Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

सतना से आई टेक्स टीम की जबलपुर नाका क्षेत्र में जांच छापामार कार्रवाई पूरी.. ठेकेदार दिलीप राय पर 28 लाख रुपए की रिकवरी निकाली.. इधर महंगाई की मार से परेशान पत्नी ने रोज रोज पकोड़ा की डिमांड करने वाले पति की पिटाई करके ईट मारी.. मामला पुलिस थाने पहुंचा

 मेसर्स दिलीप कुमार रॉय से 28 लाख जमा कराए

दमोह। जबलपुर नाका क्षेत्र में शासकीय ठेकेदार दिलीप राय के आवास पर जीएसटी चोरी के मामले में जांच करने पहुंची सतना की टीम ने जांच कार्रवाई के बाद 28 लाख रुपए की टैक्स चोरी पकड़ते हुए उक्त राशि दिलीप कुमार राय से जीएसटी खाते में जमा कराने की जानकारी सामने आई है। मामले में सतना से आए राज्य कर अधिकारी एसके साकेत ने 28 लाखों रुपए जमा कराने की पुष्टि की है।


 उल्लेखनीय है कि जल संसाधन विभाग एवं आर ई एस सहित अन्य विभागों में लंबे समय से ठेकेदारी करने वाले मैसर्स दिलीप कुमार राय के द्वारा लोहा आदि खरीदी के मामले में जीएसटी चोरी की शिकायत है राज्य कर अधिकारी को प्राप्त हुई थी जिसके बाद आज दमोह पहुंची टीम ने छापामार जांच कार्रवाई करते हुए उपरोक्त राशि की रिकवरी निकाली। इस टीम में राज्य कर अधिकारी एस के साकेत, विजय पाण्डेय, अमित पटेल, विकास अग्रवाल, राज्य कर निरीक्षक एस के गुप्ता, वी के निगम, हेमन्त रावते कराधान सहायक मृत्युंजय तिवारी आदि अधिकारी शामिल रहे।

मुझे मेरी बीवी से बचाओ.. पत्नी की पिटाई और प्रताड़ना के शिकार पति ने थाना पहुंचकर रिपोर्ट दर्ज कराई.. पुलिस ने अस्पताल में भर्ती कराया



दमोह। कोरोना काल के लॉकडाउन में महीनों तक काम धंधे के बजाए घर में रहकर रोटी तोड़ने वाले अनेक पतियों को जहां अपनी बीवी के ताने सुनना पड़े हैं वही कोरोना कर्फ्य खत्म हो जाने के बाद काम धंधे के अभाव और महंगाई की मार के चलते पहले जैसी इनकम नहीं होने से पत्नी के ताने सुनने जैसे हालात सामने आने के मामले प्रकाश में आ रहे हैं।
ताजा मामला रनेह थाना क्षेत्र में सामने आया है जहां खाना मांगने पर एक पति को पत्नी के हाथों से मार खाना पड़ी।


प्राप्त जानकारी के अनुसार हिनमत पटी गांव निवासी काशीराम 35 वर्ष ने रनेह थाना में शिकायत करते हुए बताया कि वह घर मे मकान निर्माण कार्य कर रहा था, इसलिए उसने पत्नी को काम मे हाथ बंटाने तथा वही पर खाना लाने को कह दिया। जिस पर गुस्साई पत्नी ने उसके मारपीट शुरू कर दी यह से रोकने पर उसने वहां पड़ी ईट उठाकर उसके सर पर मार दी। जिसके बाद जान बचाकर घर से भागे पति महोदय ने थाने पहुंचकर पुलिस को जानकारी दी और पुलिस ने मेडिकल कराने हटा अस्पताल भेजकर मामले को विवेचना में लिया है। जबकि इस मामले को लेकर पत्नी का कहना है कि महंगाई के दौर में आमदनी अठन्नी और खर्चा रुपैया जैसे हालात बने हुए हैं ऐसे में वह सीमित खर्च में कहां से आए दिन भजिया मंगोड़ा की डिमांड पूरी करें। 

Post a Comment

0 Comments