Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

क्रिकेट सट्टे की बसूली पड़ी महंगी.. 1 लाख 80 हजार के साथ 2 गिफ्तार, मुख्य सरगना फरार..

क्रिकेट सटोरियों पर फिर कसा पुलिस का शिकंजा-
दमोह। भारत-वेस्टइंडीज क्रिकेट श्रंखला समाप्त होने के बाद पुलिस ने क्रिकेट के सट्टे से जुड़े दो युवकों को गिरफ्त में ले कर एक लाख 80 हजार 200 रुपए सहित दो मोबाइल बरामद किए हैं। वहीं मुख्य सरगना की पुलिस द्वारा तलाश की जा रही है।
                
कोतवाली पुलिस को 3 नवंबर को सूचना मिली थी कि पुरानी नगर पालिका के समीप नया बाजार निवासी प्रशांत जैन पाकिस्तान न्यूजीलैंड मैच की बाजी का पैसा वसूल करने के लिए खड़ा है। इसके बाद पुलिस टीम ने जाल बिछाकर प्रशांत के कर्मचारी सिविल वार्ड 4 निवासी दिव्येश जैन के कब्जे से 1 लाख 74 हजार 700 रुपए बरामद किए।
                    
पुलिस की पूछताछ में दिव्येश ने बताया कि वह प्रशांत जैन के लिए  क्रिकेट के सट्टे की उगाही करता है तथा दिलीप असाटी क्रिकेट के सट्टे का मुख्य सरगना है। पुलिस ने दोनों के खिलाफ सट्टा एक्ट की धारा 4 का तथा भारतीय दंड विधान की धारा 109 के तहत अपराध पंजीबद्ध करते हुए कारवाही की है। पुलिस ने इनके पास से कुल 1 लाख 80 हजार 200 रु नगद, दो मोबाइल तथा एक बाइक बरामद की है।
एसपी विवेक अग्रवाल के निर्देशन में कोतवाली पुलिस द्वारा चलाए जा रहे क्रिकेट सट्टा धरपकड़ अभियान के तहत इसके पूर्व  24 अक्टूबर को एक्टिवा से चार लाख रुपए की राशि बरामद करके सपन जैन और संतीष मिश्रा के खिलाफ कार्यवाही की गई थी। इस मामले में भी मुख्य सरगना की तलाश की जा रही है। पुलिस की कार्यवाही में टीआई आरके गौतम प्रधान आरक्षक राजेंद्र मिश्रा आरक्षक देवेंद्र मनीष राजेश चौबे प्रदीप गोविंद बृजेंद्र और राजेश गौर की सराहनीय भूमिका रही।
यदि आपके आसपास भी क्रिकेट के सट्टे से जुड़े तत्व या बसूली कर्ता सक्रिय हैं या फिर जुआ के फड़ सज रहे हैं तो पुलिस कंट्रोल रूम, एसपी या फिर कोतवाली टीआई के मोबाइल पर कॉल करना नहीं भूले। चुनाव आचार संहिता के चलते इस बार जुआरियों सटोरियों पर तीसरी आंख अर्थात सीसीटीवी कैमरे भी नजर रखे हुए हैं।

Post a comment

0 Comments