Ticker

6/recent/ticker-posts
2 / 3

जबलपुर मारुताल बाईपास पर हंगामाई हालात.. ससुराल वालों पर हत्या का मामला दर्ज करवाने जबलपुर से महिला का शव लेकर दमोह पहुंचे मायके वाले.. पुलिस ने एसपी ऑफिस जाने से रोका, एएसपी ने आश्वासन देकर अंतिम संस्कार कराने वापिस भेजा..

जबलपुर से शव लेकर हत्या की FIR कराने पहुचे दमोह

दमोह। मारूताल जबलपुर बाईपास पर एंबुलेंस से महिला का शव लेकर पहुंची परिजनों की भीड़ को पुलिस द्वारा एसपी ऑफिस जाने के लिए शहर प्रवेश करने से रोकने पर हंगामाई हालात निर्मित होते देर नही लगी। दरअसल ये लोग महिला की मौत के बाद ससुराल वालों पर हत्या का मामला दर्ज किए जाने की मांग कर रहे थे। वही बाद में मौके पर पहुंची पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की समझाइश और आश्वासन के बाद परिजन महिला का शव लेकर अंतिम संस्कार कराने के लिए वापस रवाना हो गए। 


मामले में प्राप्त जानकारी के अनुसार नोहटा थाना अंतर्गत रोन गांव की श्रीमती आशा राठौर के साथ मारपीट करके मिट्टी तेल डालकर जिंदा जलाने की प्रयास का घटनाक्रम करीब 1 सप्ताह पूर्व सामने आया था जिसके बाद पुलिस ने हत्या के प्रयास धारा 307 सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया था वही महिला को गंभीर हालत में जबलपुर रेफर कर दिया गया था जहां उसकी मृत्यु हो जाने के बाद मायके पक्ष के लोग ससुराल वालों पर हत्या का मामला दर्ज करवाए जाने के लिए एंबुलेंस से शव लेकर दमोह एसपी ऑफिस जा रहे थे।

                               

लेकिन कोरोना कर्फ्यू के चलते बिना जांच पड़ताल के वाहनों की बाईपास से शहर में प्रवेश पर रोक होने की वजह से मौके पर मौजूद पुलिस टीम ने एंबुलेंस सहित परिजनों के वाहन को रोक लिया और पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों को सूचना दी। इस पर कुछ ही देर बाद सीएसपी अभिषेक तिवारी, कोतवाली टीआई सत्येंद्र सिंह देहात थाना टीआई विजय सिंह राजपूत श्री पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंच गए। तथा हंगामा ही हालात निर्मित कर रहे लोगों को फटकार के साथ समझाइश देते हुए कार्रवाई का भरोसा दिलाया गया बाद में एडिशनल एसपी शिव कुमार सिंह जबलपुर से मर्ग डायरी मिलने पर हत्या का मामला दर्ज किए जाने आश्वस्त किया इसके बाद ही परिजन शव लेकर अंतिम संस्कार के लिए रवाना हुए। 

                                   

मामले में मृतिका के भाई एवं मायके पक्ष के लोगों का कहना था कि ससुराल वालों ने आशा राठौर के सांप जमकर मारपीट करते हुए केरोसिन डालकर उसे आग के हवाले कर दिया था जिसके बाद उसने मारपीट करने वालों के नाम सुदामा साहू, केशव साहू, हरि साहू, भरत साहू आदि बताए थे। मामले में नोहटा थाना पुलिस का कहना है कि आरोपियों खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला पहले से पंजीबद्ध एक आरोपी को गिरफ्तार भी किया जा चुका है वही अब मृत्यु हो जाने पर हत्या का मामला दर्ज करके कार्रवाई की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments