Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

कमलनाथ मंत्री परिषद में 28 वरिष्ठ विधायकों को मिली जगह.. बसपा, सपा, निर्दलीय व कांग्रेस के नए विधायकों को निगम मंडलों की लाल बत्ती की आस बाकी..

महामहिम राज्यपाल ने दिलाई नए मंत्रियों को शपथ-

भोपाल। मप्र में बड़े दिन के साथ कांग्रेस के बड़े अर्थात वरिष्ठ विधायकों के भी बड़े दिन शुरू हो गए हैं। मंगलवार दोपहर महामहिम राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने कमल नाथ मंत्रिमंडल के 28 सदस्यों को पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई। इसी के साथ अब किसको क्या विभाग मिलेगा इस को लेकर अटकलें शुरू हो गई हैं। दूसरी ओर पहली बार निर्वाचित तथा मंत्रिमंडल में जगह पाने से वंचित विधायकों के अलावा  निर्दलीय  बसपा  व सपा  के  विधायकों लिए फिलहाल निगम मंडलों के पुनर्गठन के साथ लाल बत्ती की आस बाकी है।

 राज्यपाल आंनदीबेन पटेल ने भोपाल के राजभवन में जिन 28 विधायकों को मंत्री पद की शपथ दिलाई है उनमें वरिष्ठ नेता विजयलक्ष्मी साधौ, डॉ गोविंद सिंह, सज्जन सिंह वर्मा, हुकुम सिंह कराड़ा, बाला बच्चन, आरिफ अकील, बृजेंद्र सिंह राठौर, प्रदीप जायसवाल, तुलसीराम सिलावट, गोविंद सिंह राजपूत, इमरती देवी, ओंकार सिंह मरकाम, प्रभुराम चौधरी, प्रियव्रत सिंह, सुखदेव पांसे, उमंग सिंगार, हर्ष यादव, सचिन यादव, जयवर्धन सिंह, जीतू पटवारी, महेंद्र सिंह सिसोदिया, कमलेश्वर पटेल, प्रद्युम्न सिंह तोमर, लखन महेंद्र सिंह सिसोदिया, पीसी शर्मा शामिल है।
उल्लेखनीय है कि  मध्य प्रदेश मंत्रिमंडल गठन को लेकर मंत्रियों के नामों की  सूची तैयार करने में दिल्ली में पिछले एक सप्ताह से मशक्कत भरे हालात बने हुए थे। इस दौरान मुख्यमंत्री कमलनाथ, सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया, पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सहित अन्य दिग्गजों के समर्थकों की परफॉर्मेंस व क्षेत्रीय जातीय समीकरण के आधार पर संख्या तय की गई है। मंत्रिमंडल में गुटीय, क्षेत्रीय व सामाजिक संतुलन बनाने के प्रयास अंतिम क्षणों तक बनाया गया।  इसी का नतीजा मंत्री मंडल सदस्यों की सूची के तौर पर सामने आया है।

Post a comment

0 Comments