से भाग गए।  इधर इमलाई फैक्ट्री के बाहर खड़े अन्य ट्रक चालकों की मदद से गोवंश से भरे ट्रक को दमोह शहर लाया गया। इस दौरान घंटा घर पर सैकड़ों की संख्या में भीड़ एकत्रित हो गई तथा लोगों ने ट्रक के कांच आदि फोड़ते हुए कार्यवाही की मांग को लेकर नारेबाजी के साथ विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया। 
जानकारी लगने पर बड़ी संख्या में पुलिस बल भी घंटाघर पहुंच गया। इसके बाद जोरदार प्रदर्शन और नारेबाजी के साथ प्रदर्शन करते हुए सैकड़ों की संख्या में गौ भक्तों के साथ हिंदू संगठनों के लोग ट्रक के साथ कोतवाली पहुंचे। जहा पर गौ वंश को मुक्त कराया गया।

घटनाक्रम को लेकर एडिशनल एसपी विक्रम कुशवाहा ने बताया कि डबल नंबर प्लेट पाई गई है 2 दर्जन से अधिक गोवंश भरे हुए थे, यह कहां से आ रहे थे, कहां जा रहे थे, कौन ले जा रहा था और किन लोगों ने वारदात को अंजाम दिया है इन सब की पुलिस जांच कर रही है। 

जबकि हिंदू संगठनों का कहना था किसी भी हालत में दमोह जिले की सीमा से गौवंश की तस्करी वाले वाहनों को निकलने नही देंगे। चाहे इसके लिए रात रात भर जाग कर कितना ही संघर्ष क्यों ना करना पड़े।
तनुज पराशर की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments