Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

रजपुरा चेक पोस्ट से वापस लौटाए गए तेलंगाना के ट्रक.. गेंहू के 8 ट्रक पकड़े जाने के बाद भी आदत से बाज नहीं आ रहा अनाज माफिया.. एसपी ने गेहूं खरीदी केंद्र व शहर की सीमाओं का निरीक्षण कर किसानोंं से चर्चा की..

रजपुरा चेक पोस्ट से वापस लौटाए तेलंगाना के ट्रक 
दमोह। समर्थन मूल्य पर गेहूं उपार्जन होने के पहले ही किसानों से कम कीमत पर दलालों के जरिए गेहूं खरीदी करने वाले तथाकथित गल्ला व्यापारियो के गेँहू से भरे आठ ट्रक पिछले 10 दिनों में पकड़े जा चुके हैं। इसके बावजूद अनाज तस्करी का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है। बाहरी ट्रकों की जिले में दस्तक के बीच अब तेलंगाना पासिंग के ट्रकों को जिले की बॉर्डर से वापस लौटाये जाने का मामला सामने आया है। 
 देश भर में लॉक डाउन के बीच आवश्यक सामग्रियों के परिवहन फल सब्जी आदि को देश के एक हिस्से से दूसरे हिस्से में पहुंचाने के लिए वाहनों की आवक जावक बिना रोक-टोक के जारी है। जिसका फायदा अनाज तस्करी से जुड़े कुुछ गल्ला व्यापारी खुलकर उठाते नजर आ रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि सब्जी फल को खाली करके लखनऊ कानपुर आदि महानगरों से दक्षिण भारत की ओर खाली लौटने वाले ट्रकों को कटनी की एक ट्रांसपोर्ट लॉजिस्टिक कंपनी के जरिए कांट्रैक्ट करके अनाज को दक्षिण भारत के महानगरों में भिजवाया जाता रहा है। पिछले दिनों ऐसे ही छह ट्रकों को दमोह के 2 धर्म काटों से पकड़ा गया था इसके बाद नोहटा तथा मडियादो थाना पुलिस द्वारा भी एक एक ट्रक पकड़ा गया था।
 यह आठो ट्रक तथा इनमें भरा माल अनेक कोशिशों के बाद भी अनाज माफिया को वापस सुपुर्द नहीं हो सका है। वही कोर्ट भी ऐसे मामले में सख्त से बनी हुई है। इसके बावजूद उत्तर भारत से आने वाले खाली ट्रकों के जरिए गांव देहातों में एकत्रित गरीबों के सस्ते अनाज और किसानों की कम कीमत की उपज को बाहर भिजवाने की फिराक में गला माफिया जुटे हुए हैं शनिवार को ऐसे ही कुछ ट्रकों को रजपुरा थाना क्षेत्र की सीमा से प्रोबेशनर डीएसपी कृष्णपाल सिंह द्वारा वापस लौट आए जाने का घटनाक्रम सामने आया है। 
बताया जा रहा है कि तेलंगाना पांसिग के ट्रक क्रमांक पीएस 07 यूडी 1411 सहित कुछ और ट्रक सिलापरी रजपुरा सादपुर इलाके में बिना अनुमति के प्रवेश कर रहे थे। बिना परमिशन वाले इन ट्रकों के चालक तथा स्टाफ का मेडिकल जारी नहीं होने तथा वर्तमान हालात को ध्यान में रखकर दमोह जिले से वापस कराया गया है। इसके पूर्व भी कर्नाटका पार्किंग के पासिंग के चार ट्रकों को रजपुरा से वापस भेजा गया था जो बाद में दूसरे रास्तों से मडियादो थाना क्षेत्र में पहुंच गए थे। जहां से तीन ट्रक गेहूं का परिवहन करके चोरी छुपे निकल जाने में सफल हो गए थे लेकिन चौथा ट्रक स्थानीय लोगों की जागरूकता से पकड़े जाने के बाद अभी भी मडियादो थाने में खड़ा हुआ है। 
