Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

पुलिस को जुआ पकड़ने पहुंचना महंगा पड़ा.. गणेश पुरम में व्यापारी संघ के होली पंचमी मिलन समारोह में.. मौज मस्ती के साथ जुआ का तड़का.. पुलिस को वापस लौटना पड़ा..

 पुलिस को जुआ पकड़ने पहुंचना महंगा पड़ा

 दमोह के गणेश पुरम में रंग पंचमी पर होली मिलन समारोह के दौरान "मौज मस्ती की महफिल" सजने और "जहां चार यार मिल जाएं वहां दोपहर हो गुलजार" जैसे हालात बनते नजर आए। इस दौरान ताश के पत्तों पर हजारों के दाव लगने की खबर एक खबरनवीस के जरिए देहात थाने तक पहुंचते ही पुलिस ने भी यहा पहुंचने में देर नही की। लेकिन हंगामे भरे हालात बन जाने से पुलिस को खाली हाथ लौटना पड़ा।

 किसी हिंदी फिल्म के क्लाइमेक्स जैसा यह नजारा मंगलवार दोपहर गणेश पुरम में आयोजित जिला व्यापारी संघ के होली पंचमी मिलन समारोह के दौरान देखने को मिला। इस  दौरान शुरुआत में मंच से आर्केस्ट्रा टीम की रंगारंग प्रस्तुतियों के साथ लोग झूमते नाचते मस्ती में एंजॉय करते दिखे। वही खाने पीने के शौकीन युवाओ के अलग-अलग गुट भी बनते नजर आए। अनेक युवा यहा पर दाव लगाने बनाए गए गोलों के चारो तरफ एकत्रित होकर दोपहर ढलने के साथ ताश के पत्तों में उलझकर हजारों के दांव लगाने में मस्त नजर आए।

यहा आयोजित कार्यक्रम में भाजपा कांग्रेस के अनेक नेताओ के अलावा मंत्री का दर्जा प्राप्त राहुल सिंह भी शामिल हुए थे। इसी दौरान अचानक देहात थाना पुलिस की टीम ने गणेश पुरम पहुंचकर जुआ फड़ो पर छापा मारी शुरू कर दी। जिससे हड़कंप के हालात बनते देर नही लगी। दाव लगा रहे युवको को पकड़कर रकम जब्त करने की पुलिस ने जैसे ही कोशिश की वैसे ही हंगामा शुरू हो गया। पुलिस पर 25 हजार की रकम छीनने के आरोप लगने शुरू हो गए। जिसके बाद कार्रवाई करने आई पुलिस टीम को उल्टे पांव वापस लौटना पड़ा। वही व्यापारी चिल्ला चिल्ला कर अपने रुपए वापस मांगते हुए नजर आए।

पुलिस

इस पूरे हंगामे के दौरान जिला व्यापारी संघ के अध्यक्ष संजय यादव जो की भाजपा के जिला मंत्री है तथा सांसद और केंद्रीय मंत्री प्रहलाद पटेल के हर कार्यक्रम में साथ नजर आते है यहां पर पुलिस पहुंचने पर नाराजगी जताते हुए सक्रिय नजर आए। यहां तक कि वह पुलिस के यहां पहुंचने और कार्रवाई करने को लेकर भी उंगलियां उठाते नजर आए। जिसके बाद पुलिस को यहां से बेरंग वापस जाने को मजबूर होना पड़ा।

बॉटल

इधर कार्यक्रम समाप्ति के बाद गणेश पुरम मैं जहां तहां बिखरी पड़ी शराब की खाली बाटले यह बताने को काफी थी कि प्रशासन ने भले ही रंग पंचमी को शुष्क दिवस अर्थात ड्राई डे घोषित कर रखा था लेकिन यहां पर शराब की कोई कमी नहीं थी। आयोजन के दौरान दिनदहाड़े यहां पर ड्रिंक डिनर डांस की महफिल गुलजार रही। वहीं जहां तहां पड़े ताश के पत्ते भी यह बताने को काफी थे कि यहां जुआ की महफिल भी गुलजार रही।

ताश

इस पूरे घटनाक्रम को लेकर देहात थाना प्रभारी टीआई विजय सिंह राजपूत पूरी तरह से बचाव की मुद्रा में नजर आए उनका कहना था कि जुआ होने की सूचना पर पुलिस पहुंची थी लेकिन वहां पर ऐसा कुछ नहीं मिला। पुलिस द्वारा ₹25000 छीने जाने के मामले में वह शिकायत मिलने पर जांच कराने की बात करते हुए नजर आए। जबकि सूत्रों का कहना था कि आयोजन का खर्च निकालने के लिए जुआ की नाल तक काटी जा रही थी..

Post a Comment

0 Comments