Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

अगस्त के पांचवें दिन भी कोरोना का कहर.. 22 पाजेटिव रिपोर्ट आई.. 12 मरीजो ने जीती कोरोना की जंग.. 15 मरीज होंगे 6 अगस्त को डिस्चार्ज.. इधर सर्वे के बावजूद शहर के अनेक वार्डो में.. 10 दिन बाद भी नही हो सकी संक्रमित मरीजों के परिजनों की सेंपलिंग..

अगस्त के पांचवें दिन आई 22 पाजेटिव रिपोर्ट.. 
दमोह। अगस्त माह के पांचवें दिन भी जिले में कोरोना मरीजों की पॉजिटिव रिपोर्ट काफी संख्या में आने का दौर जारी रहा। आज 22 लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। जिनमें 14 पुरुष और 8 महिला मरीज शामिल है। नए मरीजों में शहरी क्षेत्र के विभिन्न वार्डों के मरीजों के अलावा विभिन्न ग्रामीण क्षेत्रों के मरीज भी शामिल है। इनको मिलाकर जिले में कोविड-19 केसों का टोटल 274 तक पहुंच गया है जबकि स्वास्थ्य होने वाले पेशेंट की संख्या 146 के करीब बताई जा रही है। जबकि मृतक संख्या 4 बताई जा रही है। अभी तक 280 की रिपोर्ट अप्राप्त है। 
बुधवार को कोविड 19 के 22 केस पॉजिटिव आये, इसमें मेल-14 तथा फीमेल-08 मरीज है। फीमेल मरीज 16, 26, 27,28, 30, 60, ,64, 48 वर्ष है। मेल मरीज 08, 13, 16, 17, 22, 29, 31, 37, 39, 43, 47, 50, 55, 72 वर्ष है। इस प्रकार आजाद वार्ड हटा से 01, महुंआखेड़ा से 01, सदगुंवा से 02, जामुनखेड़ा-तेन्दूखेड़ा से 01, सारांगपुर पटेरा से 01,पथरिया से 01, सिविल 09 से 01, गढ़ी मोहल्ला बजरिया 01 से 01 पठानी मोहल्ला वार्ड नंबर 08 हिण्डोरिया से 01, डीएच दमोह से 03, बजरिया वार्ड नंबर 08 से 01, महावीर वार्ड नंबर 02 से 01, सिविल वार्ड नंबर 04 से 03, सिविल वार्ड नंबर 07 से 01, मिशन कम्पाउंड से 02 और नरसिंहगढ़ से 01 मरीज है। 
12 ने जीती कोरोना जंग, 15 आज होगें डिस्चार्ज
दमोह। जिले में कोरोना की जंग जीतने वालों का क्रम भी जारी है। बुधवार को 12 मरीजों को स्वस्थ्य हो जाने पर डिस्चार्ज किया गया। आरएमओ डाँ दिवाकर पटेल ने कहा आज डीसीएससी वार्ड दमोह से 12 कोरोना योद्धाओं को डिस्चार्ज किया गया। कल 06 अगस्त को पॉलीटेक्निक कॉलेज कोविड केयर सेंटर से 15 कोरोना योद्धा डिस्चार्ज किये जायेगें, जिससे जिले मे एक्टिव केस जिस गति से बढे थे उसी गति से कम होगें।
मेडिकल टीम ने  घर-घर पहुंचकर किया सर्वे..
दमोह। कलेक्टर श्री तरूण राठी के निर्देश पर दमोह शहर के पुराना थाना से गढ़ी मोहल्ला का सर्वे मेडिकल टीम व आंगनबाड़ी कार्यकर्त्ताओं एवं सहयोगी दल के सदस्यों द्वारा घर-घर किया जा रहा है। इस संबंध में डॉ. शाहवाज कुरैशी ने जानकारी देते हुए बताया कि टीम ने पुराना थाना से गढ़ी मोहल्ला तक घर-घर पहुंचकर परिवार के सदस्यों का स्वास्थ्य परीक्षण किया 


कोविड-19 के बारे में जानकारी देते हुए सतर्कता बरतनें तथा मास्क उपयोग करने तथा हाथ की सफाई समय-समय पर करने की समझाईश दी गई। साथ ही उन्होंने बताया इस दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. संगीता त्रिवेदी भी क्षेत्र में पहुंचकर दल के सदस्यों को आवश्यक दिशा निर्देश भी दिये।

 अनेक मरीजों के परिजनों की नही हो सकी सेंपलिंग..
इधर जिले की विभिन्न क्षेत्रों में लगातार संक्रमित मरीज मिलने की वजह से जांच सेंपलिंग  व्यवस्था पर भी असर पड़ता नजर आ रहा है। अनेक स्थानों पर हालात यह है कि पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद अनेक मरीज 14 दिन का इलाज करा कर डिस्चार्ज होने की कगार पर आ चुके हैं लेकिन उनके परिवार के लोगों की अभी तक जांच सेंपलिंग करने के लिए स्वास्थ्य विभाग का अमला नहीं पहुंचा है जिस वजह से परिजन काफी चिंतित नजर आ रहे हैं। महावीर वार्ड के कुछ लोगों ने आज इस बारे में जानकारी देते हुए बताया कि कल उनके परिवार के सदस्य स्वास्थ्य का डिस्चार्ज हो रहे हैं जबकि अभी तक उन लोगों की जांच सैंपलिंग नहीं की गई है।संबंधित अधिकारियों से इस तरह के मामले में ध्यान देकर कार्रवाई की अपेक्षा की गई है।

Post a comment

0 Comments