Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

जबलपुर रोड पर फिल्मी स्टाइल में UP के मवेशी तस्करों से MP पुलिस की भिड़ंत.. कंटेनर की टक्कर से पुलिस वाहन क्षतिग्रस्त, सिपाही सहित ग्राम रक्षा समिति के सदस्य घायल..

 पुलिस वाहन हुआ क्षतिग्रस्त, आरक्षक का पैर टूटा-
दमोह। जबलपुर रोड पर बीती रात मवेशियों से भरे यूपी पासिंग के एक कंटेनर ट्रक को पकड़ने के चक्कर में एमपी पुलिस के वीरो तथा ग्राम रक्षा समिति के बहादुर युवकों की जान जोखिम में फंसने जैसे हालात निर्मित हो गए। ट्रक चालक ने पुलिस वाहन को जबरदस्त टक्कर मारी और भाग गया।
यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि एमपी पुलिस और यूपी के मवेशी तस्करों के बीच बीती रात वाहनों के पीछा करने के दौरान निर्मित घटनाक्रम है। जिसमें जबेरा थाना पुलिस  का वाहन क्षतिग्रस्त हो गया और एक आरक्षक का पैर टूट गया, अन्य पुलिसकर्मियों को भी मामूली चोटे आई। दरअसल सिग्रामपुर चौकी पुलिस को देर रात सूचना मिली थी कि जबलपुर तरफ से ट्रक क्रमांक यूपी 79 T-4453 में मवेशी भर कर कानपुर ले जाये जा रहे है। इसके बाद सिग्रामपुर चौकी प्रभारी नीतू खटीक स्थानीय पुलिस 100 डायल और ग्राम रक्षा समिति के साथ ट्रक का इंतजार कर रही थी।
 ट्रक के आते ही उसे रोकने का प्रयास किया गया लेकिन 100 डायल को कट मारते हुए वह तेज गति से दमोह तरफ आगे बढ़ गया। इसके बाद सिग्रामपुर चौकी प्रभारी ने ट्रक का पीछा करते हुए जबेरा थाना पुलिस और पुलिस कंट्रोल रूम सूचना दी। जबेरा में भी ट्रक के नहीं रुकने पर जबेरा पुलिस का वाहन भी उसके पीछे लग गया। बाद में कलेहरा ग्राम के जंगल में चालक ने चालाकी के साथ ट्रक को रोका और जैसे ही पुलिस वाहन नजदीक आया तो उसने ट्रक को बैक करते हुए पीछे से पुलिस वाहन को टक्कर मारी और ट्रक को नोहटा की तरफ दौड़ा दिया।

 ट्रक के पिछले से की टक्कर से पुलिस वाहन की अगला हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया और वाहन में सवार आरक्षक कल्याण सिंह के पैर में गंभीर चोट आई। वहीं अन्य स्टाफ को भी मामूली चोटे आई। हादसे में पुलिस वाहन चालक लवकुश तिवारी तथा ग्राम रक्षा समिति के सदस्य आशुतोष तिवारी के कंधे में चोट आई है पप्पू मिश्रा कूद कर बच गए। ASI अशोक ठाकुर भी बाल बाल बच गए।


ट्रक चालक पुनः नोहटा की और भागा और 100 डायल को पुनः कट मारकर तेजगति से आगे बढ़ा। चौकी प्रभारी नीतू खटीक ने नोहटा, तेजगढ़ और बनवार थाने को सूचना दी। नोहटा थाना स्टाफ की घेरा बन्दी से सत्रह मील पर ट्रक को पकड़ने में पुलिस को सफलता मिल पाई। किन्तु अंधेरे का लाभ उठाकर ट्रक चालक एव परिचालक भागने में सफल हुए।

जबेरा पुलिस ने ट्रक एव पशुओं को कब्जे में लेकर विभिन्न धाराओं के तहत प्रकरण पंजीबद्ध कर के ट्रक चालक और मवेशी तस्करों की तलाश शुरू कर दी है। ट्रक मे 27 भैस पड़े लदे थे जिनको तेंदूखेड़ा गौशाला भेजा रहा है। जबेरा सिग्रामपुर नोहटा पुलिस द्वारा आधी रात में किए गए सतत प्रयास और साहस की सराहना की जा रही है। जबेरा से मयंक जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments