Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

लाक डाउन में फालतू निकलने वालों की फजीहत.. एसपी ने भ्रमण करके जाने हालात.. अब 14 अप्रैल तक पूरी तरह से रहेगा लॉक डाउन.. राशन, फल, सब्जी के ठेलो को अनुमति.. आज से किराना रथ, तीन माह का राशन लेने आज अंतिम दिन..

 72 घंटे के बिना छूट के लॉक डाउन का दिखा असर
दमोह। कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिये जारी देश व्यापी 21 दिन के लाक डाउन के बीच प्रदेश की राजधानी भोपाल तथा इंदौर में कोरोना के सबसे अधिक पाजेटिव केस सामने आए है। जिससे कोरोना के निगेटिव रिपोर्ट वाले जिलों को सबसे अधिक एलर्ट रहना आवश्यक हो गया है। वहीं लाक डाउन के शुरूआती दिनों में आवश्यक सामग्री खरीदने के लिए दी जाने वाली तीन घंटे की छूट को भी अब तीन दिन के अंतराल पर कर दिया गया है। 
दमोह जिले में कलेक्टर तरूण राठी के निर्देश पर जारी बिना छूट के 72 घंटे के लाक डाउन के दौरान एसपी हेमंत चैहान के निर्देशन में चप्पे चप्पे पर तैनात पुलिस दिन रात डयूटी करके सफल बना रही है। वहीं जिले के शांति प्रिय नागरिक भी घरों में रहकर समझदारी का परिचय दे रहे है। हालांकि आदत से मजबूर कुछ लोग बेवजह घरों से निकलने से नहीं चूक रहे है। ऐसे लोगों की लगातार धरपकड़ करते हुए पुलिस द्वारा प्रतिबंधात्मक कार्रवाई जारी है। जिससे 188 के तहत कार्यवाही का आंकड़ा 700 को पार कर चुका है। 
बिना छूट के तीन दिन के लाक डाउन के दूसरे दिन गुरूवार को भी तेज धूप व भीषण गर्मी में विभिन्न प्वांइटो पर तैनात पुलिस लगातार एलर्ट रही। वहीं बेवजह फालतू घूमने वालो को पकड़कर कोतवाली भेजने के मामले में भी पुलिस पहले से अधिक सख्त दिखी। इस दौरान एसपी हेमंत चैहान ने नगर भ्रमण करते हुए मैन रोड से प्रमुख चैराहों के हालात देखेे तथा पुलिस की सजगता की सराहना की। उन्होंने राहगीरो को रोककर उनसे बाहर निकलने के संबंध में पूछताछ की और उन्हें घर से बाहर नहीं निकलने की समझाइश दी। वहीं सीएसपी मुकेश अविद्रा द्वारा एसपी को विभिन्न प्वांइटों पर जारी कार्रवाई से अवगत कराया। 
इस दौरान पुलिस अधीक्षक हेमंत चोहान ने जिले के समस्त थाना प्रभारियों को निर्देशित किया है कि वह किसी भी स्थिति में लोगों को घर से बाहर ना निकलने दें। कहीं पर कोई भी व्यक्ति फालतू ना घूमें, यदि कोई व्यक्ति फालतू घूमता हुआ नजर आता है तो उसके विरुद्ध तत्काल ही कार्यवाही की जावे। भ्रमण के दौरान रक्षित निरीक्षक रवि कांत शुक्ला, सीएसपी मुकेश अविद्रा ,कोतवाली टीआई एचआर पांडे आदि भी साथ में थे।
14 अप्रैल तक पूरी तरह से लॉक डाउन में राशन, फल, सब्जी के ठेलो को अनुमति 
दमोह। जिले में आगामी 14 अप्रैल तक पूरी तरह से लॉक डाउन किया जाएगा। राशन, फल, सब्जी के ठेलो को अनुमति रहेगी, फेरी वाले फेरी लगाकर लोगों की जरूरतों को पूरा कर सकेंगे। आज जनप्रतिनिधियों की बैठक आयोजित की गई थी, जिसमें यह निर्णय लिया गया की आगामी 14 अप्रैल तक पूरी तरह से लॉक डाउन किया जाये।  यह नई व्यवस्था है, शहरवासियों से आग्रह किया गया इस व्यवस्था को सुचारू रूप से प्रारंभ होने में कुछ समय लग सकता है, सभी हमें सहयोग करें, यह व्यवस्था हम सब की सुरक्षा के लिए ही है, हम जितना घरों में रहेंगे, उतना हम कोरोना संक्रमण से बच सकेंगे।