इसी तरह अभाना पेट्रोल पंप से पकड़ा गया गेहूं की 510 बोरियों से भरा ट्रक भी नोहटा थाने में खड़ा हुआ है। जबकि इसके पूर्व दमोह के सागर तथा जबलपुर बाईपास से पकड़े गए गेहूं स भरे 6 ट्रक दमोह मंडी में खड़े हुए हैं। दमोह के चर्चित गल्ला व्यापारी कपिल मलैया, मनोज जैन तथा इनके परिवार जनों के नाम पर संचालित मनोज ट्रेडर्स, विवेक ट्रेडर्स सहित अन्य फर्मों एवं मलहरा की भागीरथ असाटी से जुड़े लोगों का गेहूं बताया जाता रहा है। इन गल्ला व्यापारी और गांव गांव में फैले उनके दलाल धड़ल्ले से किसानों से कम दामों पर गेंहू खरीदने और गरीबो का सस्ता अनाज मिक्स करके दक्षिण भारत की आटा तथा मैदा मिलो में भेजे जाने का सिलसिला लगातार जारी रहने की बात जानकार सूत्र कर रहे हैं।
दमोह तथा हटा मंडी के अधिकारियों से सांठगांठ करके जिले के चर्चित गल्ला व्यापारी किसानों से कम कीमत पर उपज खरीद कर मंडी टैक्स में हेराफेरी कर लॉक डाउन के दौरान पिछले 25 दिनों में 100 से अधिक ट्रक माल दक्षिण भारत, छत्तीसगढ़ और गुजरात भेज चुके हैं। इस बात की पुष्टि सागर तथा जबलपुर बाईपास पर संचालित धर्म कांटा के पिछले 25 दिन के गेहूं के ट्रकों की तुलाई के रिकॉर्ड से की जा सकती है। फिलहाल कोर्ट की सख्ती के चलते पकड़े गए आठों ट्रक तथा इसमें भरा गेंहू संबंधितों के सुर्पुद नहीं हो सका है वही संबंधित अधिकारियों कर्मचारियों की मिलीभगत से अब अनाज माफिया इन ट्रकों को छुड़ाने की दूसरी जुगाड़ बना रहा है। वहीं ट्रकों का संचालन करने वाली कटनी की कंपनी के लोग भी अब इनकों को छुड़वाने के लिए सक्रिय हो गए है। 
एसपी ने गेहूं खरीदी केंद्र का किया निरीक्षण किया
 दमोह लॉक डाउन के दौरान प्रारंभ की गई गेहूं खरीदी में किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो इस हेतु पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने बरपटी स्थित सायलो केंद्र पहुंचकर निरीक्षण किया एवं किसानों से बातचीत कर उनसे उनकी परेशानियों को जाना और इन किसानों को किसी भी प्रकार की कोई परेशानी ना हो इस संबंध में दिशा निर्देश दिए तथा कहां की खरीदी के दौरान पूर्णरूपेण सोशल डिस्टेंस एवं मास्क का उपयोग अवश्य ही सभी करें। 
 उन्होंने इस दौरान अपने सामने कुछ किसानों की उपज का तोल भी कराया। इसके उपरांत पुलिस अधीक्षक हेमंत चौहान ने दमोह नगर की चारों सीमाओं सहित शहर भ्रमण भी किया इस दौरान उन्होंने मारुताल बायपास समन्ना बायपास] सागर नाका पावर ग्रिड के समीप हटा नाका मुक्तिधाम बांदकपुर बाईपास के चैकिंग नाकों का निरीक्षण करते हुए शहर के विभिन्न मार्गों पर भ्रमण करने के उपरांत लॉक डाउन का नागरिकों से पालन करने का अनुरोध किया तथा इन चारों सीमा के चैंकिंग नाकों पर तैनात पुलिसकर्मियों से बातचीत कर उन्हें मुस्तैथदी से अपनी डियूटी करने हेतु निर्देशित किया तथा उनसे उन्हें होने वाली परेशानियों से भी रूबरू हुए। 
इन सभी स्थानों पर तैनात पुलिसकर्मियों उन्होंने बधाई भी दी कि आप इसी प्रकार अपने कर्तव्यों का पालन करें । भ्रमण के दौरान अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विवेक कुमार लाल नगर पुलिस अधीक्षक मुकेश अविद्रा सहित अन्य अधिकारी भी साथ रहे। पिक्चर अभी वाकी है.. अटलराजेंद्र जैन

Post a comment

0 Comments