Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

हरियाणा के कंटेनर से महाराष्ट्र तक गौवंश की तस्करी.. नोहटा पुलिस ने कंटेनर में भरे 70 गाय बैल मुक्त कराए, चोरी की स्कॉर्पियो सहित चार गिरफ्तार..

कंटेनर में क्रूरता पूर्वक भरे दो मवेशियों की मौत-
दमोह। यूपी महाराष्ट्र से लेकर मवेशी तस्करी के तार पूरे देश में फैले हुए हैं। कंटेनर की लंबाई तथा उचाई का उपयोग इन दिनों सबसे अधिक गौवंश की तस्करी में किया जा रहा है। नोहटा थाना पुलिस ने घेराबंदी करके गाय, बैल, बछड़ो से भरे एक कन्टेनर तथा मवेशी तस्करों उपयोग की जा रही स्कार्पियो कार के साथ 4 युवको को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है।
प्राप्त जानकारी के अनुसार देर रात नोहटा थाना प्रभारी को हरियाणा पासिंग के कंटेनर क्र
मांक एचआर 55 Q 7250 में क्रूरता पूर्वक मवेशी भरे होने की सूचना मिली थी। जिसके बाद पुलिस टीम ने कुसमी के जंगल में उक्त कंटेनर को रोककर जब जांच पड़ताल शुरू की तो कंटेनर के साथ में चल रही एक बिना नंबर की नई स्कॉर्पियो में सवार चार युवकों द्वारा पुलिस को लालच देने का प्रयास किया गया।

लेकिन पुलिस कंटेनर तथा स्कॉर्पियो को लेकर नोहटा थाना आ गई। जहां पर कंटेनर को खुलवाए जाने पर इसमें एक के ऊपर एक दो खंडों में क्रूरता पूर्वक 70 गाय बैल बछड़े बंधे हुए भरे पाए गए। जिनमें से दो की मौत हो चुकी थी। पुलिस द्वारा पूछताछ किए जाने पर स्कॉर्पियो सवार युवक किसी प्रकार के कोई दस्तावेज उपलब्ध नहीं करा सके। जिसके बाद पुलिस ने हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।
 पकड़े गए युवकों के नाम सागर हो चयन इंदौर इकराम खान राजगढ़ रफीक खान सारंगपुर और परवेज शाजापुर जिले के निवासी बताए गए हैं वहीं एक अन्य युवक जो कंटेनर चालक बताया गया है  अंधेरे में  जंगल में भागने में सफल हो गया। पुलिस ने पशु क्रूरता अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत अपराध पंजीबद्ध कर कंटेनर में भरे मवेशियों को परिसर में विचरण हेतु छोड़ दिया है।

थाना परिसर में ही इनके चारे पानी का इंतजाम किया जा रहा है। तथा इनको जल्दी गौशाला भेज दिया जाएगा। वही मृत हो गए दो मवेशियों के अंतिम संस्कार का इंतजाम किया जा रहा है। पुलिस ने कंटेनर के साथ बिना नंबर की सफेद कलर की नई स्कॉर्पियो गाड़ी को भी जप्त कर लिया है। फिलहाल इस स्कॉर्पियो के कागजात भी आरोपी उपलब्ध नहीं करा सके। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि यह गाड़ी भी चोरी की हो सकती है। 
बताया जा रहा है कि इन मवेशियों को अकोला महाराष्ट्र ले जाया जा रहा था। कंटेनर में भरे मवेशियों को पुलिस की नजरों से बचाने के लिए जंगली रास्ते का उपयोग कटनी से किया गया था। तथा सगरा के जंगल से कुसमी की ओर आ रहे कंटेनर को पुलिस ने कब्जे में ले लिया।

  नोहटा पुलिस द्वारा की गई कार्रवाई में एसआई विकास चौहान, एएसआई साहू, प्रधान आरक्षक मनीष यादव, आरक्षक जितेंद्र यादव, सत्येंद्र दुबे, कपिल तिवारी, यासीन खान की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। 

Post a comment

0 Comments