Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सटोरियों से सांठगांठ पड़ी महंगी.. जबलपुर एसपी ने 7 हवलदार और 17 सिपाहियों को किया सस्पेंड..

सटोरिया के पास से मिली डायरी से खुलासा-
जबलपुर। सटोरियों से हफ्ता वसूली करने के मामले में लंबे समय से सक्रियता दर्ज कराने वाले  पुलिसकर्मियों पर कार्यवाही की गाज गिराते हुए जबलपुर SP अमित सिंह ने दो दर्जन पुलिस कर्मियों को सस्पेंड करते हुए लूप लाइन में डाल दिया है। 
जबलपुर एसपी अमित सिंह ने यह कार्यवाही सटोरियों के पास से बरामद एक डायरी में गोहलपुर थाना के पुलिसकर्मियों के नाम और उन को दी जाने वाली राशि का विवरण मिलने के बाद की है। इस सूची में 7 प्रधान आरक्षक और 17 आरक्षक के नाम शामिल बताए गए हैं जिनको एसपी ने सस्पेंड करते हुए अभी तक की सटोरियों से मिलीभगत मामले में बड़ी कार्रवाई की है।
जबलपुर एसपी द्वारा की गई इस कार्यवाही आदेश की प्रति सोशल मीडिया पर गुरुवार को सुबह से लगातार वायरल होने के साथ चर्चा का विषय बनी हुई है। वहीं प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद पुलिस डिपार्टमेंट में अपने ही कर्मचारियों के खिलाफ इससे बड़ी कार्यवाही भी कहा जा सकता है जो निश्चित तौर पर मुख्यमंत्री कमल नाथ द्वारा पुलिस अधिकारियों को दिए गए अपराध मुक्त प्रदेश के निर्देश से जोड़कर भी देखा जा सकता है।
 उपरोक्त कार्रवाई के संदर्भ में बताया जा रहा है कि एएसपी दीपक शुक्ला की विशेष टीम ने अमखेरा में रहने वाले श्यामकुमार के घर दबिश देकर वहाँ से भारी मात्रा में सट्टा पट्टी सहित एक डायरी बरामद की थी। इस डायरी में गोहलपुर थाने के आधे से अधिक स्टाफ का नाम और दी जाने वाली रकम का उल्लेख देखकर एएसपी ने पूरे हालात से  एसपी को अवगत करवाया। जिसके बाद सटोरियों से सांठगांठ रखने वाले 24 पुलिस कर्मियों को निलंबित करने की कार्रवाई की गई। जबलपुर से आलोक जैन सहारा की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments