Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

मां की हत्या के षड्यंत्र में प्रेमी के साथ बेटी भी गिरफ्तार.. 2 सप्ताह से मां के कातिल के साथ थी बेटी..

सागर का कुख्यात बदमाश जबलपुर में पकड़ा गया-
 क्या कोई प्यार में इतना भी अंधा हो सकता है की प्रेमी के साथ मां को मौत के घाट उतारने के षडयंत्र में भी शामिल हो जाए। और मां की लहूलुहान लाश को छोड़कर प्रेमी के साथ बाइक से भाग जाए। यह कोई फिल्मी कहानी नहीं बल्कि ऐसा सत्य घटना क्रम है जो टीवी सीरियल की तर्ज पर प्रेम में अंधे होते जा रहे युवाओं के बीच खत्म हो रही रिश्तो की संवेदनशीलता के हालात को उजागर करता है।
 दमोह पुलिस की हिरासत में बमुश्किल आया यह शख्स सागर निवासी कुख्यात बदमाश आकाश गंगेले है जिसके खिलाफ सागर जिले के विभिन्न थाना क्षेत्रों में लूट डकैती अपहरण बलात्कार जैसे मामले दर्ज है फिर भी यह शख्स एक नाबालिक लड़की को अपने प्रेम जाल में फसाने और प्यार पर पहरा लगने पर उसे अपनी मां के खिलाफ भड़का कर उसकी हत्या की साजिश में शामिल करने में सफल रहा।
आपको याद दिलाते हैं 5 अक्टूबर को तेंदूखेड़ा क्षेत्र के बगदरी के जंगल में दिनदहाड़े घटित हुई वह वारदात, जिसमें बोलेरो में सवार सागर निवासी एक महिला की हत्या करके उसकी नाबालिग बेटी को एक बाइक सवार अपने साथ भगा कर ले गया था। यह वही शख्स है जिसने गोलियों से भून कर मां का सीना छलनी कर दिया था और उसके कलेजे के टुकड़े को अपने साथ ले गया था। वारदात में बोलेरो का चालक भी गोली लगने से घायल हुआ था।
इस दिल दहला देने वाली वारदात के बाद अपनी मां के हत्यारे के साथ प्रेम में अंधी नाबालिक साथ जीने मरने की कसमें खाते हुए 2 सप्ताह से साथ रह रही थी। लेकिन पुलिस के लंबे हाथों से यह दोनों नहीं बच सके। वारदात के बाद से ही पुलिस का साइबर सेल इनके मोबाइल को ट्रेस कर रहा था वहीं सागर आईजी ने आरोपी की गिरफ्तारी पर 25 हजार पिका रुपए का इनाम घोषित किया था।
शुक्रवार दोपहर पुलिस कंट्रोल रूम में एसपी विवेक अग्रवाल ने एडिशनल एसपी विक्रम कुशवाहा और तेंदूखेड़ा एसडीओपी बीपी समाधिया की मौजूदगी में इस बहुचर्चित मामले का पत्रकार वार्ता में खुलासा किया। एसपी श्री अग्रवाल ने बताया कि कुख्यात बदमाश आकाश गंगेले को जबलपुर के बरगी थाना क्षेत्र से उक्त नाबालिक के साथ गिरफ्तार करने में पुलिस ने सफलता प्राप्त की है।
इस घटना की जांच के दौरान  यह बात सामने आई  की महिला की हत्या की प्लानिंग में  नाबालिक लड़की भी  अपने प्रेमी के साथ शामिल थी। इस कारण से उसके खिलाफ भी धारा 120 बी के तहत षड्यंत्र में शामिल रहने का अपराध पंजीबद्ध करते हुए  गिरफ्तार किया गया है। आरोपी तथा मृतका की बेटी के बीच प्रेम प्रसंग होने तथा युवती की मां द्वारा आपत्ति दर्ज कराए जाने पर वारदात को अंजाम दिया गया था।
 सागर जिले के निवासी आरोपी द्वारा अपनी प्रेमिका को हासिल करने के लिए उसकी मां को जबलपुर जाते वक्त दमोह जिले के तेंदूखेड़ा थाना क्षेत्र के जंगल मे गोलियों से भूंज दिया गया था। इसके बाद आरोपी नाबालिक प्रेमिका के साथ जबलपुर की बरगी क्षेत्र में आराम से रह रहा था। आरोपी की पतासाजी मैं साइबर सेल प्रभारी राकेश अठया व टीम का महत्वपूर्ण योगदान रहा वहीं गिरफ्तारी में तेंदूखेड़ा एवं तेजगढ़ थाना पुलिस टीम  की सक्रिय भूमिका रही। 
पत्रकारों के समक्ष कुख्यात बदमाश को पेश किए जाने के दौरान भी उसके चेहरे पर किसी प्रकार की शर्मिंदगी या पश्चाताप के भाव नहीं दिखे। ऐसे तत्वों के बहकावे में आकर और कोई नाबालिक बेटी किसी बदमाश के प्रेम जाल में नहीं फंसे। इसी उद्देश्य इस खबर को इतना विस्तृत स्वरूप देने का प्रयास किया गया है मामले का पर्दाफाश करने और आरोपी को पकड़ने वाली टीम को बहुत-बहुत बधाई। अटल राजेंद्र जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments