Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

नेताजी के जुआ फड़ पर पुलिस की रेड. Rs 56 हजार जब्त, एसडीओपी के आगे नहीं चल पाई पूर्व नपा उपाध्यक्ष की हेकड़ी..

नगर पालिका के पूर्व उपाध्यक्ष पुलिस के शिकंजे में-
दमोह। विधानसभा चुनाव मतदान के बाद दमोह जिले की पुलिस अब जुआ कार्यवाही के मोड में नजर आ रही है।  शुक्रवार रात पुलिस ने हटा में एक नेता जी के फड़ पर निशाना साधा। इस दौरान नेता जी ने रौब झाड़ने की कोशिश की तो पुलिस ने उन की हेकड़ी निकालने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी। नेताजी के फड़ से पुलिस ने 56 हजार नगद, 5 मोबाइल, बाइक जब्त करके आधा दर्जन जुआरियों को पकड़ा है।
हटा के रतन बजरिया स्थित राम गोपाल जी वार्ड में लंबे समय से जुआड़ियों की महफिल सजने से आस पास के घरों में रहने वालो का निकलना मुश्किल था महिलाओं बच्चों से लेकर सभी हलकान थे। लेकिन जुआ फड़ का संचालन मोहल्ले के दबंग नेता जी और उनके गुर्गो के हाथो में होने के कारण सभी बेवस थे। आखिरकार वह घड़ी भी आई जब पुलिस के सामने नेतागिरी धरी की धरी रह गई।

 एसपी विवेक अग्रवाल के निर्देशन में एसडीओपी हटा कमल जैन के मार्गदर्शन में शुक्रवार रात हटा के रतन बजरिया क्षेत्र स्थित बलराम दुबे के घर में जुआ फड़ पर पुलिस की छापा मार कार्यवाही से हड़कंप के हालात निर्मित हो गए। इस दौरान नगरपालिका के पूर्व उपाध्यक्ष बलराम दुबे ने रौब झाड़ते हुए पुलिस कार्रवाई को बाधित करने का प्रयास किया। परंतु एसडीओपी व टीआई की मौजूदगी के चलते उनकी एक नहीं चल सकी। 
मोहल्ले के लोग दबे छुपे तमाशा देखते रहे और जुआ फड़ के साथ नेताजी को पकड़ने के बाद पुलिस अपने साथ पैदल ही थाने लेकर पहुंची। मामले की जानकारी लगते ही सोशल मीडिया पर पुलिस कार्यवाही की तस्वीरें और वीडियो वायरल होते देर नहीं लगी। एसडीओपी कमल जैन ने बताया कि बलराम दवे के आवास पर जुआ फड़ संचालित होने की शिकायतें लंबे समय से मिल रही थी, जिस पर आज यह कार्यवाही की गई है।


 हटा TI धर्मेन्द्र सिंह ने बताया कि नगरपालिका के पूर्व उपाध्यक्ष बलराम दुबे के आवास पर पुलिस बल के साथ  जब छापा मारा तो मुख्य द्वार बंद था। मौके का फायदा उठाकर कुछ जुआरी पीछे से भाग गए। उनकी बाइक जप्त कर थाने लायी गई है। मौके पर बलराम दुबे, हरि ओम दुबे सहित आधा दर्जन जुआरी गिरफ्तार किए गए है। इनके पास से 56 हजार रुपये नगद, 5 मोबाईल भी मिले है। एसडीओपी कमल जैन ने बताया कि मोटर सायकलों के मालिकों की पहचान कर अन्य जुआरियों को भी गिरफ्तार किया जाएगा।

                   
हटा नगर में विभिन्न अवैध गतिविधियों के जनक कहे जाने वाली यह नेता जी किस पार्टी से जुड़े है और इनके बोस कौन है तथा इस बार के विधानसभा चुनाव में इन्होंने किस प्रत्याशी के पक्ष में काम किया है यह बात हटा का बच्चा-बच्चा जानता है फिर भी यदि किसी को पता नहीं हो तो हटा के किसी भी व्यक्ति से पूंछ सकते हैं।

Post a comment

0 Comments