Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

इधर सम्मान उधर विदाई.. पूर्व मंत्री गंगाराम पटेल एवं पूर्व जिलाध्यक्ष विद्यासागर सहित 4 नेता भाजपा से निष्कासित.. जिला पंचायत अध्यक्ष को बख्शा..

पूर्व मंत्री, पूर्व जिलाध्यक्ष, पूर्व महामंत्री निष्कासित..
दमोह। भारतीय जनता पार्टी ने प्रदेश के पूर्व मंत्री और हटा क्षेत्र के पूर्व विधायक गंगाराम पटेल तथा पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष विद्यासागर पांडे और पूर्व महामंत्री किशोर अग्रवाल, जिला कार्यकारिणी सदस्य विनोद श्रीवास्तव को पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से निष्कासित कर दिया है। 
आज दोपहर हटा में जिला पंचायत अध्यक्ष  शिवचरण पटेल द्वारा आयोजित भाजपा कार्यकर्ताओं के सम्मान समारोह में सांसद पहलाद पटेल  और हटा के नव निर्वाचित विधायक पीएल तंतुवाय सहित अन्य नेताओं की मौजूदगी में पूर्व मंत्री गंगाराम पटेल का भी सम्मान किया गया था। गंगाराम जी भी पुष्प माला पहने मंच पर नजर आ रहे थे। उनको क्या पता था कि मंच से सम्मानित होने की यह खुशी कुछ ही घंटों की है। शाम को उनके जैसे 4 नेताओं के निष्कासन की खबर मीडिया को जारी कर दी गई। 

भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह  प्रदेश संगठन मंत्री  सुहास भगत,  संभागीय संगठन मंत्री आशुतोष तिवारी,  की सहमति से भाजपा जिला अध्यक्ष देवनारायण श्रीवास्तव द्वारा निष्कासन की उक्त कार्यवाही की गई है। पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया और प्रदेश संगठन के  मंत्री रहे  राघवेंद्र सिंह ऋषि लोधी को चुनाव के दौरान निष्कासित कर दिया गया था। इस के बाद अब इन नेताओं के खिलाफ निष्कासन की कार्यवाही की गई है ।
इन सभी नेताओं पर विधानसभा चुनाव में पार्टी के अधिकृत प्रत्याशी के खिलाफ कार्य करने की वजह से पार्टी के बाहर का रास्ता दिखाया गया है। जबकि उक्त नेताओं के हमराह नजर आए जिला पंचायत के चर्चित अध्यक्ष शिवचरण पटेल बड्डा पर सांसद प्रहलाद पटेल की नजरें इनायत होने की वजह से बख्श दिया गया है।
उल्लेखनीय है कि विधानसभा चुनाव के ठीक पहले जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल दमोह के दावत रेस्टोरेंट में पत्रकार वार्ता का आयोजन करते सबसे पहले पथरिया से भाजपा प्रत्याशी लखन पटेल के खिलाफ बगावत का बिगुल फूंका था तथा इसके बाद चुनाव नामांकन प्रक्रिया के दौरान पूर्व मंत्री रामकृष्ण कुसमरिया दमोह स्थित आवास पर भी शिवचरण पटेल कि लगातार सक्रियता बनी रहे थी। 
यहां तक की पूर्व मंत्री कुसमरिया जब पत्रकार वार्ता  आयोजित करके पार्टी से विद्रोह का बिगुल फूंक रहे थे उस समय भी जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटेल, पूर्व जिलाध्यक्ष विद्यासागर पांडे पूर्व महामंत्री किशोर अग्रवाल की मौजूदगी कुसमरिया आवास पर मीडिया के कैमरे में कैद हुई थी।
इधर निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर दमोह तथा पथरिया से नामांकन दाखिल करने वाले बाबा कुसमरिया को मनाने जब भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष प्रभात झा  हेलीकॉप्टर से दमोह पहुंचे थे उसके पूर्व  बाबाजी के बंगले पर पूर्व मंत्री गंगाराम पटेल की मौजूदगी और बाद में उन्हीं के साथ बाबाजी का पलायन कर जाने का मामला प्रकाश में आया था।

प्रक्रिया का समय निकल जाने के बाद पूर्व मंत्री कुसमरिया की पूर्व मंत्री गंगाराम पटेल और पूर्व महामंत्री किशोर अग्रवाल की जटाशंकर धाम में  मौजूदगी की तस्वीरें मीडिया को जारी की गई थी। यानी स्पष्ट था उस समय भी yh नेतागण बाबाजी के साथ थे।
कुल मिलाकर भाजपा ने पूर्व मंत्री गंगाराम पटेल और पूर्व जिला अध्यक्ष विद्यासागर पांडे सहित अन्य नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा कर भले ही दमोह तथा पथरिया में पार्टी प्रत्याशियों की हार का सार बताने का प्रयास किया हो
 लेकिन दावत से शुरू हुई पथरिया तथा दमोह की हार की पटकथा के रचयिता की पार्टी से छुट्टी करने की हिम्मत पदाधिकारी क्यों नहीं कर पाए इसकी वजह पहले ही बताई जा चुकी है तथा यह जगजाहिर है। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments