Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

उदयपुर खजुराहो एक्सप्रेस 2 दिसंबर से जबलपुर तक.. टीकमगढ़, छतरपुर को सागर दमोह से जोड़ने वाली प्रथम ट्रैन सप्ताह में 3 दिन चलकर 20 फेरे करेगी पूरे.. सड़क मार्ग से लंबा रास्ता तय करने के बावजूद.. नई गाड़ी का सभी को इंतजार..

खजुराहो जबलपुर एक्सप्रेस 2 दिसं. से सप्ताह में 3 दिन 
   दमोह। बुंदेलखंड के छतरपुर टीकमगढ जिलों को रेल सेवा के जरिए दमोह सागर होकर जबलपुर को जोड़ने की बहुप्रतीक्षित मांग 2 दिसंबर से प्रायोगिक तौर पर पूरी होने जा रही है। उत्तर मध्य रेलवे द्वारा खजुराहो से जबलपुर के लिए सप्ताह में 3 दिन ओवर्नाइट एक्सप्रेस 2 दिसंबर से प्रारंभ की जा रही है। यह स्पेशल ट्रेन फिलहाल 20 फेरे ही लेगी। यदि यात्रियों का अच्छा रिस्पांस मिला आगे बढ़ाया भी जा सकता है।
खजुराहो से यह स्पेशल ट्रेन संख्या 04190 2 दिसम्बर से 15 जनवरी 2020 तक (20 फेरे) चलाई जाएगी। सोमवार, बुधवार व गुरूवार को रात 11 बजे खजुराहो से धुरियागंज, छतरपुर रात 23.40 बजे पहुंचेगी, वहां से इसानगर, खरगापुर, सरकनपुर होते हुए देर रात 1.20 बजे टीकमगढ़ पहुंचेगी। फिर उदयपुरा, ललितपुर, आगासौद, सागर, बीना, कटनी मुड़वारा, सिहोरा होते हुएअगले दिन सुबह 10.45 बजे जबलपुर पहुंचेगी।
 जबलपुर से गाड़ी संख्या 04189 3 दिसम्बर 2019 से 16 जनवरी 2020 तक (20 फेरे)) लेगी। जबलपुर से मंगलवार, गुरूवार व शुक्रवार को रात 8.05 बजे रवाना होकर सिहोरा, कटनी मुड़वारा, दमोह, सागर, आगा सौद, ललितुपर, उदयपुरा होते हुए रात 3.20 बजे टीकमगढ़ पहुंचेगी। यहां से  सरकनपुर, खरगापुर, ईसानगर होते हुए सुबह 5 बजे छतरपुर पहुंचेगी, फिर धुरियागंज होते हुए सुबह 6 बजे खजुराहो स्टेशन पहुंचेगी। 
 उत्तर मध्य रेलवे द्वारा यात्रियों की सुविधा में वृद्धि करते हुए खासकर पर्यटकों की सुविधा को ध्यान में रखकर सप्ताह में 3 दिन चलने वाली उदयपुर खजुराहो ट्रेन के कोच का उपयोग खजुराहो से जबलपुर के बीच प्रायोगिक तौर पर किया जा रहा है। इस गाड़ी में 2 एसएलआर, 4 जनरल कोच, एसी प्रथम श्रेणी 1, स्लीपर कोच 9, एसी 3- 4 व एसी-2 का 1 कोच रहेगे। यदि इस गाड़ी को अच्छी सवारी मिलती है तो बुंदेलखंड वासियों को बिना मांगे खजुराहो होते हुए उदयपुर तक रेल सुविधा हासिल हो जाएगी।
उत्तर मध्य रेलवे द्वारा अपने अधीन रेलवे स्टेशनों पर गाड़ी के संचालन की टाइमिंग 29 नवंबर को जारी कर दी गई है। जबकि पश्चिम मध्य रेलवे द्वारा जबलपुर बीना के बीच के विभिन्न स्टॉपेज वाले स्टेशनों आने जाने की टाइमिंग अभी सामने नही आई है। 
जबलपुर, सागर, दमोह से छतरपुर टीकमगढ़ खजुराहो की सड़क मार्ग से यात्रा करने वालों को इस ट्रेन में यात्रा करने में समय के साथ लंबी दूरी तय करना पड़ेगी क्योंकि ट्रेन मार्ग से जबलपुर से खजुराहो की दूरी 579 किलोमीटर पड़ती है, जबकि सड़क मार्ग से जबलपुर खजुराहो पहुंचने में 300 किलोमीटर, सागर दमोह से खजुराहो पहुंचने में करीब 200 किलोमीटर का रास्ता ही तय करना पड़ता है। इसके बावजूद बुंदेलखंड के 4 जिलों को एक सूत्र में पिरोने वाली इस नई सवारी गाड़ी को यात्रियों का भरपूर समर्थन मिलेगा ऐसी उम्मीद की जा रही है। अटलराजेंद्र जैन

Post a comment

0 Comments