Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

जिला पंचायत के अनेक क्षेत्रों में केंद्रीय मंत्री BJP समर्थित प्रत्याशी पिछड़े.. कांग्रेस की नजर अध्यक्ष पद पर.. पूर्व सांसद की पत्नी एवं भाई के अलावा कुछ TSM समर्थक भी जीत की ओर अग्रसर..

 नारी शक्ति की 15 में से 12 सीटों पर बढ़त..

दमोह। गैर दलीय आधार पर संपन्न हुए पंचायत चुनाव के अधिकृत नतीजे आने में भले ही 10 दिन का समय हो लेकिन कल देर रात तक संपन्न हुई तृतीय चरण की मतगणना के रुझान से यह साफ हो गया है कि ग्रामीण मतदाताओं ने राजनीतिक दलों से समर्थित प्रत्याशियों के बजाय अपनी पसंद के प्रत्याशियों को चुनने में रुचि दिखाई है। पिछड़ा वर्ग महिला अध्यक्ष के लिए आरक्षित जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए सामान्य सीटों से भी दावेदार चुनकर आते नजर आ रहे हैं। 15 में से 12 सीटों पर महिला शक्ति के जीत की ओर बढ़ते कदम यह बता रहे है कि जिला पंचायत कमान संभालने के लिए नारी शक्ति को आगे करके राजनीति की शह और मात का खेल पर्दे के पीछे से तेजी से चल रहा है..

 शायद यही वजह है कि दमोह सांसद और केंद्रीय मंत्री समर्थक भाजपा के अनेक प्रत्याशी जिला पंचायत चुनाव में पिछड़ते नजर आ रहे है। वही अनेक क्षेत्रों में कांग्रेस समर्थक प्रत्याशी ही मुख्य मुकावले में बने हुए है। टीम सिध्दार्थ मलैया समर्थक प्रत्याशी भी जिला पंचायत के दो से तीन क्षेत्रों में भाजपा कांग्रेस समर्थकों को मात देकर निर्णायक बढ़त हासिल कर चुके हैं हालांकि सभी जगह के अधिकृत परिणाम आना बाकी है लेकिन जिला पंचायत के 15 क्षेत्रों के जो रुझान सामने आए हैं उनमें 12 सीटों पर महिला शक्ति कब्जा जमाती नजर आ रही है

 उल्लेखनीय है कि जिला पंचायत अध्यक्ष का पद पिछड़ा वर्ग महिला के लिए आरक्षित है ऐसे में जीत की ओर अग्रसर अधिकांश महिला प्रत्याशियों की नजर इस पर है। जीत की ओर अग्रसर आधा दर्जन से अधिक प्रत्याशी कांग्रेस समर्थक होने के बावजूद सभी अध्यक्ष पद की दावेदार नजर आ रहे हैं। इधर भाजपा समर्थकों की संख्या भी आधा दर्जन नजर आ रही है।

जिला पंचायत से जीत की और अग्रसर प्रत्याशी..

दमोह जिला पंचायत के 15 क्षेत्रों के लिए वोटिंग के बाद मतगणना हो जाने के साथ ही जो प्रारंभिक नतीजे अनाधिकृत तौर पर सामने आए हैं उनमें सदगुआं से कांग्रेस नेता गौरव पटेल की पत्नी पथरिया जनपद की अध्यक्ष रही श्रीमती रंजीता पटेल की शानदार बढ़त बना चुकी है।  बांसा तारखेडा से टीम सिद्दार्थ समर्थक भाजपा नेता संतोष अठ्या की पत्नी श्रीमती लक्ष्मी अठ्ठया लगातार दूसरी बार जीत का प्रमाणपत्र लेने की और अग्रसर है। इन्होंने भाजपा नेता दमोह जनपद अध्यक्ष रहे आलोक अहिरवार से बढ़त हासिल कर रखी है।

अभाना से क्रांतिकारी द्रगपाल सिह लोधी ने कांग्रेस नेता परम यादव सहित अन्य प्रत्याशियो से निर्णायक बढ़त हासिल की है। कुछ मौकों पर सिद्धार्थ मलैया इनके आंदोलन का समर्थन कर चुके है। भाजपा कांग्रेस से बराबर दूरी के चलते इनका झुकाव TSM की ओर रहे तो आश्चर्य नही होगा।

