Ticker

6/recent/ticker-posts
1 / 1

आग का तांडव.. खलिहान में भड़की भीषण आग में फसल के साथ ट्रेक्टर और थ्रेसर भी जलकर खाक.. ग्रामीण इलाकों में अग्नि हादसों को रोकने या नियंत्रण के नही कोई इंतजाम..

फसल के साथ ट्रेक्टर और थ्रेसर भी जलकर खाक-
वर्धा। खेतों में पक कर तैयार हुई फसल की कटाई के साथ अग्नि दुर्घटनाओं का कहर लगातार सामने आ रहा है। पिछले कुछ दिनों में खेत खलिहानो में आग भड़कने के दर्जनो मामले सामने आ चुके है। अधिकांश स्थानों पर समय रहते आग पर काबू पाने के साधन नहीं पहुंच पाने से लाखों की फसल जलकर खाक हो चुकी है। 
ताजा घटनाक्रम MP-UP वार्डर पर वर्धा के मऊ गांव में सामने आया है। जहा सोमवार को अग्नि दुर्घटना के कहर के चलते खेत खलिहान में रखी फसल के साथ ट्रैक्टर तथा थ्रेसर के भी आग की चपेट में आ गया। देखते ही देखते आग की लपटों से ट्रैक्टर तथा थ्रेसर पूरी तरह से घिर गए। से लाखों का नुकसान की जानकारी सामने आई है। विद्युत लाइन के शॉर्ट सर्किट के द्वारा निकली चिंगारी से आग लगने तथा तेज हवा के झोंके में आग के भड़क कर विकराल रूप धारण करने की बात कही जा रही है। 
बर्धा के मऊ गांव में हुई इस अग्नि दुर्घटना में राजू पाठक के खेत और खलिहान में रखी फसल तथा  चंद्रमोहन तिवारी का ट्रैक्टर थ्रेसर जलकर खाक हो जाने की जानकारी सामने आई है। ग्रामीण इलाकों में लगातार हो रही इस तरह की अग्नि दुर्घटनाओं को रोकने या नियंत्रण पाने के लिए कोई कार्य योजना या इंतजाम नहीं होने से अन्नदाता के दिन रात की मेहनत पर बज्र घात जैसे हालात निर्मित हो रहे हैं। ऐसे घटनाक्रम सामने आने के बाद भी शासन-प्रशासन का उदासीन रवैया चिंता का विषय बना हुआ है।

Post a comment

0 Comments