कलेक्टर श्री राठी ने कहा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंस जरूरी है। उन्होंने कहा संक्रमित व्यक्ति किसी के संपर्क में आये, उनकों खोजकर क्वारंटीन करना होगा। एक व्यक्ति के संपर्क को खोजपाना भी कठिन होता है। श्री राठी ने कहा इसीलिए घर में रहने से सीमा घर तक ही सीमित हो जायेगी।
इसी अवसर पर पुलिस अधीक्षक हेमंत चैहान ने कहा कल और आज सम्पूर्ण लॉक डाउन सफल रहा। कल 4 थानों का भी निरीक्षण किया है। उन्होंने कहा 144 उल्लंघन के 700 प्रकरण बनाये गये हैं, तथा 150 से अधिक वाहन जप्त किये गये है। उन्होंने कहा पुलिस गांव-गांव संपर्क कर लोगों को जागृत कर रही है। श्री चैहान ने कहा मूवमेंट कम होगा तो यह जनहित में और इसे लोग समझ भी रहे है। उन्होंने कहा लगातार मॉनीटरिंग की जा रही है तथा आने वाले दिन भी ऐसी ही व्यवस्था रहेगी।
बैठक में जिला पंचायत अध्यक्ष शिवचरण पटैल, विधायक राहुल सिंह, विधायक पीएल तंतुवाय, सांसद प्रतिनिधि आलोक गोस्वामी, भाजपा जिलाध्यक्ष देव नारायण श्रीवास्तव, रमन खत्री, पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी, सतीश जैन कल्लन भैया, आशुतोष शर्मा ने भी अपने सुझाव रखें। बैठक में तय किया गया 14 तक लॉक डाउन रहेगा।
 धन्यवाद प्रस्ताव-सराहना के साथ ताली भी बजाइ
बैठक में सभी जनप्रतिनिधियों द्वारा कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए जिला प्रशासन-पुलिस प्रशासन, स्वास्थ्य, महिला बाल विकास, पंचायत विभाग तथा इस अभियान से जुड़े सभी विभागों के अधिकारियों-कर्मचारियों के उत्कृष्ट एवं सराहनीय योगदान के लिए धन्यवाद प्रस्ताव पारित किया गया और सभी के लिए ताली भी बजाकर स्वागत किया गया। सभी जनप्रतिनिधियों ने सभी के कार्यो और योगदान की सराहना की।
खाद्य सामग्री पहुंचाने वार्डो में चलाए जाएंगे रथ-
दमोह। जिला प्रशासन द्वारा कोविड-19 कोरोना वायरस के रोकथाम को लेकर विभिन्न प्रयास लगातार किए जा रहे हैं, इसी उद्देश्य को लेकर कलेक्ट्र कार्यालय के सभाकक्ष में कलेक्टर तरुण राठी के निर्देश पर बैठक अपर कलेक्टर आनंद कोपरिया की अध्यक्षता में आयोजित की गई। 
बैठक में एसडीएम रविंद्र चोकसे, मुख्य नगरपालिका अधिकारी कपिल खरे, खाद्य एवं औषधीय अधिकारी राकेश अहिरवार, नगर पुलिस अधीक्षक मुकेश अविद्रा एवं समस्त व्यापारी जो इस लॉक डाउन के समय होम डिलीवरी करने के लिए पंजीकृत हैं मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर आनंद कोपरिया ने कहा कि होम डिलीवरी के अलावा गरीब तबके के लोग जहां पर खाद्य सामग्री  पहुंच नहीं पाती है,  वहां पर खाद्य सामग्री पहुंचाने के लिये रथ चलाने का निर्णय लिया गया। दो व्यापारियों द्वारा इसमें अपनी स्वीकृति प्रदान कर दी गई है। 

