Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

सागर लोकायुक्त ने पन्ना के अजयगढ़ में.. एक लाख की रिश्वत लेते तहसीलदार उमेश तिवारी को रंगे हाथों पकड़ा.. प्लाट पर भवन निर्माण हेतु परमिशन के बदले में मांगी गई थी रिश्वत.. लोकायुक्त ने की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाई..

 एक लाख की रिश्वत लेते तहसीलदार को रंगे हाथों पकड़ा..

 पन्ना। सागर लोकायुक्त की टीम ने पन्ना जिले के अजयगढ़ में बड़ी ट्रेप कार्रवाई करते हुए तहसीलदार उमेश तिवारी को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ने में सफलता प्राप्त की है। रिश्वत यह रकम शिकायतकर्ता के चाचा के प्लाट पर भवन निर्माण की मंजूरी देने के नाम पर ली जा रही थी।
प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार सुबह अजय गढ़ पहुंची सागर लोकायुक्त की टीम ने नए डीएसपी राजेश खेड़े के नेतृत्व में रेस्ट हाउस के कमरा नंबर तीन में पहुंचकर अजय गढ़ तहसीलदार उमेश तिवारी को एक लाख रुपए की रिश्वत लेते हुए रंगे हाथों पकड़ लिया। रिश्वत की यह रकम शिकायतकर्ता अंकित मिश्रा निवासी वार्ड नं. 14 अजयगढ़ से ली जा रही थी। दरअसल अंकित मिश्रा ने लोकायुक्त सागर को शिकायत की थी कि उसके चाचा के प्लाट पर मकान निर्माण की अनुमति देने के एवज में प्रभारी तहसीलदार द्वारा एक लाख रूपये की मांग की जा रहे है। 
जिसके बाद लोकायुक्त ने अपना जाल बिछाया और आज जैसे ही गेस्ट हाउस के कमरा नंबर 3 में शिकायतकर्ता अंकित मिश्रा ने तहसीलदार उमेश तिवारी को जैसे ही एक लाख रूपये दिए वैसे ही लोकायुक्त पर अपना शिकंजा कस लिया। रिश्वत लेते रंगे हाथों पकड़े गए तहसीलदार के विरुद्ध लोकायुक्त के द्वारा भ्रष्टाचार अधिनियम की विभिन्न धाराओं के तहत कार्यवाही जारी है वही पकड़े गए तहसीलदार अपने आप को निर्दोष बताते साजिश के तहत फसाए जाने की बात कर रहे हैं।

Post a comment

0 Comments