Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

उज्ज्वल भारत उज्जवल भविष्य उर्जा/2047 कार्यक्रम संपन्न.. जिले के लिए 28 करोड़ 18 लाख रुपए भारत सरकार ने दिए..केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल हुए कार्यक्रम में शामिल

 केन्द्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल हुए कार्यक्रम में शामिल

दमोह। आज का दिन संकल्प लेने का दिन है जितने भी लोग यहां पर उपस्थित है सभी यहां से संकल्प लेकर जायें और आने वाली पीड़ी के लिये भी इन संसाधनों को बचायें। जिले के लिए 28 करोड़ 18 लाख रुपए भारत सरकार ने दिए हैंए जब यह योजना शुरू हुई थी तो लोगों को भरोसा नहीं था पर 18 महीने में 2 करोड़ 86 लाख लोगों तक बिजली पहुंचाना एक बहुत बड़ा कार्य है। 2047 तक भारत कैसा होगा आने वाले 25 वर्ष में इस का रोड मैप कैसा होगा बिजली का उत्पादन 4 लाख मेगावाट बढ़ जाएगा। इस आशय के विचार केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग एवं जल शक्ति राज्यमंत्री श्री प्रहलाद पटेल ने आज स्थानीय मानस भवन में आजादी के अमृत महोत्सव के तहत आयोजित उज्ज्वल भारतए उज्जवल भविष्य उर्जा/2047 कार्यक्रम में व्यक्त किये।

कार्यक्रम का शुभारंभ अतिथियों द्वारा माँ सरस्वती के समक्ष दीप प्रज्जवल एवं माल्यापर्ण कर किया गया। इस दौरान अनहद कला केन्द्र के कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी। बिजली के संबंध में डाकूमेंट्री फिल्म का प्रदर्शन किया गया। कार्यक्रम के पूर्व बिजली बचाने के संबंध में नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत किया गया कार्यक्रम में विधायक हटा पीएल तंतुवाय भाजपा अध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी सांसद प्रतिनिधि नरेन्द्र बजाज पूर्व विधायक लखन पटेल शिखा जैन सतीश तिवारी गोपाल पटैल रामेश्वर चौधरी चंद्रभान पटेल राज कुमार सिंह कलेक्टर एस कृष्ण चैतन्य पुलिस अधीक्षक डीआर तेनीवार एसईएमके चौधरी ईई ओपी सोनी ईई प्रभास साहू मंचासीन थे।

nraty

केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री पटेल ने कहा इस क्षेत्र में 2 हजार 921 सब स्टेशन नये लगाये गये है 3 हजार 926 सब स्टेशनों को उन्नत किया गया है। 6 हजार 465 किलोमीटर लाईने बिछाई गई है। 2 लाख 68 हजार 838 किलोमीटर 11 केव्ही एसटी लाईनें लगाई गई है। केवल इस जिले में नहीं देश में भी यह सफलता अर्जित हुई है। विद्युत की समस्या आगामी समय में हमारे लिए एक बहुत बड़ी चुनौती है इसमें सबसे बेहतर विकल्प है सौर ऊर्जा जिसमें भारत सरकार 30 प्रतिशत सब्सिडी देती हैए राज्य सरकार 30 प्रतिशत सब्सिडी देती है इसमें निश्चित रूप से विद्युत कंपनियां और इस सिस्टम के अधीनस्थ अधिकारियों और कर्मचारियों के लिए अभिनंदन किया जाना चाहिये। बिजली चाहे सप्लाई हो या उपयोग हो यदि हम इसे नहीं बचायेंगे इसकी बचत के बारे में हम नहीं सोचेंगे तो इसमें आपको लगता है कि हमारा कोई नुकसान नहीं हैए तो आप गलत सोंच रहे है इसमें हम सभी का नुकसान है हमारे देश का नुकसान है।

mantri

केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री पटेल ने कहा हमें यह तय करना होगा कि हमारे जिले में बिजली देश के किसी भी हिस्से से आएगी जो हमारी आवश्यकता है। हमारे पास जो सिस्टम है जिले के लिए उतना है या नहीं हैए हमारा फोकस इस पर होना चाहिए। भारत सरकार की आरआरआरडीएसएस एक स्कीम हैए यह विद्युत की सप्लाई को दुरस्त करने के लिए चलाई जा रही है। विद्युत मंडल के काम को पारदर्शी बनाने की जरूरत है उन्होंने कहा जब यह योजना शुरू हुई थी तो लोगों को भरोसा नहीं था पर 18 महीने में 2 करोड़ 86 लाख लोगों तक बिजली पहुंचाना एक बहुत बड़ा कार्य है। उन्होंने कहा भविष्य में पानी की कैपेसिटी कम होने से हो सकता है कि विद्युत की कमी हो जाए वर्षा कम होगी तो बिजली कम मिलेगी यह चुनौतियां हमें आगे देखने को मिल सकती हैं इन चुनौतियों का रास्ता हमें ही खोजना पड़ेगा। इसके लिए सरकार कहती है कि अपने घरों में सौर ऊर्जा का पंप लगाये। उन्होंने कहा यह जिम्मेदारी सरकार की नहीं है यह हमारा भी काम है।

jnta

उन्होंने कहा सब स्टेशन और ट्रांसफार्मर है या नहीं अक्सर यह समस्या किसानों के सामने आती है जब एक ट्रांसफार्मर पर 200 से 250 पावर का लोड लगाते है तो इसका नुकसान ट्रांसफर्मर पर पड़ता है यह नुकसान हमारे साथ साथ हमारे देश पर भी पड़ता है। बिजली हमारी आदत में शामिल हो गई है इसके बारे में सोचना इसके बारे में चिंता करना ये सब हमारे लिये जरूरी है। भाजपा जिला अध्यक्ष प्रीतम सिंह लोधी ने कहा जब से इस देश में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने देश की बागडोर संभाली है निश्चित भारत दुनिया के पटल पर सबसे आगे खड़ा है सारी दुनिया भारत की ओर देख रही है भारत किस तरह से प्रगति कर रहा है उन्नति कर रहा है इस तरक्की में देश के नागरिकों का कहीं ना कहीं योगदान है तथा सहभागिता निभा रहे हैं। प्रधानमंत्री जी ने देश को नई गति देने का कार्य किया है भारत देश का पूरे विश्व में डंका बज रहा है।         

gan

 एनटीपीसी परियोजना गाडरवाड़ा के महाप्रबंधक आरबी मलिक ने कार्यक्रम के पूर्व में प्रतिवेदन प्रस्तुत करते हुये कहा  देश ऊर्जा से संपन्न एवं पर्यावरण संस्था के प्रति प्रतिबद्व है। उन्होंने आमजन से बिजली बचाने का आग्रह किया। तथा कार्यक्रम के अंत में राष्ट्रगान का गायन किया गया। कार्यक्रम का संचालन डॉ आलोक सोनवलकर एवं विपिन चौबे ने किया। आभार प्रदर्शन संभागीय कार्यपालन यंत्री एमके चौधरी द्वारा किया गया।
कार्यक्रम में जनप्रतिनिधिगण गणमान्य नागरिक सम्मानीय मीडियाजन मौजूद थे। 

Post a Comment

0 Comments