रथ की संख्या आगे बढ़ाई जायेगी ताकि सभी वार्डों में यह सामग्री पहुंच सके। रथ शहर के अलग अलग वार्डो में चलाए जाएंगे, अभी इसकी शुरुआत शहर के दो भागों में आज शुक्रवार को प्रारंभ हो जाएगी।
एसडीएम रविंद्र चोकसे ने कहा कि ऑनलाइन किराना व्यवसाय किराना जारी रखें और लोगों को घर पहुंच सेवा देते रहे। इसके अलावा किराना रथ के माध्यम से भी सामग्री अलग-अलग स्थानों पर पहुंचेगी एवं इसका समय सुबह 9 से दोपहर 3 बजे तक रहेगा। मुख्य नगरपालिका अधिकारी कपिल खरे ने कहा कि अगर जरूरत की चीजें खरीदने के लिए लोगों को घर से निकलने की मंजूरी दी जाती है तो इससे अव्यवस्था बढ़ेगी, इसी को लेकर यह किराना रथ तैयार किए जा रहे हैं और  किराना सामग्री शासन द्वारा जो रेट निर्धारित किए गए हैं उसी  आधार पर विक्रय की जावेगी। रथ अलग-अलग भागों में पहुंचकर लोगों को सामान उपलब्ध कराएंगे।
 तीन माह की खाद्य सामग्री लेने आज अंतिम दिन
दमोह। राज्य शासन द्वारा दिये गये निर्देशों के तहत सार्वजनिक वितरण प्रणाली अंतर्गत पात्र हितग्राहियों को शासकीय उचित मूल्य दुकानों से माह मार्च के साथ-साथ अप्रेल एवं मई 2020 की खाद्य सामग्री का एकमुश्त वितरण कराया जा रहा है । तीन माह की सामग्री का वितरण 10 अप्रैल 2020 तक किया जावेगा । कलेक्टर तरूण राठी द्वारा इस संबंध में जिले के समस्त विक्रेताओं को निर्देश दिये गये है कि सामग्री प्राप्त करने से शेष रहे समस्त उपभोक्ताओं को निर्धारित अवधि में सामग्री का वितरण किया जाना सुनिश्चित किया जाये द्य तीन माह की सामग्री के वितरण पश्चात् अनुविभागीय अधिकारियों द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारियों द्वारा 12 अप्रैल 2020 तक शासकीय उचित मूल्य दुकान में उपलब्ध सामग्री के शेष स्टॉक का सत्यापन कराया जायेगा तथा अनुविभागीय अधिकारियों द्वारा नोडल अधिकारियों से जानकारी संकलित कर खाद्य शाखा दमोह में उपलब्ध कराई जाएगी। जिला आपूर्ति अधिकारी ने माह मार्च अप्रैल व मई 2020 तीन माह की सामग्री प्राप्त करने से शेष रहे उपभोक्ताओं से अपील है कि वे अपनी शासकीय उचित मूल्य दुकान से आज 10 अप्रैल 2020 तक तीन माह की सामग्री प्राप्त कर लें । किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर खाद्य शाखा के कंट्रोल रूम के मोबाईल नंबर 8770548994 पर सूचित किया जाये ।
गैस ऑन लाइन बुक करें, घर पर आपूर्ति होगी-
दमोह। कोरोना वायरस की रोकथाम की दृष्टि से जिले में लॉक डाउन किया गया है। इस दौरान उपभोक्ताओं को गैस रिफिल की सप्लाई यथावत जारी रहेगी। इस संबंध में जिला आपूर्ति अधिकारी ने गैस एजेंसी संचालको से कहा है, गैस कनेक्शनधारी उपभोक्ताओं को निर्धारित दर पर होम डिलीवरी की जायें। उन्होंने उपभोक्ताओं से अपील की है कि आवश्यकतानुसार अपने घरों में रहकर ऑन लाइन गैस बुकिंग करें, ताकि संबंधित गैस एजेंसी संचालक आपके पते पर होम डिलेवरी कर सके। खाद्य आपूर्ति अधिकारी ने यह भी कहा है कि उपभोक्ता को गैस प्राप्त करने से कोई समस्या आ रही है, तो अपने गैस कनेक्शन से संबंधित गैस एजेंसी को दूरभाष या मोबाइल नंबरों पर सूचित किया जा सकता है। साथ ही उन्होंने खाद्य-शाखा के कंट्रोल रूम के मोबाइल नंबर 877054 8994 पर भी कॉल किया जा सकता है।  अजितसिंह राजपूत के साथ अभिजीत जैन की रिपोर्ट

Post a comment

0 Comments