टिकरी से भाजपा समर्थक श्रीमती रीना धर्मेंद्र पटेल की बढ़त भाजपा व कांग्रेस समर्थको के अलावा अन्य प्रत्याशियों से बनी हुई है। किशनगंज से श्रीमती अशोक रानी आसाराम अहिरवार बढ़त बनाए हुए हैं इनके कांग्रेस नेताओं के अलावा बसपा विधायक रामबाई से भी राजनीतिक संबंध बताए जा रहे है।

पूर्व

हर्रई से पूर्व सांसद ओर भाजपा नेता चंद्रभान सिंह की पत्नी श्रीमती जानकी ने भाजपा समर्थक पूर्व मंडल अध्यक्ष लखन यादव से करीब 6 हजार की निर्णायक बढ़त बनाई हुई है। रनेह से निर्दलीय मनीष तंतुवाय ने भाजपा कांग्रेसी समर्थक प्रत्याशियों से निर्णायक बढ़त हासिल कर रखी है।

कुम्हारी से पूर्व सांसद चंद्रभान सिंह के भाई और कांग्रेस नेता चंदन सिंह ने भाजपा नेता जिला पंचायत अध्यक्ष और केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल के खास समर्थक शिवचरण पटेल की पुत्र बधू श्रीमति प्रियंका इंद्रपाल पटेल से दो हजार से अधिक मतों से बढ़त प्राप्त कर रखी है।

वनगांव से भाजपा समर्थक प्रत्याशी श्रीमती उर्मिला बलराम पटेल ने कांग्रेस समर्थक जया ठाकुर से करीब उन्नीस सौ से अधिक मतों से निर्णायक बढ़त हासिल की है। मगरोन से श्रीमती मंजू देवलिया धर्मेंद्र कटारे ने भाजपा समर्थित प्रत्याशी शिवानी पटेल से हजारों की लीड हसिल की है।

केरबना से कांग्रेस नेता राव ब्रजेन्द्र सिंह की पत्नी श्रीमती विनीता ने कांग्रेस नेता राजेश तिवारी की पत्नी प्रीति से निर्णायक बढ़त बनाई। जबेरा से महिला कांग्रेस अध्यक्ष रजनी ठाकुर शानदार बढ़त बना चुकी है। नोहटा से कांग्रेस नेता राघवेंद्र ऋषि लोधी की माता जी जमनाबाई/देशराज सिह लोधी भी शानदार बढ़त बना चुकी है। 

मडियादो से टीम मलैया समर्थक मोहनी अभिषेक जैन ने कांग्रेस नेता और हटा जनपद के पूर्व अध्यक्ष अबीर सिंह की बहू शोभा सतेंद्र सिंह तथा भाजपा के पूर्व मंडल अध्यक्ष रामगोपाल सोनी की पत्नी दिव्या से निर्णायक बढ़त हासिल कर रखी है। इस क्षेत्र में केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल ने भाजपा प्रत्याशी के समर्थन में नजर आए थे।इमलीडोल क्षेत्र से संगीता मरकाम नजदीकी मुकावले में भाजपा समर्थक प्रत्याशी पूर्व जिला पंचायत उपाध्यक्ष से बढ़त हासिल कर चुकी है।

 टीम सिद्धार्थ मलैया समर्थक की भूमिका महत्वपूर्ण

जिला पंचायत के सभी क्षेत्रों के अधिकृत नतीजे 20 जुलाई को ही घोषित किए जाएंगे लेकिन इसके पहले ही जिला पंचायत अध्यक्ष बनने के लिए जोड़-तोड़ की राजनीति शुरू हो गई है। कांग्रेस की तरफ से इस रेस में गौरव पटेल से लेकर ऋषि लोधी तक पहले चरण के बाद से ही सक्रिय हैं वहीं तीसरे चरण की तस्वीर साफ होते ही पूर्व सांसद पूर्व विधायक पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष चंद्रभान सिंह भी अपनी पत्नी के लिए लाविंग करने के लिए सक्रिय हो गए हैं। इधर भाजपा की तरफ से उर्मिला बलराम पटेल दावेदारों की दौड़ में शामिल है। ऐसे में टीम सिद्धार्थ समर्थक सदस्यों की भूमिका महत्वपूर्ण हो सकती है क्योंकि यह अध्यक्ष की दौड़ में तो नहीं रहेंगे लेकिन इनके मत सभी दावेदारों के लिए महत्वपूर्ण होंगे।

 

 

Post a Comment

0 Comments