Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

दमोह में कोरोना जांच के सभी 15 सेंपलों की रिपोर्ट नेगेटिव.. अब ड्रोन कैमरे की निगरानी में रहेगा शहर.. लाक डाउन में निषेधाज्ञा उल्लंघन करने में दमोह वाले अव्वल.. अभी तक 1050 पर हो चुकी है कार्रवाई.. 300 वाहन किए जा चुके है जप्त..

जिला अस्पताल से जांच हेतु गई सभी 15 रिपोर्ट नेगेटिव 
दमोह। कोरोना वायरस के संक्रमण काल में जब पड़ोसी जबलपुर के बाद सागर जिले में भी मरीज मिल चुका है ऐसे में दमोह वालों के लिए यह राहत भरी खबर है। दमोह के जिला अस्पताल से अभी तक जांच के लिए भेजे गए सभी 15 सेंपलों की रिपोर्ट जबलपुर मेडिकल से निगेटिव आई है। वहीं आज एक ओर सेंपल भेजा गया है। जिसकी रिपोर्ट कल रविवार को प्राप्त होगी। 
कोरोना रिपोर्ट के मामले में जिले में एक भी पाजेटिव केस सामने नहीं आने का यह मतलब नहीं है कि महामारी का खतरा अभी टल गया है। अभी भी हम सभी को लाक डाउन के पालन से लेकर सोशल डिसटेंस का पालन करने, घरों मे रहने वाहर आने पर मास्क लगाने, हाथ नहीं मिलाने, कपड़ों के अलावा आसपास की साफ सफाई पर ध्यान देने की लगातार आवश्यकता है। तभी इस जंग में हम दूसरे जिलो से आंगे निकलकर आर्दश प्रस्तुत कर सकेंगे। तथा स्वास्थ्यं, पुलिस, सफाई सहित अन्य सेवाओं में जो लोग दिन रात हम सभी की कोरोना सुरक्षा के लिए कार्य कर रहे है उनकी मेहनत भी तभी सफल साबित हो सकेगी। ध्यान रखे खतरा अभी टला नहीं है लेकिन जीत जाएंगे हम जब सभी जागरूकता के साथ लड़ेंते रहेंगे कोराना की जंग..
अब ड्रोन कैमरे से रखी जाएगी लॉक डाउन पर नजर-
दमोह जिला मुख्यालय पर जारी लाक डाउन के दौरान लोगों की लगातार घरों से बाहर निकलने और पुलिस द्वारा निषेधाज्ञा उल्लंघन की कार्यवाही किए जाने के बाद अब पुलिस ड्रोन कैमरे के जरिए भी घरों से बाहर निकलने तथा सड़को पर घूमने वालों के ऊपर नजर रखते हुए इनकी पहचान करने के बाद धारा 188 के तहत प्रतिबंधात्मक कार्यवाही करेगी। शनिवार रात शहर के घंटा घर पर एडिशनल एसपी विवेक लाल की मौजूदगी में ड्रोन कैमरे का परीक्षण किया गया इस दौरान सीएसपी, आरआई, टी आई सहित अन्य पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।
लाक डाउन में निषेधाज्ञा तोड़ने वाले 1050 पर कार्रवाई
दमोह जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने 23 मार्च से जारी लॉक डाउन के करीब 20 दिनों में निषेधाया का उल्लंघन करने के आठ सौ से अधिक मामले दर्ज किए जा चुके है। वहीं 1050 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। लगभग 300 वाहनों को जप्त कर कार्यवाही की गई है इसके अलावा 450  प्रकरणों में राष्ट्रीय आपदा अधिनियम 2005 के तहत कार्यवाही की जा चुकी है।एसपी हेमंत चैहान के निर्देशन में जिले के शहरी ग्रामीण क्षेत्रों में विभिन्न थाना क्षेत्रों में यह कार्यवाही 14 अप्रैल तक फिलहाल लगातार भी जारी रहेगी। लोगों से निवेदन किया गया है कि अप्रिय स्थति से बचने के लिए घरों में ही रहकर लाक डाउन का पालन करे। खुद भी सुरक्षित रहे तथा दूसरों को भी सुरक्षित रखे।
लाक डाउन के दौरान प्रशासनिक आदेशों के पालन हेतु एसपी हेमंत चैहान द्वारा जिले के समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया है कि जिले की सीमा में किसी भी प्रकार की कोई भी आवाजाही किसी भी हालत में ना हो चाहे कुछ भी हो, यदि किसी भी अनाधिकृत व्यक्ति की आवाजाही की गई तो संबंधितो के विरुद्ध कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने दमोह जिले से लगी हुई जबलपुर, कटनी, सागर ,छतरपुर ,पन्ना, नरसिंहपुर आदि जिलों की सीमाओं को सील कर दिया है तथा चारों ओर से नाका बंदी करते हुए लोगों की आवाजाही पर नियंत्रण किया है। इसके अलावा श्री चैहान ने वन विभाग के अधिकारियों के माध्यम से भी वन क्षेत्र में भी पूर्णरूपेण बेरियल प्रथा लागू करते हुए लोगों की आवाजाही पर रोक लगा दी गई है।
इधर नगर में रक्षित निरीक्षक रविकांत शुक्ला द्वारा लगातार ही वाहनों के साथ समूचे शहर का लगातार भ्रमण किया जा रहा है वहीं शहर में इस मामले में नगर पुलिस अधीक्षक मुकेश अविद्रा, कोतवाली टीआई एचआर पांडे ,देहात थाना पुलिस बल भी लगातार ही इस मामले में जुटा हुआ है। इसके अलावा जिले के समस्त थाना प्रभारी अपने-अपने क्षेत्र में लगातार भ्रमण कर लॉक डाउन को शत-प्रतिशत सफल बनाने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने जिले के समस्त नागरिकों से अपील की है कि हमें अपना जीवन से महत्वपूर्ण कुछ नहीं है इसलिए हम अपने घरों पर ही रहे और जब  बहुत ही अति महत्वपूर्ण कार्य हो तभी घर से निकले अन्यथा घर पर ही रहें और इस संक्रमण  से संघर्ष करने के लिए पुलिस प्रशासन और जिला प्रशासन का सहयोग करें। अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments